Asianet News HindiAsianet News Hindi

Man Vs Wild: बेयर ग्रिल्स ने बताया- शाकाहारी होने के चलते किस तरह मोदी ने जंगलों में किया गुजारा

12 अगस्त को रात 9 बजे डिस्कवरी चैनल पर 'मैन वर्सेज वाइल्ड' (Man Vs Wild) के स्पेशल एपिसोड का प्रसारण होगा। इसमें कार्यक्रम के होस्ट बेयर ग्रिल्स भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नजर आएंगे। प्रसारण से पहले बेयर ग्रिल्स ने मोदी को लेकर कई खुलासे किए हैं।

Man Vs Wild, PM Modi was calm in crisis, says Bear Grylls
Author
New Delhi, First Published Aug 10, 2019, 3:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. 12 अगस्त को रात 9 बजे डिस्कवरी चैनल पर 'मैन वर्सेज वाइल्ड' (Man Vs Wild) के स्पेशल एपिसोड का प्रसारण होगा। इसमें कार्यक्रम के होस्ट बेयर ग्रिल्स भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नजर आएंगे। प्रसारण से पहले बेयर ग्रिल्स ने मोदी को लेकर कई खुलासे किए हैं। इस खास कार्यक्रम की शूटिंग उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में हुई है। ग्रिल्स इससे पहले अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ 2016 में अलास्का की यात्रा कर चुके हैं।

न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में ग्रिल्स ने बताया कि यह प्रशंसा करने योग्य है कि कैसे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और नरेंद्र मोदी जैसे इतने शक्तिशाली इंसान पर्यावरण की रक्षा के लिए खड़े हैं। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी संकट के वक्त भी शांत और प्रसन्न मुद्रा में थे। विपरीत परिस्थिति और खराब मौसम में उन्होंने बहादुरी से उसका सामना किया।


'जंगल में हम सभी बराबर हैं'
उन्होंने बताया, ''हम सोचते हैं और यह देखते हैं कि राजनेता स्मार्ट सूट में रहते हैं। लेकिन, जंगल में हम सभी एक बराबर हो जाते हैं, क्योंकि यहां कोई ये चिंता नहीं करता कि आप कौन हैं? जब हम जंगल में थे, उस वक्त बड़े पत्थरों और बारिश का सामना करना पड़ा। पूरी यात्रा के दौरान हमने यह देखा कि प्रधानमंत्री बिल्कुल शांत थे। यह देखना मेरे लिए काफी खुशी का क्षण था। जब तक संकट सामने नहीं आता, आप किसी के बारे में वास्तविक तौर पर नहीं जान सकते हैं?''

मुसीबत में भी पीएम के चेहरे पर मुस्कुराहट बनी रही
ग्रिल्स के मुताबिक, ''कॉर्बेट में खासी परेशानियों के बीच भी मोदी के चेहरे पर मुस्कुराहट बनी रही। उन्हें देखकर लग रहा था कि वे किसी परेशानी में हैं ही नहीं। यही बात उन्हें वर्ल्ड लीडर बनाती है।''

उन्होंने बताया,  ''मोदी काफी विनम्र हैं। बारिश के दौरान जब उनकी सीक्रेट सर्विस के लोगों ने छाता लगाने की कोशिश की, तो मोदी ने मना कर दिया। उन्होंने कहा कि इसकी कोई जरूरत नहीं है। मैं ठीक हूं। हमने लकड़ियों और तिरपाल से बनी राफ्ट से नदी पार की। इस पर अफसरों ने कहा कि प्रधानमंत्री इससे नदी पार नहीं कर सकते। इस पर मोदी ने कहा कि मुझे ऐसा करने में कोई दिक्कत नहीं है।"

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios