Asianet News Hindi

राष्ट्रपति कोविंद ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से NSS पुरस्कार प्रदान किए, खेल मंत्री भी हुए शामिल

गुरूवार को साल 2018-19 के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रीय सेवा योजना (NSS) पुरस्कार प्रदान किए। राष्ट्रपति इस कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। वर्ष 2018-19 के लिए एनएसएस पुरस्कार 3 विभिन्न श्रेणियों में 42 विजेताओं को दिया गया।

President Kovind conferred NSS awards through video conferencing, Sports Minister Kiren Rijiju also attended
Author
Delhi, First Published Sep 24, 2020, 12:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ  कोविंद (President Ramnath kovind) ने गुरूवार को साल 2018-19 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना (NSS) पुरस्कार प्रदान किए। राष्ट्रपति इस कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। कार्यक्रम में केंद्रीय युवा और खेल मंत्री किरेन रिजिजू भी नई दिल्ली के विज्ञान भवन से शामिल हुए। वर्ष 2018-19 के लिए एनएसएस पुरस्कार 3 विभिन्न श्रेणियों में 42 विजेताओं को दिया गया।

युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय देश में एनएसएस को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विश्वविद्यालयों/कॉलेजों, परिषदों, वरिष्ठ माध्यमिक, एनएसएस इकाइयों के अधिकारियों और एनएसएस स्वयंसेवकों को हर साल पुरस्कृत करता है। इन स्वयंसेवकों और अधिकारियों द्वारा की गई स्वैच्छिक सामुदायिक सेवा में उत्कृष्ट योगदान के लिए मंत्रालय इन्हें पुरस्कार प्रदान करता है। फिलहाल देश में एनएसएस के लगभग 40 लाख स्वयंसेवक हैं।

क्या है NSS

एनएसएस एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है जिसे साल 1969 में शुरू किया गया था। और इसका प्राथमिक उद्देश्य स्वैच्छिक सामुदायिक सेवा के माध्यम से युवा छात्रों के व्यक्तित्व और चरित्र को विकसित करना है। एनएसएस स्वयंसेवक सामाजिक रूप से प्रासंगिक मुद्दों पर काम करते हैं जो नियमित और विशेष शिविर वाली गतिविधियों के माध्यम से समुदाय की आवश्यकताओं पर प्रतिक्रिया देने के लिए विकसित होते रहते हैं। एनएसएस की वैचारिक नीति महात्मा गांधी के आदर्शों से प्रेरित है जिनका आदर्श वाक्य “मैं नहीं, बल्कि आप”है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios