Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के सिर पर NIA ने रखा 25 लाख का इनाम, छोटा शकील की खबर देने पर मिलेंगे 20 लाख

एनआईए ने गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम पर 25 लाख रुपए का इनाम रखा है। इसके साथ ही जांच एजेंसी ने उसके करीबी सहयोगी छोटा शकील पर 20 लाख रुपए का इनाम रखा है। दाऊद 1993 में हुए मुंबई सीरियल ब्लास्ट केस में मुख्य आरोपी है। 

NIA announces Rs 25 lakh reward on fugitive gangster Dawood Ibrahim vva
Author
First Published Sep 1, 2022, 11:49 AM IST

मुंबई। एनआईए (National Investigation Agency) ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के सिर पर 25 लाख रुपए का इनाम रखा है। अगर कोई व्यक्ति दाऊद के बारे में सूचना देता है, जिससे उसकी गिरफ्तारी होती है तो उसे 25 लाख रुपए दिए जाएंगे। दाऊद 1993 में हुए मुंबई सीरियल ब्लास्ट केस में मुख्य आरोपी है। 

एनआईए ने दाऊद इब्राहिम के करीबी छोटा शकील पर 20 लाख, हाजी अनीस उर्फ अनीस इब्राहिम शेख, जावेद पटेल उर्फ जावेद चिकना और इब्राहिम मुश्ताक अब्दुल रज्जाक मेमन उर्फ टाइगर पर 15-15 लाख रुपए का नकद इनाम रखा है। ये सभी 1993 के मुंबई सीरियल बम धमाकों के मामले में वांछित आरोपी हैं। एजेंसी ने फरवरी में 'डी कंपनी' के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

वैश्विक आतंकवादी है दाऊद इब्राहिम 
एनआईए ने एक बयान में कहा कि दाऊद इब्राहिम कास्कर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी नामित किया गया है। वह एक अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी नेटवर्क चलाता है। इसका नाम डी-कंपनी है। डी-कंपनी में अनीस इब्राहिम शेख, छोटा शकील, जावेद चिकना और टाइगर मेमन जैसे दाऊद के करीबी सहयोगी शामिल हैं। 

आतंकवादी गतिविधियों में शामिल है डी-कंपनी  
डी-कंपनी विभिन्न आतंकवादी और आपराधिक गतिविधियों में शामिल है। इस गिरोह से जुड़े लोग हथियारों की तस्करी, ड्रग्स स्मगलिंग, अंडरवर्ल्ड आपराधिक सिंडिकेट, मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकी फंड जुटाने के लिए अवैध कब्जे जैसे काम करते हैं। यह संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और अल कायदा जैसे अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों के लिए भी काम करता है।

यह भी पढ़ें- भारत में रोज बच्चों के खिलाफ 409 अपराध, सेक्युअल क्राइम्स भी बढ़े, NCRB की रिपोर्ट का सनसनीखेज खुलासा

कराची में छिपा बैठा है दाऊद 
गौरतलब है कि दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान के कराची में छिपा बैठा है। वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ काम कर रहा है। आईएसआई की मदद से उसने भारत के खिलाफ कई आतंकी हमले किए हैं। 2003 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उसपर 25 मिलियन डॉलर का इनाम रखा था। वह लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मौलाना मसूद अजहर, हिजबुल मुजाहिद्दीन के संस्थापक सैयद सलाउद्दीन और उसके करीबी अब्दुल रउफ असगर के साथ भारत के मोस्ट वांटेड लोगों में शामिल है।

यह भी पढ़ें- कर्नाटक: चुनाव से पहले बड़ा तोहफा, शुक्रवार को PM करेंगे 3800 करोड़ की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios