Asianet News HindiAsianet News Hindi

Weather Report: कई राज्यों पर दिखेगा कश्मीर घाटी में बर्फबारी-शीतलहर का असर, साउथ इंडिया में बारिश का Alert

 उत्तरभारत; खासकर कश्मीर घाटी में शीतलहर का असर उत्तर भारत सहित कई राज्यों पर दिखाई देने लगा है। सुबह और रात के टेम्परेचर में गिरावट आने लगी है। वहीं, दक्षिण भारत के राज्यों में एक बार फिर बारिश का सिलसिला चल पड़ा है। मौसम विभाग ने 19 से 20 नवंबर के बीच दो दिनों तक कश्मीर घाटी में बारिश की संभावना जताई है।

India weather, cold wave, rain, temperature, air quality and snowfall details  kpa
Author
First Published Nov 17, 2022, 8:26 AM IST

मौसम डेस्क. उत्तरभारत; खासकर कश्मीर घाटी में शीतलहर का असर उत्तर भारत सहित कई राज्यों पर दिखाई देने लगा है। सुबह और रात के टेम्परेचर में गिरावट आने लगी है। वहीं, दक्षिण भारत के राज्यों में एक बार फिर बारिश का सिलसिला चल पड़ा है। मौसम विभाग ने 19 से 20 नवंबर के बीच दो दिनों तक कश्मीर घाटी में बारिश की संभावना जताई है। पहली तस्वीर-शिमला के रिज में बारिश के दौरान टहलते लोग। पढ़िए पूरी डिटेल्स...

India weather, cold wave, rain, temperature, air quality and snowfall details  kpa

(श्रीनगर: श्रीनगर के बाहरी इलाके में कोहरे के मौसम और हल्की बर्फबारी के बीच कुत्ते के साथ चलता एक आदमी)

इन राज्यों में ऐसा रहेगा मौसम
IMD और स्काईमेट वेदर के अनुसार, आजकल में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। दक्षिण केरल और दक्षिण तमिलनाडु में एक या दो मध्यम बारिश के साथ हल्की बारिश हो सकती है। दक्षिण अंडमान सागर और आसपास के इलाकों में समुद्र में ऊंची लहरें उठेंगे। हवा की गति 40 से 50 किमी प्रति घंटे के आसपास हो सकती है। तमिलनाडु और केरल के शेष हिस्सों में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश संभव है। उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में कुछ और गिरावट दर्ज की जा सकती है। दिल्ली में एयर क्वालिटी खराब रहने की आशंका है। ताजा पश्चिमी विक्षोभ(western disturbance) 18 नवंबर से पश्चिमी हिमालय को प्रभावित करेगा।

कश्मीर घाटी में मौसम का हाल
मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को गुलमर्ग के स्की रिसॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने 19 से 20 नवंबर के बीच दो दिनों तक बारिश की संभावना जताई है। उप निदेशक MeT, श्रीनगर केंद्र, मुख्तार अहमद ने बताया कि गुरुवार से शनिवार तक आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और उसके बाद वे इस क्षेत्र में बर्फबारी और बारिश की उम्मीद है। 21 से 23 नवंबर तक कश्मीर घाटी में शुष्क और साफ मौसम रहने की संभावना है। जम्मू क्षेत्र में अगले सप्ताह मौसम शुष्क रहने की संभावना है।
 India weather, cold wave, rain, temperature, air quality and snowfall details  kpa
(पठानमथिट्टा-Pathanamthitta: 16 नवंबर को भारी बारिश के बीच सबरीमाला मंदिर में इंतजार करते भगवान अयप्पा के भक्त )

ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी के बाद हिमाचल में 100 से ज्यादा सड़कें बंद 
शिमला: हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में पिछले तीन दिनों से हो रही बर्फबारी के कारण 100 से अधिक सड़कें बंद हैं। डिजास्टर मैनेजमेंट डिपार्टमेंट के सूत्रों के अनुसार, लाहौल और स्पीति में 90, कुल्लू में छह, रोहतांग दर्रे और जालोरी दर्रे पर राष्ट्रीय राजमार्ग 03 और 305, कुल्लू में चार, कांगड़ा में तीन, चंबा में दो और मंडी में एक सड़क पर ट्रैफिक बाधित हुआ है। ट्राइबल लाहौल और स्पीति जिले के उदयपुर अनुमंडल में टिंडी पांगी मार्ग बुधवार सुबह 70 किमी दूर हुए भूस्खलन के बाद अवरुद्ध हो गया। हालांकि इस घटना में किसी के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। 

ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शीत लहर की स्थिति( Cold wave conditions) बनी हुई है, लाहौल और स्पीति में केलांग राज्य का सबसे ठंडा स्थान है, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 6.9 डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया है। स्थानीय मौसम विज्ञान कार्यालय ने आजकल में क्षेत्र में शुष्क मौसम और 19 नवंबर को हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात की भविष्यवाणी की है।

India weather, cold wave, rain, temperature, air quality and snowfall details  kpa

(श्रीनगर: बारिश के बाद चिनार के पेड़ों से शरद ऋतु की झाइयां बगीचे के एक हिस्से को कवर करती हुईं)

तमिलनाडु में बारिश के आसार
चेन्नई: भारत मौसम विज्ञान विभाग( India Meteorological Department) के अनुसार, बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र( low pressure area) बनने की संभावना है। तमिलनाडु में 20 नवंबर से बारिश शुरू होने का अनुमान है। आईएमडी ने एक बुलेटिन में कहा, एक चक्रवाती परिसंचरण(cyclonic circulation) दक्षिण अंडमान समुद्र और पड़ोस में मध्य क्षोभमंडल स्तरों(middle tropospheric levels) में स्थित है। इसके प्रभाव में आजकल में दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसलिए, 20 नवंबर से तटीय तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। पूर्वोत्तर मानसून (अक्टूबर-दिसंबर) तमिलनाडु और पड़ोसी पुडुचेरी में सक्रिय रहा है। दोनों क्षेत्रों में व्यापक वर्षा देखी गई है।

बीते दिन इन राज्यों में हुई बारिश
स्काईमेट वेदर(skymet weather) के अनुसार, बीते दिन केरल और लक्षद्वीप में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट, तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। उत्तराखंड के गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात हुआ। पंजाब के कुछ हिस्सों, उत्तर पश्चिमी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

यह भी पढ़ें
हेपेटाइटिस सी की दवा से हो सकता है मलेरिया का इलाज, JNU में रिसर्च से पता चला बेहद कारगर है यह मेडिसिन
हिमाचल प्रदेश में आया 4.1 तीव्रता का भूकंप, मंडी, कांगड़ा और आसपास के क्षेत्रों में महसूस हुए झटके

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios