Asianet News Hindi

PM मोदी की यात्रा के बाद बांग्लादेश से बढ़ी नजदीकियां, अब जनरल नरवणे पांच दिवसीय यात्रा पर रवाना

पीएम मोदी की यात्रा के बाद अब भारतीय सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे बांग्लादेश की यात्रा पर गुरुवार को रवाना हुए। सेना प्रमुख की यह पांच दिवसीय यात्रा भारत-बांग्लादेश के बीच रक्षा सहयोग व द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने पर केंदित होगा। प्रवास के दौरान जनरल नरवणे बांग्लादेश की तीनों सेनाओं के प्रमुखों व वहां के विदेश मंत्री से भी वार्ता करेंगे।

Indian Army Chief General Naravane leaves for bangladesh on five days visit DHA
Author
New Delhi, First Published Apr 8, 2021, 4:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पीएम मोदी की यात्रा के बाद अब भारतीय सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे बांग्लादेश की यात्रा पर गुरुवार को रवाना हुए। सेना प्रमुख की यह पांच दिवसीय यात्रा भारत-बांग्लादेश के बीच रक्षा सहयोग व द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने पर केंदित होगा। प्रवास के दौरान जनरल नरवणे बांग्लादेश की तीनों सेनाओं के प्रमुखों व वहां के विदेश मंत्री से भी वार्ता करेंगे। माना जा रहा है कि सेना प्रमुख की यह यात्रा दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सैन्य संबंधों को मजबूत करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम होगा। 

दोनों देश ऐतिहासिक उत्सव मना रहे

सेना प्रमुख नरवणे की यह यात्रा उस समय हो रही है, जब पाकिस्तान से 1971 के युद्ध में जीत पर भारत ‘स्वर्ण जयंती वर्ष’ मना रहा है। उधर, आजादी के 50 वर्ष पूरे होने पर बांग्लादेश में बंगबंधु शेख मुजीबुर्रहमान की जन्म शताब्दी मना रहा।

कई देशों का युद्ध अभ्यास भी चल रहा

बांग्लादेश में 4 अप्रैल से 12 अप्रैल तक कई देशों का संयुक्त सैन्य अभ्यास चल रहा है। इस सैन्य अभ्यास में भारतीय सेना की डोगरा रेजिमेंट भी हिस्सा लेने के लिए बांग्लादेश में मौजूद है। इसमें बांग्लादेशी सेना के साथ-साथ रॉयल भूटान आर्मी और श्रीलंकाई सेना भी भाग ले रही है। पूरे अभ्यास के दौरान अमेरिका, ब्रिटेन, तुर्की, सऊदी अरब, कुवैत और सिंगापुर के सैन्य पर्यवेक्षक भी उपस्थित रहेंगे। 

यूएन पीस मिशन के सैन्य कमांडरों से भी करेंगे मुलाकात

बांग्लादेश पहुंचने पर भारतीय सेना के प्रमुख जनरल नरवणे 12 अप्रैल को माली, दक्षिण सूडान और मध्य अफ्रीकी गणराज्य के संयुक्त राष्ट्र मिशनों के सैन्य कमांडरों और रॉयल भूटानी सेना के उप-मुख्य संचालन अधिकारी के साथ भी बातचीत करेंगे। वे संयुक्त राष्ट्र के शांति समर्थन कार्यों पर आधारित एक सेमिनार में हिस्सा लेंगे और साथ ही ‘चेंजिंग नेचर ऑफ ग्लोबल कॉन्फ्लिक्ट्सः रोल ऑफ यूएन पीसकीपर्स’ पर भी अपने विचार रखेंगे।”

पीएम मोदी ने भी किया था बांग्लादेश दौरा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पिछले माह दो दिवसीय यात्रा पर बांग्लादेश गए थे। वह 26 मार्च को बांग्लादेश के स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए थे। यात्रा के दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता में कई अहम मुद्दों पर समझौते भी हुए हैं। भारत और बांग्लादेश के बीच समुद्री क्षेत्र में मौजूदा रक्षा संबंधों को और मजबूत करने पर जोर देते हुए दोनों देशों के नौसेना अधिकारियों ने भी पिछले माह दिल्ली में तीन दिनों तक चर्चा की है। बीते 25 मार्च को तीन दिवसीय बैठक के समापन पर अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के साथ संयुक्त पेट्रोलिंग और जल सर्वेक्षण के संयुक्त सहयोग प्रयासों से संबंधित मुद्दों पर भी चर्चा की गई है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios