Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्याज, टमाटर और आलू के दाम पिछले साल के मुकाबले सस्ते, जानें क्या है रेट

बाजार में जारी करने के अलावा, उपभोक्ता मामलों के विभाग ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को भंडारण वाले स्थानों से उठान के लिए बफर से 21 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज की पेशकश की।

Prices of Onion, Tomato and Potato cheaper than last year
Author
New Delhi, First Published Oct 17, 2021, 7:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. उपभोक्ता मामलों के विभाग (Department of Consumer Affairs) ने कीमतों को कम करने और न्यूनतम भंडारण हानि सुनिश्चित करने के दोहरे उद्देश्यों के लिए अगस्त, 2021 के अंतिम सप्ताह से फर्स्ट-इन-फर्स्ट-आउट (FIFO) के सिद्धांत पर बफर से प्याज सोच समझकर और लक्षित रूप से जारी की गई है। परिणामस्वरूप दिल्ली में 14 अक्टूबर 2021 को प्याज का मूल्य 44 रुपये प्रति किलोग्राम है। इसी प्रकार मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में कीमतें क्रमशः 45 रुपये, 57 रुपये और 42 रुपये प्रति किलोग्राम रहीं। 14 अक्टूबर 2021 को प्याज की अखिल भारतीय खुदरा कीमतें 37.06 रुपये प्रति किलोग्राम रहीं, जबकि प्याज का अखिल भारतीय थोक मूल्य 3,002.25 रुपये प्रति क्विंटल रहा।

इसे भी पढ़ें- हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा-आठ साल से एक दिहाड़ी मजदूर को आप राशन कार्ड क्यों नहीं दे सके?

प्याज लक्षित रूप से ऐसे राज्यों/ केन्द्र शासित प्रदेशों को जारी किया जा रहा है, जहां कीमतें अखिल भारतीय औसत से ज्यादा थीं और जहां पिछले महीने की तुलना में कीमतें बढ़ रही हैं। 12 अक्टूबर, 2021 को दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ, पटना, रांची, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, हैदराबाद, बंगलुरू, चेन्नई, मुंबई, चंडीगढ़, कोच्चि और रायपुर जैसे प्रमुख बाजारों में कुल 6,73,567 एमटी प्याज जारी किया गई। इसके अलावा, ग्रेड-बी की प्याज (वह भंडार जो फेयर एवरेज क्वालिटी- एफएक्यू से कमतर है) को महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात जैसे स्थानीय बाजारों में निस्तारित किया गया।

बाजार में जारी करने के अलावा, उपभोक्ता मामलों के विभाग ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को भंडारण वाले स्थानों से उठान के लिए बफर से 21 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज की पेशकश की। इससे राज्य/ केन्द्र शासित प्रदेश कीमतों को नीचे लाने के लिए खुद बाजार हस्तक्षेप या प्रमुख बाजारों में खुदरा आउटलेट्स के माध्यम से या खुदरा उपभोक्ताओं को जारी करने में सक्षम हो जाएंगे। खुदरा मार्केटिंग में लगी केन्द्र/ राज्य एजेंसियों को 21 रुपये/किलोग्राम या ढुलाई लागत सहित उतार मूल्य पर स्टॉक उपलब्ध है। सफल ने 26 रुपये प्रति किलोग्राम के मूल्य पर पेशकश की है।

इसे भी पढ़ें- तबाही की बारिश: केरल में 21 मौत, दर्जनों लापता, पीएम मोदी ने कहा- सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं

कीमतों में नरमी रखने के लिए प्रभावी बाजार हस्तक्षेप के उद्देश्य से मूल्य स्थिरीकरण कोष (पीएसएफ) के तहत उपभोक्ता मामलों के विभाग द्वारा प्याज के बफर का रखरखाव किया जाता है। 2021-22 में, 2 एलएमटी प्याज का बफर तैयार करने के लक्ष्य के विपरीत अप्रैल से जुलाई, 2021 के दौरान रबी-2021 फसल से कुल 2.08 लाख एलएमटी की खरीद की गई थी।

इसी प्रकार, आलू और टमाटर की कीमतों में नरमी रखने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। दिल्ली में आलू और प्याज की खुदरा कीमत क्रमशः 20 रुपये और 56 रुपये प्रति किलो हैं। आलू और टमाटर की अखिल भारतीय खुदरा कीमतें क्रमशः 21.22 रुपये प्रति किलोग्राम और 41.73 रुपये प्रति किलोग्राम हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios