Asianet News HindiAsianet News Hindi

PM Modi लगाएंगे 40 जिलों के DM की क्लास, देंगे Covid-19 वैक्सीनेशन ड्राइव तेज करने का मंत्र

भारत अगले साल के अंत तक दुनिया को महामारी के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए 5 अरब से अधिक कोविड वैक्सीन डोज का उत्पादन करने के लिए तैयार है।

PM Modi review meeting with 40 districts District Magistrates on Covid 19 low vaccination coverage
Author
New Delhi, First Published Nov 2, 2021, 7:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पीएम मोदी बुधवार को COVID-19 वैक्सीन कम कवरेज (vaccine coverage) वाले जिलों की रिव्यू मीटिंग (review meeting) करेंगे। अभी देश में कुछ दिनों पूर्व ही 100 करोड़ वैक्सीनेशन (100 crore vaccination) का लक्ष्य पूरा हुआ है। लेकिन देश के दर्जनों जिलों में वैक्सीनेशन अभियान बेहद कम हैं। कई जिलों में यह आंकड़ा पचास प्रतिशत से भी कम है। 

पचास प्रतिशत से कम कवरेज वाले जिलों की होगी समीक्षा

पीएमओ (PMO) ने बताया कि मीटिंग में वह जिले शामिल होंगे जहां पहली डोज के 50 प्रतिशत से कम कवरेज हुए हैं। साथ ही उन जिलों को भी रखा गया है जहां दूसरी डोज भी बेहद कम लगे हैं। 

40 से अधिक जिलों के डीएम से करेंगे पीएम मोदी बात

कम वैक्सीनेशन वाले पूरे देश में 40 से अधिक जिले हैं। पीएम मोदी अपने रिव्यू मीटिंग में झारखंड, मणिपुर, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, मेघालय और अन्य राज्यों के 40 से अधिक जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे। इस बातचीत के दौरान संबंधित राज्यों के सीएम भी मौजूद रहेंगे। 

32 प्रतिशत वयस्कों को दोनों डोज

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि देश के लगभग 94 करोड़ वयस्कों में से 32 प्रतिशत से अधिक वयस्कों को दोनों खुराक दी गई है। भारत अगले साल के अंत तक दुनिया को महामारी के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए 5 अरब से अधिक कोविड वैक्सीन डोज का उत्पादन करने के लिए तैयार है।

देश के 48 जिलों में फोकस

एक रिपोर्ट के अनुसार देश के 48 जिले ऐसे हैं, जहां 18 साल या इससे अधिक उम्र के 50 फीसदी से कम आबादी को कोविड वैक्सीन लग पाया है। अब हर पर स्वास्थ्यकर्मी पहुंचेंगे और वैक्सीन लगाएंगे। 'हर घर दस्तक' (Door step Vaccination) मुहिम के तहत स्वास्थ्यकर्मी घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन लगाएंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने अभियान में दूसरे डोज से वंचित लोगों के साथ ही अबतक एक भी डोज नहीं लगवाने वालों को भी वैक्सीन दिया जाएगा। उन जिलों को फोकस किया जाएगा जहां 50 फीसदी से कम वैक्सीन लग सके हैं। देश में  100 करोड़ कोविड वैक्सीन लगाने की सफलता हासिल की गई है। लेकिन देश के तमाम हिस्सों में वैक्सीनेशन की गति धीमी है। इसका कारण लोगों में जागरुकता में कमी, टीके को लेकर हिचकिचाहट और भौगोलिक बाधाएं शामिल हैं।

यह भी पढ़ें:

नौसेना पनडुब्बी जासूसी कांड: चार नेवी अधिकारियों समेत छह के खिलाफ सीबीआई ने दायर की चार्जशीट

यूपी की इस महिला पुलिस अफसर की यह फोटो शेयर कर रहे युवा, क्या है इस तस्वीर की सच्चाई?

यूपी में महाघोटाला: 15 हजार करोड़ रुपये के स्कैम में सीबीआई ने दर्ज किया एफआईआर, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी की तरह विदेश भागा आरोपी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios