Asianet News Hindi

पुलिस का सिर फटा, महिला हेल्थ वर्कर को 50 लोगों ने मारने के लिए घेरा...सोचने पर मजबूर कर देंगी 7 घटनाएं

मध्य प्रदेश के इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों पर पत्थर फेंकने और मारने के लिए दौड़ाने के मामले के बाद देश के कई हिस्सों में पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों से मारपीट के मामले सामने आए हैं। ताजा मामला कर्नाटक का है। 

Police and health workers were stoned at 7 places in 48 hours to save from Corona kpn
Author
New Delhi, First Published Apr 3, 2020, 7:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश के इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों पर पत्थर फेंकने और मारने के लिए दौड़ाने के मामले के बाद देश के कई हिस्सों में पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों से मारपीट के मामले सामने आए हैं। ताजा मामला कर्नाटक का है। यहां हुबली में नमाज अदा करने वाले लोगों ने पुलिस पर पथराव किया। इसमें तीन पुलिसवाले घायल भी हो गए। विवाद की शुरुआत तब हुई, जब पुलिसवालों ने मना किया कि पब्लिक में नमाज न पढ़े और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। 

1- हुबली (कर्नाटक) : हुबली में मंटूर रोड के पास अरलीकट्टी ओनी का है। यहां एक जगह पर इकट्ठा होकर कुछ लोग नमाज अदा कर रहे थे। खबर मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंची और उन्हें समझाने की कोशिश की। आरोप है कि इसी दौरान विवाद बढ़ा और उन लोगों ने पुलिस पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए और उन्हें केआईएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया। सरकारी आदेश के बाद भी लोग मस्जिद में शुक्रवार की नमाज के लिए इकट्ठा हुए थे, जिसके बाद बंद को लागू करने के लिए पुलिस मौके पर पहुंची। 

 

2- अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश) : उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ में पुलिस पर हमला किया गया है। अलीगढ़ में एक मस्जिद में नमाज पढ़ी जा रही थी। झुंड बनाकर लोग इकट्ठा थे। उन्हें समझाने के लिए पुलिस गई तो उनपर ही पत्थर फेंकने लगे। किसी तरह से पुलिस वहां से जान बचाकर भागी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस को जानकारी मिली थी कि अलीगढ़ के बन्नादेवी में एक मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए लोग इकट्ठा हो रहे हैं। बन्नादेवी के सर्कल ऑफिसर पंकज श्रीवास्तव उन्हें समझाने के लिए पहुंचे। पुलिस ने इन लोगों को लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का हवाला देकर समझाया कि एक जगह पर इकट्ठा न हो। इससे कोरोना के फैलने का खतरा बढ़ जाएगा। इतने में ही उनपर पत्थर फेंके जाने लगे। इस मामले में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

3- कन्नौज (उत्तर प्रदेश) : कन्नौज में लॉकडाउन के बाद भी घर की छत पर सामूहिक नमाज पढ़ी जा रही थी। खबर मिलते ही पुलिस पहुंची। लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा गया। वहां मौजूद लोगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। इसमें 4 पुलिसकर्मी घायल हो गए। इसके बाद थाने से पुलिसफोर्स भेजी गई और मामले पर काबू पाया गया। इसमें मामले में पुलिस ने कुछ लोगों को पकड़ा लिया है जबकि कुछ की तलाश ड्रोन के जरिए भी की जा रही है। 

 

4- बेंगलुरु (कर्नाटक) : बेंगलुरु में भी स्वास्थ्यकर्मी पर हमला हुआ। कृष्णावेणी नाम की आशा स्वास्थ्यकर्मी ने बताया, इलाके में एक पॉजिटिव केस आने के बाद हम पिछले 14 दिनों से सर्वे कर रहे थे। तभी अचानक कोई आया और पूछने लगा​ कि आप ये जानकारी क्यों ले रहे हैं। हमने बताया कि एक पॉजिटिव केस है। उन्होंने हमें सारी जानकारियां देने को कहा। इसके बाद उन्होंने मस्जिद में घोषणा की कि कोई जानकारी मत देना। उसके बाद वो सभी घरों से बाहर आए और मुझ पर हमला किया, मेरा बैग और मोबाइल छीन लिया।  45 साल की स्वास्थ्यकर्मी ने बताया, वह बुधवार शाम को बेंगलुरु के आरके हेगड़े नगर के पास सादिक नगर में गई थीं। वहां 50 से ज्यादा लोगों ने उन्हें घेर लिया। इस मामले में पुलिस ने एक्शन लेते हुए 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

5- इंदौर (मध्य प्रदेश) : मध्य प्रदेश के शहर इंदौर के टाटपट्टी बाखल में बुधवार कोरोना संक्रमितों की जांच करने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम पर पथराव किया गया। स्वास्थ्यकर्मी वहां से जान बचाकर भागे। पुलिस ने पत्थर फेंकने वाले आरोपियों पर एक्शन लिया है। हमला करने वालों पर राज्य सरकार रासुका के तहत कार्रवाई करेगी। शिवराज ने कहा कि ऐसा करने वाले लोग इंसान नहीं, इंसानियत के दुश्मन हैं। हम इन्हें सख्त सजा देंगे।

 

6- अहमदाबाद (गुजरात) : गुजरात के अहमदाबाद में तब्लीगी जमात के मरकज से लौटे लोगों की तलाश की जा रही थी। इस बीच गोमतीपुर इलाके में पुलिस पर पथराव किया गया है। बताया जा रहा है कि कसाई नी चाल इलाके में लोग विरोध करने लगे और पुलिस पर पथराव किया। पुलिस दोषियों की तलाश कर रही है।

 

7- मधुबनी (बिहार) : कोरोना लॉक डाउन के दौरान बिहार के मधुबनी जिले के गिदरगंज गांव के जामा मस्जिद से पुलिस और प्रशासन की टीम पर पथराव किया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फायरिंग की भी खबर है। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज करते हुए एक ही परिवार की महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। 50 नामजद और 200 अज्ञात पर आरोप लगा है। जानकारी के अनुसार पुलिस को मस्जिद में जमात में कई लोगों के शामिल होने की सूचना मिली थी।
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios