Asianet News HindiAsianet News Hindi

Pulwama attack 19: एक और गुनहगार 'लंबू' एनकाउंटर में ढेर, तालिबान से भी जुड़ा रहा है ये

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के सफाए के लिए चलाए जा रहे ऑपरेशन क्लीन के तहत सुरक्षाबलों को एक बड़ी सफलता मिली है। 2019 में हुए पुलवामा अटैक का एक और गुनाहगार अबू सैफुल्ला उर्फ लंबू मारा गया है।

Operation Clean against terrorism in Jammu and Kashmir kpa
Author
New Delhi, First Published Jul 31, 2021, 8:18 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जम्मू-कश्मीर. पुलवामा के नागबेरन-तरसर वन क्षेत्र में शनिवार हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने दो आतंकवादी मार गिराए। इनमें एक 14 फरवरी, 2019 को हुए पुलवामा अटैक सहित अन्य आतंकी हमलों में शामिल अबू सैफुल्ला भी शामिल है। इसे अदनान, इस्माइल और लंबू के नाम से भी पहचाना जाता था। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा यह आतंकी 2017 से घाटी में सक्रिय था। यह जैश के संस्थापक मौलाना मसूद अजहर का करीबी रिश्तेदार था। करीब साढ़े छह फीट हाइट होने की वजह से इसे लंबू पुकारा जाने लगा था।

तालिबान से जुड़ा रहा लंबू
पुलिस अधिकारी विजय कुमार ने बताया कि लंबू पाकिस्तान समर्थक मौलाना अजहर का एक बड़ा सहयोगी था। लंबू वाहन से चलने वाले आईईडी(विस्फोटक) का स्पेशलिस्ट था। इसका इस्तेमाल तालिबान अकसर अफगानिस्तान में इस्तेमाल करता है। इसी का इस्तेमाल पुलवामा अटैक में किया गया था। लंबू तालिबान से भी जुड़ा रहा। मारे गए दूसरे आतंकी की अभी पहचान नहीं हो पाई है। सुरक्षाबलों को इनके पास से एक एम-4 राइफल, एके-47 और 2 पिस्टल बरामद हुई हैं।

आतंकवादियों के मददगारों के घर पर भी भी छापे मारे
कश्मीर जोन पुलिस के अनुसार सुरक्षाबलों ने गिरफ्तार आतंकवादी अहमद के शरतपोर और शोपियां स्थित घर के अलावा 8 जगहों पर छापामारी भी की। आतंकवादी को पिछले साल जम्मू में पकड़ा गया था।

पंजाब में बॉर्डर पर दो घुसपैठिये मारे गए
इधर, पंजाब के फिरोजपुर बॉर्डर पर शुक्रवार रात करीब 9 बजे बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स(BSF) ने पाकिस्तान के दो घुसपैठियों को मार गिराया। इसकी जानकारी शनिवार दी गई। बता दें कि पिछले दिनों से बॉर्डर पर ड्रोन की संदिग्ध गतिविधियां बढ़ने के बाद से सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

जम्मू-कश्मीर में एक साल में 87 आतंकवादी मारे गए
इससे पहले बांदीपोरा के सुंबलर में सुरक्षाबलों ने 2 आतंकवादियों को मार गिराया था। पिछले एक साल में पुलवामा में शनिवार को मारे गए इन दोनों को मिलाकर 87 आतंकवादी मारे गए हैं। बांदीपोरा से पहले बारामूला जिले सोपोर में लश्कर के दो आतंकवादियों को मार गिराया गया था। कश्मीर पुलिस प्रमुख(IGP) विजय कुमार के मुताबिक, इनमें लश्कर का शीर्ष आतंकवादी कमांडर फयाज वार भी शामिल था। 

इससे पहले शोपियां में मारे गए थे 2 आतंकवादी
बारामूला से पहले सुरक्षाबलों ने शोपियां जिले में हुए एनकाउंटर में लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर अशफाक डार उर्फ अबू अकरम मारा सहित एक अन्य आतंकवादी को मार गिराया था। अबू 2017 से घाटी में सक्रिय था।

यह भी पढ़ें
अमेरिकी मैगजीन का खुलासा: दानिश को मस्जिद खींचकर गोलियों से छलनी किया गया था; पहले टॉर्चर भी किया
#AssamMizoramBorder: खूनी संघर्ष के चीन की साजिश! twitter पर वायरल किए नफरत वाले पेड कैम्पेन
जब समुद्र में दुश्मनों ने केन्या की सेना को घेर लिया; INS तलवार के कमांडो ने छुड़ा दिए सबके छक्के

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios