Asianet News HindiAsianet News Hindi

India-Myanmar Border मणिपुर में 250 किलो IED बरामद, विस्फोटक से बड़ी घटना को देना था अंजाम

भारत मणिपुर में म्यांमार के साथ 398 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा (International Border) साझा करता है। मणिपुर का मोरेह शहर (Moreh City), राज्य का सीमावर्ती इलाका है। यह भारत-म्यांमार (India-Myanmar) को जोड़ने का भी काम करता है।

Manipur Myanmar Border 250 kilogram explosive IED recovered by Assam Rifles
Author
Guwahati, First Published Nov 8, 2021, 11:04 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुवाहाटी। पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर (Manipur) के एक क्षेत्र में 250 किलोग्राम से अधिक वजन का विस्फोट (explosive) बरामद हुआ है। यह बरामदगी राज्य के म्यांमार सीमा (Myanmar) से लगे इलाके में हुई है। इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद होने से राज्य के संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अगले साल मणिपुर में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में चुनावी के दौरान हिंसा को जोड़कर भी सुरक्षा एजेंसियां देख रही हैं। 

दरअसल, मणिपुर का मोरेह शहर (Moreh City), राज्य का सीमावर्ती इलाका है। यह भारत-म्यांमार (India-Myanmar) को जोड़ने का भी काम करता है। हालांकि, भारत मणिपुर में म्यांमार के साथ 398 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा (International Border) साझा करता है।

बरामद विस्फोटक आईईडी

असम राइफल्स (Assam Rifles) के सैनिकों ने मोरेह शहर में ही करीब 250 किलोग्राम विस्फोटक बरामद किया है। बरामद विस्फोटक आईईडी (IED) बताया जा रहा है। 

43वीं असम राइफल्स ने एक बयान में कहा कि मोरेह से लगभग एक चौथाई टन विभिन्न आकार के आईईडी बरामद किए गए हैं। असम राइफल्स ने कहा कि 197 आईईडी 250 से 500 ग्राम के बीच हैं, 33 आईईडी 3 किलो के हैं, जबकि चार आईईडी 4 किलो के हैं और 9 आईईडी 5 किलो के हैं।

असम राइफल्स ने बयान में कहा, "विस्फोटकों को जोड़ने के लिए अक्सर इस्तेमाल किया जाने वाला एक कोर्टेक्स तार और इसे चार्ज करने के लिए 12 वोल्ट की दो बैटरी बरामद की है। सीमा पर गश्त करते हुए, सैनिकों ने घने पत्ते में छिपे हुए छिपे हुए बक्से का पता लगाया। बरामद विस्फोटक को आगे की कार्रवाई के लिए मोरेह पुलिस को सौंप दिया गया है।"

चुनाव में हिंसा के लिए योजना का अंदेशा

सूत्रों ने कहा कि विस्फोटकों की बरामदगी अगले साल मणिपुर में चुनाव के दौरान आतंकी हमलों की योजना का संकेत दे सकती है। इससे पहले, राज्य सरकार ने लाइसेंसधारी बंदूकधारियों को चुनाव से पहले अपने हथियार जमा करने को कहा था। मणिपुर विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल फरवरी में खत्म होगा।

इसे भी पढ़ें:

Uphaar Fire Tragedy: सुशील व गोपाल अंसल को दिल्ली कोर्ट ने सात साल की सजा सुनाई, सवा दो-दो करोड़ का आर्थिक दंड भी लगा

Parliament Winter Session: 29 नवम्बर से 23 दिसंबर तक संसद चलाने की सिफारिश, सरकार के लिए कई मुद्दे फिर बनेंगे चुनौती

President Xi Jinping: आजीवन राष्ट्रपति बने रहेंगे शी, जानिए माओ के बाद सबसे शक्तिशाली कोर लीडर की कहानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios