Asianet News Hindi

RSS नेता भैय्याजी जोशी बोले, हिंदुओं का विरोध मतलब BJP का विरोध नहीं;यह सियासी लड़ाई है,चलती रहेगी

दोना पाउला में ‘‘विश्वगुरु भारत’’ पर भाषण के दौरान प्रश्न उत्तर सत्र में कही। इस दौरान उनसे सवाल पूछा गया, ‘क्यों हिंदू अपने ही समुदाय के दुश्मन बन रहे हैं, उन्होंने कहा, ‘‘हमें भाजपा के विरोध को हिंदुओं का विरोध नहीं मानना चाहिए।

RSS Leader Bhaiyyaji Joshi Says, Opposing BJP Does Not Amount To Opposing Hindus kps
Author
Panjim, First Published Feb 10, 2020, 8:21 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पणजी. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता सुरेश ‘भैय्याजी’’ जोशी ने रविवार को कहा कि भाजपा का विरोध करना हिंदुओं का विरोध करने के बराबर नहीं है। जोशी ने यह बात दोना पाउला में ‘‘विश्वगुरु भारत’’ पर भाषण के दौरान प्रश्न उत्तर सत्र में कही। इस दौरान उनसे सवाल पूछा गया, ‘क्यों हिंदू अपने ही समुदाय के दुश्मन बन रहे हैं, उन्होंने कहा, ‘‘हमें भाजपा के विरोध को हिंदुओं का विरोध नहीं मानना चाहिए। यह एक राजनीतिक लड़ाई है जो चलती रहेगी। इसे हिंदुओं से नहीं जोड़ना चाहिए।’’

हिंदू समुदाय का मतलब BJP नहीं 

जोशी ने कहा, ‘‘आपका सवाल कहता है कि हिंदू ही हिंदू समुदाय का दुश्मन बन रहे हैं, यानी भाजपा। हिंदू समुदाय का मतलब भाजपा नहीं है।’’
उनकी यह टिप्पणी संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच आई है।

लगाया धर्मांतरण का आरोप 

जोशी ने कहा, ‘‘एक हिंदू अपने साथी (हिंदू) के खिलाफ लड़ता है क्योंकि वे धर्म भूल जाते हैं। यहां तक कि छत्रपति शिवाजी महाराज को भी अपने ही परिवार से विरोध का सामना करना पड़ा था। जहां भ्रम और आत्मकेंद्रित व्यवहार होता है, विरोध होता है।’’ भैय्याजी जोशी ने गिरजाघरों पर लोगों की अज्ञानता और गरीबी का फायदा उठाकर ईसाई धर्म में धार्मांतरण कराने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि अगर कोई अपनी इच्छा से ईसाई धर्म अपनाता है तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं लेकिन जबरन धर्मांतरण को आपराधिक कृत्य माना जाना चाहिए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios