Asianet News HindiAsianet News Hindi

PMGKY: नंवबर के बाद गरीबों को नहीं मिलेगा फ्री में राशन, खाद्य विभाग को नहीं मिला प्रपोजल

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKY) के तहत गरीबों को नवंबर के बाद मुफ्त राशन (Free Ration) मिलेगा या नहीं इसे लेकर अभी तक संशय बना हुआ है।

PMGKY no proposal to extend free ration under pradhan mantri gareeb kalyan ann yojana
Author
New Delhi, First Published Nov 5, 2021, 6:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKY) के तहत गरीबों को नवंबर के बाद मुफ्त राशन (Free Ration) मिलेगा या नहीं इसे लेकर अभी तक संशय बना हुआ है। खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने बताया कि इस स्कीम के तहत नवंबर के बाद गरीबों को राशन दिए जाने का फिलहाल कोई प्रस्ताव नहीं है। वहीं, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) द्वारा उठाए गए कई कदमों के कारण खाद्य तेल की खुदरा कीमतों में काफी गिरावट आई है। ताड़, मूंगफली, सोयाबीन, सूरजमुखी और सभी प्रमुख तेलों की कीमतों में गिरावट आई है।

पांडेय ने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के विस्तार का कोई प्रस्ताव नहीं है। चूंकि अर्थव्यवस्था फिर से रफ्तार पकड़ रही है इसलिए अब तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का विस्तार करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। पांडे ने कहा कि क्योंकि अर्थव्यवस्था में भी सुधार आ रहा है और उनकी ओपन मार्केट सेल स्कीम के तहत अनाज का निपटान भी इस साल बेहद अच्छा रहा है। 

कब हुई थी योजना की शुरुआत
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का मार्च 2020 में ऐलान किया गया था। इस योजना का मकसद कोरोना महामारी द्वारा हुए तनाव को कम करना है। शुरुआत में, स्कीम को अप्रैल-जून 2020 की अवधि के लिए लॉन्च किया गया था, लेकिन बाद में पीएम मोदी ने घोषणा करते हुए इसे 30 नवंबर तक बढ़ा दिया गया था। इस योजना के तहत गरीबों को मुफ्त में प्रति व्यक्ति 5 किलो की दर से खाद्यान्न मिलता है। 
 
किसे मिलता है इस योजना का लाभ?
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ पाने के लिए आपके पास राशन कार्ड होना अनिवार्य है। राशन कार्ड में जितने लोगों के नाम दर्ज हैं, उसी हिसाब से सभी को पांच पांच किलो अनाज उपब्लध करवाया जाता है। आप जिस सरकारी राशन दुकान से अपना अनाज लेते हैं. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मिलने वाला अनाज भी वहीं से मिलेगा। 

तेल की कीमतों हुई गिरावट
सुधांशु पांडे ने कहा कि खाद्य तेल की कीमतों (खुदरा) में काफी गिरावट आई है, जिसमें कई जगहों पर 20, 18, 10, 7 रुपये की गिरावट आई है। पाम तेल, मूंगफली, सोयाबीन, सूरजमुखी और सभी प्रमुख तेलों में गिरावट देखी गई है, जो लगभग कुल तेल टोकरी का 89 प्रतिशत। उन्होंने कहा- दिल्ली में ताड़ के तेल में 6 रुपये, मूंगफली में 7, सोयाबीन में 5 रुपये और सूरजमुखी के तेल में 10 रुपये की गिरावट आई है।

इसे भी पढ़ें- Afghanistan मुद्दे पर NSA लेवल की बैठक की अध्यक्षता करेंगे अजीत डोभाल, Pakistan नहीं होगा शामिल

Terrorists attack: Jammu-Kashmir में फिर आतंकी हमला, SKIMS मेडिकल कॉलेज में आतंकियों ने की फायरिंग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios