Asianet News HindiAsianet News Hindi

मन की बात: बापू के जन्मदिन पर खादी के प्रोत्साहन की अपील, कहा: जहां हों खादी, हैंडीक्राफ्ट से करे खरीदारी

ट्विटर पर पीएम मोदी ने MyGov पोर्टल का लिंक साझा किया था और लिखा था, "इस महीने के #MannKiBaat के लिए कई दिलचस्प इनपुट मिल रहे हैं, जो 26 तारीख को होगा। NaMo ऐप, MyGov पर अपने आइडिया साझा करते रहें या 1800-11-7800 पर संदेश रिकार्ड भी कर सकते हैं।

Mann ki Baat 81st edition: PM Modi will address the nation in his monthly programme
Author
New Delhi, First Published Sep 26, 2021, 9:47 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पीएम मोदी (PM Modi) रविवार को मन की बात (Mann ki Baat) में देश को संबोधित किया। यूएस यात्रा और संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 76 वें सत्र के संबोधन के बाद यह उनकी पहली मन की बात थी। वर्ल्ड रिवर डे पर पीएम अपने संबोधन में नदियों और जल संरक्षण पर बात की तो बापू की जयंती पर स्वच्छता और खादी पर बातचीत की है। उन्होंने लालबहादुर शास्त्री और दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर भी अलग-अलग संकल्प लेने की अपील करते हुए आत्मनिर्भर भारत का खाका खींचा। 

नदियों और जलसंरक्षण पर बात शुरू करते हुए पीएम मोदी ने नदियों की सफाई को छठ पूजा से जोड़कर कहा कि हम उम्मीद कर रहे हैं कि नदियों के घाटों की सफाई शुरू हो चुकी है। पीएम मोदी ने कहा कि छोटे-छोटे प्रयासों से कैसे बड़े-बड़े परिवर्तन किए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि जैसा कि आज हम विश्व नदी दिवस मनाते हैं, मैं देश भर के लोगों से वर्ष में कम से कम एक बार 'नदी उत्सव' मनाने का आग्रह करता हूं। 
पीएम मोदी ने कहा कि भारत के पश्चिमी भागों में, विशेष रूप से गुजरात और राजस्थान में, पानी की कमी है और सूखे का सामना करना पड़ता है। गुजरात में, बारिश के मौसम की शुरुआत में लोग 'जल-जिलानी एकादशी' मनाते हैं, यह वैसा ही है जैसा हम आज 'कैच द रेन' कहते हैं।

पीएम मोदी ने तमिलनाडु की सूख चुकी नागा नदी को कैसे महिलाओं ने पुनर्जीवित किया, इस बारे में बताया। पीएम मोदी ने नर्मदा नदी और साबरमती नदी की कहानी भी बताई। उन्होंने बताया कि बापू के आश्रम के पास से बहने वाली साबरमती नदी सूख चुकी थी लेकिन नर्मदा और साबरमती को जोड़ने के बाद वह निर्मल और अविरल हो चुकी है। 

पीएम ने नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर भी बात की। पीएम ने अपने मिले गिफ्ट की ई-नीलामी की बात करते हुए कहा कि देश के लोग इसमें भाग लें, गिफ्ट की नीलामी से मिलने वाले धन को नमामि गंगे प्रोजेक्ट को दिया जाएगा।

पीएम मोदी ने स्वच्छता पर बात करते हुए कहा कि यह पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाली प्रक्रिया है जो समाज में बदलाव लाता है। यह हमारी आदतों में शामिल होगा। हम स्वच्छता को अपने जीवन में उतार बापू को सच्ची श्रद्धांजलि दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि बापू (महात्मा गांधी) स्वच्छता के अग्रदूत थे, उन्होंने स्वच्छता को एक जन आंदोलन बनाया और इसे स्वतंत्रता के सपने से जोड़ा।

पीएम मोदी ने स्वच्छता पर बात करते हुए गुजरात के रमेश पटेल का जिक्र किया जिन्होंने स्वच्छता के साथ साथ आर्थिक स्वच्छता का भी जिक्र किया। पीएम ने उनकी बातों से सहमति जताते हुए डिजिटल पेमेंट से कैसे आर्थिक स्वच्छता हासिल की जा सकती है उस पर चर्चा की है। 

पीएम मोदी ने कहा कि खादी को बापू की जयंती पर प्रोत्साहन देते हुए आप जहां भी हों वहां खादी के सामानों को खरीदें, हैंडीक्राफ्ट या हैंडलूम में जाकर खरीदकर एक रिकार्ड बनाएं। 

पीएम मोदी ने सियाचीन ग्लेशियर पर दिव्यांग जन की एक टीम के फतह की कहानी का जिक्र करते हुए उनकी तारीफ की है। इसी के साथ यूपी के बरेली में दिव्यांग बच्चों के एडमिशन के लिए शिक्षिका दीपमाला पांडेय के प्रयासों का भी उन्होंने जिक्र करते हुए उनकी तारीफ की।

पीएम मोदी ने झारखंड के दीबरी गांव में महिलाओं द्वारा मेडिसिनल पौधों की खेती के बारे में बताया कि कैसे यह गांव एलोवेरा की खेती के लिए महिला किसान मंजू कश्यप की अगुवाई में तरक्की कर रहा है।

पीएम मोदी ने बच्चों में मेडिसिनल और हर्बल प्लांट के प्रति बच्चों में रूचि पैदा करने के लिए कॉमिक कैरेक्टर प्रोफेसर आयुष्मान के बारे में भी विस्तार से जिक्र किया।

खेती से आत्मनिर्भर की कहानी सुनाते हुए पुलवामा के बिलाल अहमद शेख और मुनीर अहमद शेख की कहानी सुनाई। पीएम ने बताया कि वह कैसे अपने स्टार्टअप से बेहतर कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इन भाइयों की वर्मी कंपोस्ट यूनिट में पंद्रह लोगों को नौकरी भी दिए हैं।

पीएम मोदी ने दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर शुरू हुए आयुष्मान हेल्थ कार्ड का जिक्र किया। उन्हाेंने बताया कि करीब दो-सवा दो करोड़ गरीबों को आयुष्मान कार्ड से पांच लाख रुपये तक का इलाज करा चुके हैं। उन्होंने दीनदयाल जी के समाज के लिए फर्ज और युवा पीढ़ी को समाज के लिए काम करने के लिए प्रेरित करने का संकल्प लेने का भी आह्वान किया।

पीएम मोदी ने कोरोना से लड़ाई के लिए सतर्क रहने, वैक्सीनेशन पर ध्यान देने की अपील करते हुए कहा कि खुद तो वैक्सीन लगवानी ही है, अपने आसपास के लोगों को भी वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करना है।

 

इस महीने की शुरुआत में, प्रधान मंत्री ने इस महीने के 26 सितंबर को होने वाले "मन की बात" के लिए इनपुट आमंत्रित किए थे। ट्विटर पर पीएम मोदी ने MyGov पोर्टल का लिंक साझा किया था और लिखा था, "इस महीने के #MannKiBaat के लिए कई दिलचस्प इनपुट मिल रहे हैं, जो 26 तारीख को होगा। NaMo ऐप, MyGov पर अपने आइडिया साझा करते रहें या 1800-11-7800 पर संदेश रिकार्ड भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: 

लद्दाख को तोहफा: कारगिल के हैम्बोटिंग ला क्षेत्रों में दूरदर्शन व रेडियो की हाई पॉवर ट्रांसमीटर लांच

ओडिशा और आंध्र में आज 'गुलाब' चक्रवात के गुजरने की आशंका, कई क्षेत्रों के लिए हाई अलर्ट जारी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios