Asianet News HindiAsianet News Hindi

वायुसेनाध्यक्ष वीआर चौधरी से मिले तरुण विजय, उत्तराखंड युद्ध स्मारक शौर्यस्थल आने का दिया निमंत्रण

उत्तराखंड के वीर शहीदों की याद में राज्य के चीड़बाग में युद्ध स्मारक शौर्य स्थल का निर्माण 2017 में कराया गया था। 16 दिसंबर 2917 को इस शौर्यस्थल का शुभारंभ किया गया था। इस शहीद स्थली की देखरेख पूर्व सांसद तरुण विजय की अध्यक्षता में गठित समिति करती है।

Tarun Vijay met IAF chief Air Chief Marshal VR Chaudhary, invited for Uttarakhand War Memorial, DVG
Author
First Published Sep 4, 2022, 8:58 PM IST

Uttarakhand War Memorial: बीजेपी के पूर्व सांसद व उत्तराखंड युद्ध स्मारक शौर्यस्थल के अध्यक्ष तरुण विजय ने रविवार को भारतीय वायुसेनाध्यक्ष एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी से मुलाकात की है। पूर्व सांसद ने वायुसेनाध्यक्ष को शौर्य स्थल की सहायता के लिए धन्यवाद देने के साथ उनको शौर्य स्मारक पर आने के लिए आमंत्रित किया। 

वायुसेना मुख्यालय पर की मुलाकात

उत्तराखंड युद्ध स्मारक शौर्य स्थल के अध्यक्ष तरुण विजय ने वायुसेनाध्यक्ष वीआर चौधरी से वायुसेना मुख्यालय दिल्ली में मुलाकात की। मीटिंग में उन्होंने युद्ध स्मारक शौर्य स्थल के निर्माण में की गई सहायता के लिए आभार जताया। वायुसेनाध्यक्ष वीआर चौधरी ने तरुण विजय को शौर्य स्थल निर्माण के लिए साधुवाद देते हुए भविष्य में इस स्थल के लिए किसी प्रकार की सहायता के लिए आश्वस्त किया। श्री विजय ने एयरचीफ मार्शल वीआर चौधरी को शौर्यस्थल पधारने के लिए आमंत्रित किया।

क्या है युद्ध स्मारक शौर्य स्थल?

उत्तराखंड के वीर शहीदों की याद में राज्य के चीड़बाग में युद्ध स्मारक शौर्य स्थल का निर्माण 2017 में कराया गया था। 16 दिसंबर 2917 को इस शौर्यस्थल का शुभारंभ किया गया था। इस शहीद स्थली की देखरेख पूर्व सांसद तरुण विजय की अध्यक्षता में गठित समिति करती है। शौर्य स्थल का उद्घाटन तत्कालीन रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने किया था जबकि इस स्मारक के निर्माण के दौरान भूमिपूजन मेजर जनरल बलराज मेहता व तरुण विजय ने किया था। चीड़बाग में करीब एक एकड़ भूमि में बने इस स्मारक के निर्माण में दो करोड़ रुपये से अधिक खर्च किया गया है। यहां उत्तराखंड के डेढ़ हजार से अधिक शहीद वीरों के नाम दर्ज हैं। स्मारक में एक तिरंगा भी फहराया गया है।

यह भी पढ़ें:

कौन हैं साइरस मिस्त्री जिनकी रोड एक्सीडेंट में चली गई जान, टाटा ग्रुप से हुए विवाद में जुड़ा है इनका नाम

Tata Group के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का निधन, रोड एक्सीडेंट में गंवाई जान

बेंगलुरु में जाम से आईटी कंपनियों को 225 करोड़ रुपये की चपत, ORR में 5 घंटे फंसे रहे कर्मचारी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios