Asianet News HindiAsianet News Hindi

VVIP की सुरक्षा में चूक की पहले भी हुईं कई घटनाएं , इनमें इंदिरा गांधी से लेकर राष्ट्रपति कोविंद तक शामिल

पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक से पहले भी वीवीआईपी की सुरक्षा में चूक कई घटनाएं हुई है।  इसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लेकर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी समेत कई नेता शामिल हैं। आइए जानते हैं कब-कब ऐसी घटनाएं हुई है। 

PM Modi security lapse in Punjab many Indira Gandhi to President Ramnath Kovind and many VVIP faced security breach in past
Author
New Delhi, First Published Jan 5, 2022, 5:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली :  पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का बड़ा मामला सामने आया है। दरअसल, बठिंडा से सड़क मार्ग से हुसैनीवाला शहीद स्मारक जाते वक्त पीएम मोदी का काफिला एक फ्लाईओवर पर जाम में फंस गया। करीब 20 मिनट तक पीएम यहां फंसे रहे। इसके बाद उनका काफिला वापस लौट गया। पीएम मोदी से पहली भी वीवीआईपी की सुरक्षा में चूक की कई घटनााएं हुई हैं. इसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से लेकर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी तक शामिल हैं।  

इंदिरा गांधी
पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या 31 अक्टूबर 1984 को नई दिल्ली के सफदरगंज रोड स्थित उनके आवास पर सुबह 9:29 बजे की गई थी। दरअसल,ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद उनके सिख अंगरक्षकों सतवंत सिंह और बेअंत सिंह ने गोली मार कर उनकी हत्या की थी। इस सुरक्षा में चूक करार दिया गया था। 

राजीव गांधी
21 मई, 1991 देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तमिलनाडु में हत्या हो गई है। उन्हें मानव बम से मारा गया।  उनकी हत्या को इंटेलिजेंस में भारी चूक करार दिया गया था। दरअसल, सुरक्षा एंजेसियों यह भांपने में असफल रही थी कि राजीव गांधी की हत्या की योजना बनाई जा रही हैं। 

मनमोहन सिंह
साल 2007 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सुरक्षा में बड़ी चूक मामला सामने आया था, दरअसल वह रूस के दौरे पर निकले थे। इस दौरान उनका विमान दुर्घटनाग्रस्त होने से  बाल-बाल बचा था। उस वक्त विमान के पायलटों ने लैंडिंग के लिए जरूरी लैंडिंग गियर को नीचे नहीं किया था। इसके बाद मॉस्को एटीसी ने इस बात की जानकारी केबिन क्रू मेंबर्स को दी। इसके बाद जाकर विमान के पहियों को नीचा किया गया। अगर ऐसा नहीं किया गया होता तो विमान लैंडिंग के वक्त दर्दनाक हादसा हो सकता था।  

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
नवंबर 2021 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) की सुरक्षा(security) में चूक का मामला सामने आया था। दरअसल, राष्ट्रपति यूपी के कानपुर (kanpur) दौरे पर थे और उनका पूरे दिन के काम की जानकारी सोशल मीडिया पर लीक हो गई थी।

प्रियंका गांधी 
दिसंबर 2019 में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया था, दरअसल, प्रियंका के घर में तकरीबन पांच लोग उनके घर में घुस गए थे। ये सभी प्रियंका के साथ सेल्फी लेने के लिए घर में घुस गए थे। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया 
पिछले साल केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई थी। दरअसल, मुरैना से ग्वालियर के बीच उनकी गाड़ी की सुरक्षा के लिए तैनात एस्कॉर्ट वाहन करीब आठ किलोमीटर तक किसी और गाड़ी के पीछे चलता रहा। इस लापरवाही के लिए 14 पुलसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था.

योगी आदित्यनाथ
पिछले साल अक्टूबर में यूपी के सीएम योगी की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई थी। दरअसल सीएम योगी बस्ती दौरे पर थे। इसी दौरान उनके कार्यक्रम में एक युवक लाइसेंसी हथियार लेकर घुस गया था। हालांकि, इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया था। 

यह भी पढ़ें-पंजाब में पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, शहीद स्मारक जाते समय जाम में फंसे, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

PM मोदी की सिक्योरिटी में चूक या साजिश, सोशल मीडिया पर पहले से एक्टिव थे लोग; सिर्फ पंजाब पुलिस को पता था रूट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios