Asianet News HindiAsianet News Hindi

CAA पर संग्रामः देशभर में प्रदर्शनों का दौर जारी, RJD के बिहार बंद में जबरदस्त हिंसा, पुलिस पर फेंके गए बम

सीएए के विरोध में बिहार में राष्ट्रीय जनता दल ने आज बंद का आह्वान किया है। जिसके बाद बंद समर्थकों ने जगह-जगह ट्रेनें रोकनी शुरू कर दी है। जिसमें समर्थकों ने फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर जोगबनी से कटिहार जा रही ट्रेन को रोक दिया।

Protest against CAA continue in all over India kps
Author
Patna, First Published Dec 21, 2019, 8:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना. नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन का दौर जारी है। सीएए के विरोध में बिहार में राष्ट्रीय जनता दल ने आज बंद का आह्वान किया है। जिसके बाद बंद समर्थकों ने जगह-जगह ट्रेनें रोकनी शुरू कर दी है। जिसमें अररिया में आरजेडी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर जोगबनी से कटिहार जा रही ट्रेन को रोक दिया। इसके साथ ही कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ शुरू कर दी। वहीं, पटना में दो गुटों के बीच झड़प हो गई। इस दौरान दोनों पक्षों में फायरिंग हो गई जिसमें 11 लोग घायल हो गए है। 

रोका गया ट्रेनों को 

बिहार में बंद के दौरान कई जगहों पर ट्रेनों को रोका गया है। आरजेडी कार्यकर्ताओं ने अररिया में एक ट्रेन रोक दी। दरभंगा और वैशाली में भी प्रदर्शनकारियों ने सड़क बंद कर दी। सुरक्षा के लिहाज से बड़ी संख्या में बिहार पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं। पटना में नए नागरिकता कानून के खिलाफ आरजेडी कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन जारी है। पटना में आरजेडी कार्यकर्ताओं ने सड़क पर प्रदर्शन किया और टायर जलाए। वहीं, पटना में विकासशील इंसान पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ की है। 

Protest against CAA continue in all over India kps

11 लोगों को लगी गोली 

बिहार बंद के दौरान सबसे बड़ी घटना पटना में हुई, जहां दो गुटों के बीच भिड़त के दौरान जमकर पथराव हुआ। इस दौरान हुई गालीबारी में 11 लोगों को गोली लगी। जबकि, एक को छुरा भी मारा गया। घटना के दौरान पथराव में आधा दर्जन पुलिसकर्मियों सहित दो दर्जन लोग घायल हो गए। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। मिली जानकारी के मुताबिक पटना में ही आंदोलनकारियों की गुंडई के शिकार मीडियाकर्मी भी हुए। उधर, औरंगााबद में पथराव में एसडीपीओ सहित आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। पथराव के दौरान कथित तौर पर पुलिस पर बमबारी भी की गई। मुजफ्फरपुर, भागलपुर व नवादा सहित कई अन्‍य जगहों पर भी भारी हिंसा की। स्थिति पर नियंत्रण के लिए पुलिस ने जगह-जगह आंसू गैस के गोले छोड़े तथा लाठीचार्ज किया। इससे भी हालात काबू में नहीं आए तो हवाई फायरिंग की।

Protest against CAA continue in all over India kps

गुरुग्राम में विरोध 

गुरुग्राम में CAA,NRC को लेकर जोरदार प्रदर्शन हो रहा है। हाथों में पोस्टर बैनर लिए शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया जा रहा है। 500 से ज्यादा लोग शहर के पॉश इलाके लेजर वैली ग्राउंड के प्रांगड़ में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। विरोध प्रदर्शन में महिलाएं और युवा के साथ-साथ बुजुर्ग भी हिस्सा ले रहे हैं। मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। 

विश्वविद्यालय में भी विरोध 

कोलकाता में यूनिवर्सिटी के छात्रों का प्रदर्शन कोलकाता के जादवपुर और प्रेसीडेंसी यूनिवर्सिटी के छात्रों का एक समूह सेंट्रल कोलकाता में विरोध प्रदर्शन कर रहा है। इनके बंगाल भाजपा मुख्यालय की ओर मार्च करने की संभावना है। जिसकी वजह से बीजेपी कार्यालय पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

सीएम कमलनाथ निकालेंगे पैदल मार्च

मध्यप्रदेश सरकार ने तय किया है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ और सरकार के सभी मंत्री और कांग्रेस कार्यकर्ता 25 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में पैदल मार्च करेंगे। क्रिसमस के दिन दोपहर 12 बजे भोपाल के रंगमहल चौराहे से मिंटो हॉल तक होगा पैदल मार्च। ये पैदल मार्च मिंटो हॉल में बनी गांधी जी के प्रतिमा के सामने जाकर समाप्त होगा। सरकार के कानून मंत्री पीसी शर्मा का दावा है कि हजारों लोग इस पैदल मार्च में शामिल होंगे। 

Protest against CAA continue in all over India kps

केरल व जामिया में भी विरोध 

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में केरल में आज विरोध ने जोर पकड़ा है। जहां प्रदर्शनकारी आज सड़कों पर उतरें। इसके साथ ही पुलिस ने देश के कई राज्यों में हुए हिंसा को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की है। इन सब के इतर जामिया में आज फिर विरोध देखने को मिला है। 

Protest against CAA continue in all over India kps

दिल्ली में देर शाम बिगड़ी हालत 

शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों की भीड़ जामा मस्जिद पर एकत्र हो गई और जंतर-मंतर तक शांति मार्च निकालने की जिद्द पर अड़ गए। लेकिन पुलिस ने सुरक्षा कारणों से इसकी इजाजत नहीं दी। जिसके बाद देर शाम विरोध प्रदर्शन उग्र हो गया और पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू हो गई। जिसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा इसके साथ ही वाटर कैनन का भी प्रयोग किया गया। जिसके बाद प्रदर्शनाकरियों ने रोड पर खड़ी गाड़ी को आग के हवाले कर दिया।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios