Asianet News Hindi

प. बंगाल: जेपी नड्डा ने 'परिवर्तन यात्रा' को दिखाई हरी झंडी, बीजेपी का दावा-'TMC इस बार जाएगी'

पश्चिम बंगाल के मालता में जेपी नड्डा ने रोड शो किया। इस दौरान पीएम मोदी के जयकारे तो लगे ही, लेकिन साथ ही पूरा मालता जय श्री राम के नारे से गूंज उठा। भारत माता की जय के साथ ही एक ही नारा, एक ही नाम, जय श्री राम, जय श्री राम...जैसे नारे लगे। अप्रैल-मई में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव से पहले जनसमर्थन जुटाने के लिए रोड शो के दौरान परिवर्तन रथ यात्रा निकाली गई। हालांकि प्रशासन ने रथ यात्रा की अनुमति नहीं दी है। 

JP Nadda to start Rath Yatra after road show in West Bengal kpn
Author
Kolkata, First Published Feb 6, 2021, 9:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के मालता में जेपी नड्डा ने रोड शो किया। इस दौरान पीएम मोदी के जयकारे तो लगे ही, लेकिन साथ ही पूरा मालता जय श्री राम के नारे से गूंज उठा। भारत माता की जय के साथ ही एक ही नारा, एक ही नाम, जय श्री राम, जय श्री राम...जैसे नारे लगे। अप्रैल-मई में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव से पहले जनसमर्थन जुटाने के लिए रोड शो के दौरान परिवर्तन रथ यात्रा निकाली गई। हालांकि प्रशासन ने रथ यात्रा की अनुमति नहीं दी है। 

इस बार टीएमसी का जाना तय- जेपी नड्डा

जेपी नड्डा ने रथ को हरी झंडी दिखाने के बाद कहा कि 'उन्हें पश्चिम बंगाल की जनता का रुख साफ नजर आ रहा है कि परिवर्तन आएगा और कमल खिलेगा। यहां से TMC जाएगी ये तय हो चुका है।' नड्डा ने अपने पश्चिम बंगाल रोड शो में बीजेपी की परिवर्तन यात्रा का आगाज कर दिया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने इसकी शुरुआत की और रथ यात्रा को हरी झंडी दिखाई। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 'बंगाल की संस्कृति को ममता जी नहीं संभाल सकतीं, इसकी सुरक्षा बीजेपी के कार्यकर्ता करेंगे। ममता जिस तरह मेरे नाम के आगे विशेषण लगाती हैं, वो बताता है कि आपने बंगाल की संस्कृति का निरादर किया है।'

 

श्री श्री गौरांग महाप्रभु आश्रम में जेपी नड्डा ने की पूजा अर्चना

रोड शो के दौरान जेपी नड्डा को पश्चिम बंगाल के नवद्वीप के श्री श्री गौरांग महाप्रभु आश्रम में पूजा-अर्चना करने का मौका मिला। 

 

ममता पर योजनाओं का नाम बदलने का जेपी नड्डा ने लगाया आरोप

जेपी नड्डा ने कहा कि 'केंद्र सरकार ने 1 हजार करोड़ रुपए बंगाल की महिलाओं को दिए हैं। ममता जी ने स्वच्छ भारत योजना का नाम बदल दिया। सड़क ग्रामीण योजना का नाम बदल दिया। आवास योजना का नाम बदल दिया। काम मोदी का और नाम ममता का। ममता जी नाम बदलने से कुछ नहीं होगा, जिस किसी ने ममता जी का नाम लिया, उसे जेल में डाल दिया गया।'

मालदा में जेपी नड्डा ने क्या कहा?

जेपी नड्डा ने कहा, बंगाल में ममता दीदी ने किसानों के साथ बहुत बड़ा अन्याय किया है। PM ने किसान सम्मान निधि के तहत एक साल में 6,000 रुपए किसानों के सम्मान के लिए देने का फैसला किया था। लेकिन ममता दीदी ने अपनी जिद के कारण इसे बंगाल में लागू नहीं होने दिया। आज जब बंगाल के करीब 25 लाख किसानों ने केंद्र सरकार को पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए अर्जी भेजी, तो ममता जी कहती हैं कि मैं भी योजना लागू करूंगी। ममता जी अब चुनाव आ गए हैं। अब पछताए होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत।

जय श्री राम’ से ममता की नाराजगी क्यों- जेपी नड्डा

जेपी नड्डा ने मालदा दौरे पर कहा कि 'अब तो बंगाल में जय श्रीराम के नारे लग रहे हैं। उन्हें इन नारों पर गुस्सा क्यों आता है? किसानों की सेवा होती तो ममताजी ये दिन नहीं देखने पड़ते। बंगाल विकास में 24वं स्थान पर खड़ा है। सिंचाई की व्यवस्था नहीं है, अनाज के स्टोरेज की व्यवस्था नहीं है। मेरा आपसे निवेदन है कि ममता जी को टाटा करें। बंगाल की जनता ने उन्हें नमस्ते करने का मन बना लिया है।'

लोगों से किया ये सवाल

नड्डा ने इस दौरान जनता से सवाल किया कि 'टोल चोरी कौन कर रहा है, लोगों ने कहा-तृणमूल।' नड्डा ने ये भी कहा कि 'ये मैं नहीं कह रहा, आप ही लोग कह रहे हैं। बंगाल के किसानों को फायदे के लिए महाराष्ट्र तक ट्रेन दे रहे हैं। आप बंगाल में कमल खिलाइए, उसके बाद बंगाल का जबरदस्त विकास होगा।'

श्री राम के नारे से भड़कीं थीं ममता

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच से नाराज हो गईं थीं। उन्होंने भाषण तक नहीं दिया। दरअसल, ममता जय श्री राम के नारे सुनकर नाराज हो गई थीं। इसके बाद ममता ने कहा था, यह राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। यह केंद्र सरकार का कार्यक्रम है। किसी को निमंत्रण देकर बेइज्जत करना अच्छी बात नहीं है। मैं अब कुछ नहीं बोलूंगी। जय भारत, जय बांग्ला। 

शुक्रवार को पहुंचे थे जेपी नड्डा

पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने नड्डा का हवाई अड्डे पर स्वागत किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,15 वीं सदी के संत चैतन्य महाप्रभु की जन्मस्थली नदिया जिले के नबद्वीप से शनिवार को जे पी नड्डा परिवर्तन यात्रा शुरू करेंगे।  

 

जेपी नड्डा दोपहर में रथ यात्रा का शुभारंभ करेंगे। भाजपा के कई वरिष्ठ नेता इस अभियान से जुड़ने के लिए पश्चिम बंगाल पहुंचेंगे। पार्टी का इरादा 6 फरवरी से 11 फरवरी के बीच बीरभूम में कूचबिहार, दक्षिण 24 परगना, झारग्राम और तारापीठ में इसी तरह की यात्रा को शुरू करने का है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी इस महीने के अंत में पांच में से दो यात्राओं का उद्घाटन करेंगे। नड्डा पहली बार मालदा में एक रोड शो और जिले में दो अन्य कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए जाएंगे।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios