नई दिल्ली. तकरीबन 7 महीने के लॉकडाउन के बाद धीरे-धीरे जिंदगी पटरी पर लौट रही है। अनलॉक 4.0 के तहत आज से कई राज्यों में 9वीं से 12 वीं तक के स्कूल आंशिक तौर पर खुल जाएंगे। कई हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स में भी क्लासेस शुरू हो जाएंगी। देश में अब स्पोर्ट्स, कल्चरल, पॉलिटिकल, सोशल, धार्मिक, एकेडमिक, एंटरटेनमेंट से जुड़े इवेंट्स भी होने लगेंगे।
वहीं इंडियन रेलवे आज से 40 क्लोन ट्रेनें चलाने जा रहा है। इन ट्रेनों का शेड्यूल भी जारी कर दिया गया है। यूपी में स्कूल कालेज नहीं खुलेंगे, हांलाकि ताजमहल आज से खोलने का फैसला किया गया है। 

रेलवे ने सोमवार से 20 जोड़ी यानी 40 क्लोन स्पेशल ट्रेन चलाने की तैयारी पूरी कर ली है। ये ट्रेन 12 सितंबर से शुरू की गई 40 जोड़ी स्पेशल ट्रेन की डुप्लीकेट की तरह काम करेंगी। एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी ने रविवार को बताया कि ज्यादा यात्री संख्या वाले रूट पर चलने वाली ये क्लोन ट्रेन अपनी मूल ट्रेन के मुकाबले स्टेशन से पहले रवाना की जाएंगी। 

ऐसी होंगी क्लोन ट्रेन
19 जोड़ी क्लोन ट्रेन में 18-18 डिब्बे होंगे। 01 जोड़ी ट्रेन लखनऊ-दिल्ली के बीच 22 डिब्बे की रहेगी। हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन के बराबर इनका किराया होगा। 10 दिन का एडवांस रिजर्वेशन कराने की सुविधा होगी। डायनामिक फेयर वाला सिस्टम इन पर लागू नहीं होगा।

4 लाख लोगों की जिंदगी में होगा उम्मीदों का सवेरा 
सोमवार को ताजमहल पर्यटकों के लिए खोले जाने के बाद इससे जुड़े करीब चार लाख लोगों की जिंदगी में उम्मीदों का नया सवेरा होगा। लंबे समय से बेकार पड़े हाथों को फिर रोजगार मिलेगा। मार्बल इनले, जरदोजी, रेस्त्रां जैसे कारोबार एक बार फिर पहले जैसे खड़े हो सकेंगे। होटल उद्यमी, फोटोग्राफर, गाइड भी मोहब्बत की निशानी में पर्यटकों का स्वागत करने को तैयार हैं। 188 दिन बाद आज से ताज का दीदार फिर से किया जा सकेगा।