Asianet News HindiAsianet News Hindi

Infinity Forum: 3 दिसंबर को VC से कनेक्ट होंगे बिजनेस-टेक्नोलॉजी के टैलेंट और धुरंधर, PM Modi करेंगे उद्धाटन

दुनियाभर की बिजनेस और टेक्नोलॉजी की प्रतिभाओं को एक मंच पर लाने 3 दिसंबर को इनफिनिटी-फोरम (Infinity Forum) का आयोजन किया जा रहा है। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) करेंगे। यह आयोजन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगा।

Prime Minister Narendra Modi inaugurate Infinity Forum on 3 December KPA
Author
New Delhi, First Published Nov 30, 2021, 12:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) 3 दिसंबर को सुबह 10 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इनफिनिटी फोरम का उद्घाटन करेंगे। इनफिनिटी फोरम, फिन-टेक पर एक विचारशील नेतृत्वकारी मंच है। इसका मकसद दुनियाभर की बिजनेस और टेक्नोलॉजी की प्रतिभाओं को एक मंच पर लाना है।

इस कार्यक्रम का आयोजन भारत सरकार के तत्वावधान में अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (International Financial Services Center Authority-IFSCA) कर रहा है। इस आयोजन में गिफ्ट-सिटी (गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी) और ब्लूमबर्ग सहयोग कर रहे हैं। कार्यक्रम तीन और चार दिसंबर  को होगा। फोरम के पहले आयोजन में इंडोनीशिया, दक्षिण अफ्रीका और यूके साझीदार देश हैं।

यह है Infinity Forum का मकसद
इनफिनिटी-फोरम के जरिये नीति, व्यापार और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विश्व की जानी-मानी प्रतिभायें एक साथ आयेंगी तथा इस बात पर गहन विमर्श करेंगी कि कैसे प्रौद्योगिकी और नवाचार को फिन-टेक उद्योग में इस्तेमाल किया जा सकता है, ताकि समावेशी विकास हो तथा बड़े पैमाने पर सबकी सेवा हो।

यह भी जानें
फोरम का एजेंडा ‘बियॉन्ड’ (सर्वोच्च) विषय पर केंद्रित है। इसमें विभिन्न उप-विषय शामिल हैं, जैसे ‘फिन-टेक बियॉन्ड बाऊंड्रीज,’(वित्त-प्रौद्योगिकी सर्वोच्च सीमा तक), जिसके तहत सरकारें और व्यापार संस्थायें वित्तीय समावेश को प्रोत्साहित करने के लिये भौगोलिक सरहदों के परे ध्यान देंगी, ताकि वैश्विकसमूह का विकास हो सके;‘फिन-टेक बियॉन्ड फाइनेन्स’(वित्त-प्रौद्योगिकी सर्वोच्च वित्त तक), जिसके तहत स्पेस-टेक, ग्रीन-टेक तथा एग्री-टेक जैसे उभरते क्षेत्रों में एकरूपता लाई जा सके और सतत विकास हो सके; और‘फिन-टेक बियॉन्ड नेक्सट’(वित्त-प्रौद्योगिकी सर्वोच्च अग्रिम तक), जिसके तहत इस बात पर ध्यान दिया जायेगा कि कैसे क्वॉन्टम कंप्यूटिंग, भावी फिन-टेक उद्योग तथा नये अवसरों को प्रोत्साहित करने के लिये प्रभावी हो सकता है।

70 देश होंगे शामिल
फोरम में 70 से अधिक देश हिस्सा लेंगे। मुख्य वक्ताओं में मलेशिया के वित्तमंत्री तेंगकू ज़फरुल-अज़ीज़, इंडोनेशिया की वित्तमंत्री मुल्यानी इंद्रावती, इंडोनेशिया के संरचनात्मक अर्थव्यवस्था के मंत्री सैनडियागा एस. ऊनो, रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी, सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्प के अध्यक्ष एवं सीईओ मासायोशी सून, आईबीएम कॉरपोरेशन के अध्यक्ष एवं सीईओ अरविन्द कृष्ण, कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ उदय कोटक और अन्य गणमान्य शामिल हैं। इस वर्ष के फोरम में नीति आयोग, इनवेस्ट इंडिया, फिक्की और नैसकॉम मुख्य साझीदारों में से हैं।

आईएफएससीए के बारे में 
अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर्स अथॉरिटी) का मुख्यालय गिफ्ट-सिटी, गांधीनगर, गुजरात में स्थित है। इसकी स्थापना अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण अधिनियम, 2019 के तहत की गई थी। यह संस्था भारत में वित्तीय उत्पादों, वित्तीय सेवाओं और वित्तीय संस्थानों के नियमन तथा विकास के लिये एक एकीकृत प्राधिकार के रूप में काम करती है। इस समय गिफ्ट-आईएफएससी भारत में पहला अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र है।

यह भी पढ़ें
Dubai Expo 2020: इस अजूबी दुनिया में ऐसा क्या है, जो PM मोदी भी देखने जा रहे हैं, UAE चौथी बार जाएंगे
Indian Navy के नये चीफ आर हरिकुमार ने मां का आशीर्वाद लेकर लिया 'भारत मां' की रक्षा का संकल्प
digital festival of freedom: मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा-डिजिटल इंडिया ने लोगों का जीवन बदल दिया

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios