Asianet News Hindi

भारत पर सवाल उठाने वालीं रिहाना की इमरान के मंत्री के साथ फोटो वायरल, लोग बोले- ट्वीट के ISI से मिले पैसे

किसान आंदोलन को लेकर भारत पर सवाल उठाने वालीं पॉप सिंगर रिहाना को लेकर विवाद थम नहीं आ रहा है। अब उनकी कुछ ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें वे इमरान के मंत्री के साथ नजर आ रही हैं। इसके बाद से सोशल मीडिया यूजर्स उनपर लगातार निशाना साध रहे हैं। यूजर्स का आरोप है कि रिहाना ने किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट पाकिस्तान के इशारे पर किया है। 

Indian Twitter calls Rihanna Pakistani spy after her picture with Zulfi Bukhari goes viral KPP
Author
New Delhi, First Published Feb 5, 2021, 5:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. किसान आंदोलन को लेकर भारत पर सवाल उठाने वालीं पॉप सिंगर रिहाना को लेकर विवाद थम नहीं आ रहा है। अब उनकी कुछ ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें वे इमरान के मंत्री के साथ नजर आ रही हैं। इसके बाद से सोशल मीडिया यूजर्स उनपर लगातार निशाना साध रहे हैं। यूजर्स का आरोप है कि रिहाना ने किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट पाकिस्तान के इशारे पर किया है। 

रिहाना की एक फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। इसमें वे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के असिस्टेंट और कैबिनेट मंत्री जुल्फी बुखारी के साथ नजर आ रही हैं। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि यही वजह है कि रिहाना को किसान आंदोलन की चिंता क्यों हो रही है। 


चाइल्ड लेबर को लेकर ऑडिट नहीं कराती रिहाना की कंपनी
इसके अलावा हाल ही में यह जानकारी भी सामने आई है कि रिहाना की कॉस्मेटिक कंपनी फेंटी ब्यूटी कैलिफॉर्निया  चाइल्ड लेबर और ह्यूमन ट्रैफिकिंग को लेकर अपने सप्लायर्स का ऑडिट नहीं करवाती। बल्कि, सप्लायर्स से ही उम्मीद करती है कि वे नियमों का ध्यान रखें। जबकि कैलिफॉर्निया के ट्रांसपेरेंसी इन सप्लाई चेन्स एक्ट के मुताबिक, वहां के बड़े रिटेलर्स और मैन्युफैक्चरर्स को अपने ग्राहकों को बताना पड़ता है कि वे चाइल्ड लेबर और ह्यूमन ट्रैफिकिंग को रोकने के लिए क्या क्या कोशिश कर रहे हैं। 

क्या कहा था रिहाना ने?
मंगलवार को कैरेबियन पॉप स्टार रिहाना ने एक खबर शेयर की थी। इसमें किसान आंदोलन और सिंघु बॉर्डर पर इंटरनेट बंद होने की खबर थी। उन्होंने लिखा, इस बारे में हम बात क्यों नहीं कर रहे हैं? इसके अलावा पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग ने भी किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया था। उनके अलावा कई विदेशी हस्तियां भी किसान आंदोलन का समर्थन कर चुकी हैं। वहीं, इसे लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि इस मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय हस्तियां कुछ भी बोलने से पहले तथ्य जांच लें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios