Asianet News HindiAsianet News Hindi

Congress V/s Mamata: UPA पर ममता के बयान पर कांग्रेस बोली- ED और CBI के डर से दे रहीं ऐसे बयान

भाजपा के खिलाफ विपक्षी पार्टियों को एकजुट करने में जुटीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(Mamata Banerje) ने कांग्रेस को दरकिनार कर रखा है। साथ ही कांग्रेस नेतृत्व वाले UPA पर बयान देकर एक नई बहस को जन्म दे दिया है।

Politics war over Mamata Banerjee controversial statement on UPA KPA
Author
New Delhi, First Published Dec 2, 2021, 11:32 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भाजपा के खिलाफ तीसरे मोर्चे की कवायद में जुटीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(Mamata Banerje) ने कांग्रेस को भड़का दिया है। पहला; उन्होंने इस गठबंधन से कांग्रेस को दूर किया है, दूसरा; कांग्रेस के नेतृत्व वाले UPA गठबंधन पर बयान दिया कि अब यह कोई गठबंधन नहीं है। इसके बाद कांग्रेस ममता के खिलाफ मुखर हो उठी है।

कांग्रेस बोली-भाजपा की मदद कर रहीं ममता
ममता के बयान पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे(Mallikarjun Kharge) ने पलटवार करते हुए कहा कि ऐसा बयान देकर वे भाजपा की मदद कर रही हैं। कांग्रेस नेता ने abp न्यूज से बातचीत में कहा कि उनके नेता राहुल गांधी हर मुद्दे पर लड़ाई लड़ रहे हैं। वे किसानों के मुद्दे पर लड़े, महंगाई पर लड़े, प्रियंका गांधी यूपी में जहां-जहां हादसे हुए; वहां जाकर लड़ीं, किसानों के लिए अभी भी लड़ाई लड़ रहे हैं। अगर कांग्रेस नहीं लड़ती, तो इतने राज्यों में उसकी सरकार नहीं बनती। ममता के ऐसे बयान ठीक नहीं हैं। वे ED और CBI के डर से ऐसे बयान दे रही हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उनका लीडर(राहुल गांधी) फील्ड में हैं। हर जगह वे लड़ाई लड़ रहे हैं। दलितों के लिए लड़ रहे हैं। आप लड़ाकू लोगों के बारे में अगर ऐसी टिप्पणी करते हैं, तो मैं समझता हूं कि आप भाजपा को मदद कर रहे हैं।

दो दिनों में कई नेताओं से की मुलाकात
पश्चिम बंगाल में तीसरी बार सरकार बनाने के बाद ममता बनर्जी(Mamta Banerjee) के तेवर आक्रामक हैं। वे 30 नवंबर को दो दिनी दौरे पर मुंबई पहुंची थीं। 1 दिसंबर को उन्होंने NCP सुप्रीमो शरद पवार से मुलाकात की थी। साथ ही उन्होंने सिविल सोसायटी मीटिंग कर समाज के विभिन्न वर्गों से मुलाकात करके भाजपा के खिलाफ लामबंद होने की अपील की थी। 

यहां दिया था ये बयान
ममता बनर्जी ने यहां बयान दिया कि कांग्रेस नेतृत्व वाला UPA अब कोई गठबंधन नहीं है। इसका कोई अस्तित्व नहीं है। इसकी कांग्रेस ने आलोचना की है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा है कि किसी भी पार्टी का ये सोचना कि वह कांग्रेस के बिना बीजेपी को हरा सकती है, महज के एक सपना है। हर कोई भारतीय राजनीति की सच्चाई जानता है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता बनर्जी को पागल तक कह दिया है। उन्होंने कहा कि ममता ने अब ज्यादा पागलपन शुरू कर दिया है। उनको लगता है कि पूरा हिंदुस्तान ममता-ममता कर रहा है, लेकिन बंगाल ममता नहीं है और ममता बंगाल नहीं हैं। बीजेपी और ममता दोनों मिले हुए हैं।

शरद पवार भी खुश नहीं
ममता के कांग्रेस मुक्त एजेंडे को लेकर NCP सुप्रीमो शरद पवार खुश नहीं है। ऐसे में आशंका बढ़ने लगी है कि क्या ममता बनर्जी भाजपा के खिलाफ तीसरे मोर्चे का गठन कर पाएंगी? मंगलवार को NCP लीडर और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि हर पार्टी को अपना आधार बढ़ाने का पूरा अधिकार है, लेकिन कांग्रेस को बाहर रखकर भाजपा के विरोधियों को एकजुट करना असंभव है। मलिक ने यह भी कहा कि पवार साहब कई बार यह बात स्पष्ट कर चुके हैं।

यह भी पढ़ें
mamta banerjee mumbai visit: राष्ट्रगान के वक्त कुर्सी पर बैठी रहीं दीदी; BJP नेता ने पुलिस में की शिकायत
Fortune India ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को बताया देश की सबसे शक्तिशाली महिला
Rally in J&K: गुलाम ने माना-'धारा-370 वापस ला पाऊंगा, यह झूठ है; क्योंकि कांग्रेस 300 सीटें नहीं ला पाएगी

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios