Asianet News HindiAsianet News Hindi

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, आप हथियार बना सकते हैं, लेकिन करोना से नहीं लड़ सकते, यही इंसान की हैसियत

पूरी दुनिया में कोरोनावायरस का कहर जारी है। अब तक 8 हजार लोग इससे अपनी जान गंवा चुके हैं। भारत में भी 3 लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को इसपर चिंता जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने सतर्क रहने की भी अपील की। 

supreme court on coronavirus, You can make weapons, but you can not fight covid 19 KPP
Author
New Delhi, First Published Mar 18, 2020, 4:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पूरी दुनिया में कोरोनावायरस का कहर जारी है। अब तक 8 हजार लोग इससे अपनी जान गंवा चुके हैं। भारत में भी 3 लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को इसपर चिंता जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने सतर्क रहने की भी अपील की। सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा, यह कलयुग है, फिर भी हम वायरस से नहीं लड़ सकते। 

जस्टिस मिश्रा ने कहा, हर 100 साल में महामारी होती है। वायरस के सामने हम बैने साबित होते हैं। यह कलयुग है, फिर भी हम वायरस से नहीं लड़ सकते। यही इंसान की हैसियत है। यह मामला सिर्फ सरकार पर नहीं छोड़ा जा सकता है। हम सबको कोशिश करनी चाहिए। उन्होंने कहा, इंसान की कमजोरी देखिए। हथियार तो बना सकता है, लेकिन वायरस से लड़ नहीं सकते हैं।'

वकील के साथ 5-6 वकील आने पर नाराज हुए जज
जस्टिस मिश्रा ने यह टिप्पणी उस वक्त की जब जस्टिस एमआर शाह ने एक वरिष्ठ वकील को अपने साथ 5-6 साथी वकील लाने पर टोका। जबकि इससे पहले ही सुप्रीम कोर्ट यह साफ कर चुका है कि कोर्ट में सुनवाई के वक्त केवल संबंधित वकील ही रहें। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के बढ़ते हुए असर को देखते हुए सिर्फ चार बेंच के द्वारा सुनवाई करने का फैसला किया है। इसके अलावा कोर्ट ने कहा है कि सिर्फ आधा स्टाफ ही ड्यूटी पर आएगा। 

भारत में 148 मामले आए सामने 
भारत में कोरोने वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 148 हो गई है। बढ़ते संक्रमण के बीच अब तक 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है। जबकि 13 संक्रमित स्वस्थ भी हुए हैं। 
देश भर में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च अगले एक हफ्ते में दो रैपिड लैब और 49 नए जांच केंद्र शुरू करने का निर्णय लिया है। रैपिड लैब दिल्ली-एनसीआर और भुवनेश्वर में शुरू की जाएंगी। 
 
रविवार रात से मंगलवार रात तक यानी 48 घंटों में संक्रमितों की संख्या 99 से बढ़कर 148 तक पहुंच गई है। इसमें 22 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।

पढ़ें:  Fight against corona @18March: कोरोना की वजह से वैष्णों देवी यात्रा बंद, अब तक 149 संक्रमित ...

क्या हर 100 साल में हो रही महामारी? 

सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर तमाम प्रकार की जानकारियां शेयर की जा रहीं हैं। इनमें कुछ तो सही हैं और कुछ मात्र अफवाह हैं। इसी तरह से एक इंफोग्राफिक्स भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि हर 100 साल में दुनिया पर महामारी की मार पड़ रही है। कोरोना को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह 400 साल में चौथी महामारी है। हालांकि, यह दावा गलत है।

पढ़ें: Fact Check : हर 100 साल में दुनिया पर पड़ रही नई महामारी की मार, जानें क्या है सच्चाई?
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios