Asianet News Hindi

नई वैक्सीन पॉलिसी पर पॉलिटिक्स: राहुल गांधी ने फिर उठाए सवाल, ठाकरे ने मोदी को सराहा

नई वैक्सीन पॉलिसी को लेकर भी विपक्ष शांत नहीं बैठा है। सोमवार को जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया कि 21 जून से वैक्सीनेशन की जिम्मेदारी केंद्र सरकार उठाएगी। यानी अब सबको फ्री में वैक्सीन देगी, विपक्ष ने इसे मोदी सरकार की विफलता करार दिया। जानिए किसने क्या कहा...
 

Politics and statements of leaders about new vaccination policy kpa
Author
New Delhi, First Published Jun 8, 2021, 1:00 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. नई वैक्सीन पॉलिसी को लेकर विपक्षी दलों ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर विफलता के आरोप लगाए हैं। विपक्षी नेताओं का मानना है कि प्रधानमंत्री मोदी ने यह फैसला सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद लिया। वहीं, कुछ नेता इसे डैमेज कंट्रोल बता रहे हैं। जानिए किसने क्या कहा...

राहुल गांधी ने कहा
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट करके पूछा कि जब टीकाकरण मुफ्त है, तो फिर निजी अस्पतालों से पैसा क्यों लिया जा रहा है?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा
प्रधानमंत्री ने टीकाकरण की सारी जिम्मेदीरी केंद्र के उपर ली है तो हम उनको धन्यवाद देना चाहते हैं। अपेक्षा करते हैं कि जो रुकावटें आ रही थीं, वे अब दूर हो जाएंगी और जल्द से जल्द सबका टीकाकरण हो जाएगा।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा
कांग्रेस नेता ने कहा कि जब राज्यों ने केंद्र पर मुफ्त वैक्सीन के लिए दबाव डाला और सुप्रीम कोर्ट ने दखल दिया, तब प्रधानमंत्री को यह फैसला करना पड़ा।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा
 कांग्रेस के वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने पर नकवी ने कहा-पहले कहते थे मुफ्त वैक्सीनेशन क्यों नहीं है, अब हो गया तो कह रहे हैं क्यों हो रहा है। क्या ये चाहते हैं कि मुफ्त वैक्सीनेशन न हो और गरीबों को जो पिछले एक साल से राशन दिया जा रहा है उसे बंद कर दिया जाए?

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम ने कहा
मप्र के पूर्व CM कमलनाथ के वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने पर मप्र के गृह मंत्री ने कहा-इनको कोई विषय मिल नहीं रहा है। मुद्दाविहीन विपक्ष है। ये वो लोग हैं, जिन्होंने पोलियो और चेचक के टीके बनाने में वर्षों लगाए थे। जितने उनको साल लगे PM ने उतने महीने भी नहीं लगने दिए, वो भी महामारी की वैक्सीन।

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा
समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव के ट्वीट पर उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा-बीमारी के सामने एक टीका ही है, जो हम सबको सुरक्षित रख सकता है, इस बात को समझने में इन्हें इतना समय लगा। अभी भी इनका बयान ठीक नहीं है, देश के प्रति इनकी सोच बहुत हल्की है।

TMC लीडर सौगत रॉय ने कहा
PM को लगा उनकी वैक्सीन नीति नाकाम हो रही है। आगे यूपी चुनाव है। सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को लेकर भी लोग नाराज थे। पांच राज्यों के चुनाव में असम छोड़कर BJP सब जगह हार गई। उन्होंने अपनी स्थिति को फिर से मजबूत करने के लिए सभी को वैक्सीन मुफ्त में देने का फैसला किया।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा
सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाई और लोगों ने भी कहा तब जाकर केंद्र सरकार ने सभी के लिए वैक्सीन मुफ्त करने का निर्णय लिया।

NCP के नेता नवाब मलिक ने कहा
प्रधानमंत्री ने सभी लोगों को मुफ्त में वैक्सीन लगाने का जो फैसला किया है, वह उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के दबाव में आकर किया है। केंद्र सरकार ने कोरोना में अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए यह निर्णय लिया है। सरकार डैमेज कंट्रोल करने में लगी है।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन को लेकर जो घोषणा की है, मैं उसके लिए प्रधानमंत्री का हृदय से अभिनंदन करता हूं। संकट के दौर से गुजरते हुए देश में प्रधानमंत्री ने हौसले के साथ यह निर्णय लिया है।


यह भी पढ़ें-नई वैक्सीनेशन पॉलिसी पर चिदंबरम ने किया PM पर तंज, तो धर्मेंद्र प्रधान ने दिखा दिया राहुल गांधी का लेटर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios