Asianet News HindiAsianet News Hindi

PM Modi के Tripura यात्रा से पहले बढ़ाई गई भारत-बांग्लादेश सीमा की सुरक्षा, चप्पे-चप्पे पर रखी जा रही नजर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 4 जनवरी को त्रिपुरा की यात्रा करने वाले हैं। उनकी यात्रा को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल ने भारत-बांग्लादेश सीमा की सुरक्षा बढ़ा दी है। वह अगरतला स्थित महाराजा बीर बिक्रम (MBB) एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे।

Security tightened at India Bangladesh border in Tripura ahead of PM Modi visit to state
Author
Agartala, First Published Jan 2, 2022, 7:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अगरतला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 4 जनवरी को त्रिपुरा (Tripura) की यात्रा करने वाले हैं। उनकी यात्रा को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल ने भारत-बांग्लादेश सीमा (India Bangladesh Border) की सुरक्षा बढ़ा दी है। सुरक्षा बल के जवान चप्पे-चप्पे पर नजर रख रहे हैं। सीमा पर सुरक्षा बल के जवानों की अतिरिक्त तैनाती भी की गई है। बीएसएफ के 120वीं बटालियन के कमांडेंट रत्नेश कुमार ने कहा कि जब भी राज्य में वीवीआईपी मूवमेंट होता है सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी जाती है ताकि कोई अप्रिय घटना नहीं हो। सीमा पर पेट्रोलिंग भी बढ़ाई गई है। 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चार दिसंबर को त्रिपुरा के अगरतला स्थित महाराजा बीर बिक्रम (MBB) एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे।  केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के वरिष्ठ अधिकारी भी कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। भाजपा के सूत्रों के अनुसार इस दौरान प्रधानमंत्री स्वामी विवेकानंद स्टेडियम (Swami Vivekananda Stadium) में सभा को संबोधित भी करेंगे। 

3,400 करोड़ की लागत से हुआ है निर्माण
नए टर्मिनल भवन के उद्घाटन के साथ ही महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट की गिनती देश के इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स में होने लगेगी। नये एकीकृत टर्मिनल इमारत का निर्माण 3,400 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। 20 चेक-इन काउंटरों के साथ एनआईबीटी एक दिन में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों सहित 1,200 यात्रियों को संभालने में सक्षम होगा।

त्रिपुरा में 856 किलोमीटर लंबी है अंतरराष्ट्रीय सीमा 
गौरतलब है कि भारत और बांग्लादेश की सीमा 4096 किलोमीटर लंबी है। इसमें से 856 किलोमीटर लंबी सीमा त्रिपुरा में है। त्रिपुरा में भारत-बांग्लादेश सीमा पर पूरी तरह बाड़बंदी नहीं हो पाई है। इसे अगले साल तक पूरा करने का लक्ष्य है। भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के 80-85 फीसदी हिस्से में बाड़ लगाई जा चुकी है। बिना बाड़बंदी वाले इलाके में खास निगरानी की जरूरत पड़ती है।

 

ये भी पढ़ें

India-Pakistan ने न्यूक्लियर जानकारियों को किया साझा, 31 साल से लगातार दोनों देश एक दूसरे को सौंपते हैं लिस्ट

weather report:कश्मीर घाटी में 4-6 जनवरी तक भारी बर्फबारी का अलर्ट, कई राज्यों में चलेगी शीतलहर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios