Asianet News HindiAsianet News Hindi

पीएम मोदी का निर्देश: ऑक्सीजन से लेकर बेड तक हो पर्याप्त, हर ब्लॉक में कम से कम एक एंबुलेंस

पीएम मोदी ने कहा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, सिलेंडर और पीएसए प्लांट सहित ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए पूरे इकोसिस्टम को तेजी से बढ़ाने की जरूरत है।

PM Modi review on Covid 19 related preparedness, instructed for availability of Beds,Oxygen, ambulance in abundance
Author
New Delhi, First Published Sep 10, 2021, 11:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। कोविड-19 की समीक्षा के लिए पीएम मोदी ने हाईलेवल मीटिंग की है। पीएम ने मीटिंग में थर्ड वेव को लेकर तैयारियां, मेडिकल इक्वीपमेंट्स, मेडिसीन्स, मैन पॉवर सहित सभी प्रमुख बिंदुओं पर रिव्यू किया। पीएम ने मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता और कोविड -19 वैक्सीन के उत्पादन, आपूर्ति और वितरण से संबंधित मामलों पर भी विस्तृत जानकारी लेते हुए आवश्यक निर्देश दिए। 

पीएम ने म्यूटेंट पर निगरानी के बारे में भी जानकारी  ली

पीएम ने म्यूटेंट वायरस की निगरानी के लिए निरंतर जीनोम सीक्वेंसिंग की आवश्यकता के बारे में बात की। अधिकारियों ने उन्हें बताया कि INSACOG में अब देश भर में वितरित 28 प्रयोगशालाएँ हैं। क्लिनिकल कोआपरेशन के लिए लैब नेटवर्क को अस्पताल नेटवर्क से भी जोड़ा गया है। जीनोमिक सर्विलांस के लिए सीवेज सैंपलिंग भी की जा रही है। प्रधानमंत्री को अवगत कराया गया कि राज्यों से अनुरोध किया गया है कि वे सार्स COV2 पॉजिटिव नमूने INSACOG के साथ नियमित रूप से साझा करें।

पीएम को बताया दवाइयों के बफर स्टॉक जिलों में रखे जाएंगे

पीएम मोदी ने 'कोविड इमरजेंसी रिस्पांस पैकेज II' के तहत बाल चिकित्सा देखभाल के लिए बेड क्षमता में वृद्धि और समर्थित सुविधाओं में वृद्धि की स्थिति की समीक्षा की। यह भी चर्चा की गई कि राज्यों को ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति का प्रबंधन करने के लिए इन क्षेत्रों में प्राथमिक देखभाल और ब्लॉक स्तर के स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को नया स्वरूप देने और उन्मुख करने की सलाह दी गई है। पीएम को यह भी बताया गया कि राज्यों को जिला स्तर पर कोविड -19, म्यूकोर्मिकोसिस, एमआईएस-सी के प्रबंधन में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के लिए बफर स्टॉक बनाए रखने के लिए कहा जा रहा है।

आईसोलेशन बेड, ऑक्सीजन के बारे में भी दी गई जानकारी

पीएम को आइसोलेशन बेड, ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड और पीडियाट्रिक आईसीयू और पीडियाट्रिक वेंटिलेटर में वृद्धि के बारे में जानकारी दी गई। आने वाले महीनों में बड़ी संख्या में आईसीयू बेड और ऑक्सीजन बेड जोड़े जाएंगे।

हर ब्लॉक में कम से कम एक एंबुलेंस की हो व्यवस्था

पीएम मोदी ने कहा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, सिलेंडर और पीएसए प्लांट सहित ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए पूरे इकोसिस्टम को तेजी से बढ़ाने की जरूरत है। प्रति जिले में कम से कम एक ऐसी इकाई का समर्थन करने के उद्देश्य से 961 लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन स्टोरेज टैंक और 1,450 मेडिकल गैस पाइपलाइन सिस्टम स्थापित करने का भी प्रयास किया जा रहा है। प्रति ब्लॉक कम से कम एक एम्बुलेंस सुनिश्चित करने के लिए एम्बुलेंस नेटवर्क को भी बढ़ाया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने देश भर में लगने वाले पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थिति की भी समीक्षा की। पीएम को यह भी अपडेट किया गया कि राज्यों को लगभग 1 लाख ऑक्सीजन कंसंटेटर और 3 लाख ऑक्सीजन सिलेंडर वितरित किए गए हैं।

बैठक में पीएम के प्रमुख सचिव, कैबिनेट सचिव, प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार, स्वास्थ्य सचिव, सदस्य स्वास्थ्य नीति आयोग समेत अन्य महत्वपूर्ण अधिकारी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें:

ममता बनर्जी को भवानीपुर उपचुनाव में टक्कर देंगी बीजेपी की प्रियंका टिबरेवाल, जानिए क्यों भाजपा ने इन पर लगाया दांव

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की पत्नी और बेटे के खिलाफ लुकआउट नोटिस, DHFL के करोड़ों के लोन का हो गया है NPA

केरल के बिशप का दावा: राज्य की ईसाई व हिंदू लड़कियों को लव जेहाद से अफगानिस्तान में आतंकी शिविरों में भेजा गया

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios