छोटे बालों से अचानक बढ़ाने लगा दाढ़ी, निकाह के सवाल पर कहता-'जन्नत में 72 हूरें उसका इंतजार कर रही हैं मौसी!'

| Dec 02 2022, 09:53 AM IST

छोटे बालों से अचानक बढ़ाने लगा दाढ़ी, निकाह के सवाल पर कहता-'जन्नत में 72 हूरें उसका इंतजार कर रही हैं मौसी!'

सार

मंगलुरु ब्लास्ट में अरेस्ट आतंकी  मोहम्मद शारिक उर्फ शरीक की मौसी ने इन्वेस्टिगेशन में बड़ा खुलासा किया है। उनके अनुसार, शारिक इस्लाम, दीन, नमाज और इबादत में बिलीव करता था। वह पांचों वक्त की नमाज पढ़ता था। लेकिन अचानक उसमें बदलाव आने लगा। पहले उसके छोटे बाल थे, लेकिन फिर दाढ़ी बढ़ा ली।

मेंगलुरु(Mangaluru). कर्नाटक के मेंगलुरू में हुए ऑटोरिक्शा विस्फोट केस मामले में इन्वेस्टिगेशन के दौरान कई बड़े राज़ सामने आए हैं। इस मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने अपने हाथ में ले लिया है।NIA ने गुरुवार को कहा कि 19 नवंबर को मंगलुरु में ऑटोरिक्शा में हुए विस्फोट की जांच अपने हाथ में ले ली है, जिसमें मुख्य संदिग्ध समेत दो लोग घायल हो गए थे। इस्लामी रेसिस्टेंस काउंसिल  (IRC) एक अल्पज्ञात संगठन(little known outfit) ने कथित तौर पर विस्फोट के लिए जिम्मेदारी का दावा करते हुए यह कहा कि उसके मुजाहिद भाइयों में से एक मोहम्मद शरीक ने "कादरी में हिंदू मंदिर पर हमला करने का प्रयास किया। कांकनाडी थाना क्षेत्र के अंतर्गत हुई इस घटना में ऑटो चालक और कथित मुख्य संदिग्ध शारिक घायल हो गया था।

19 नवंबर की रात करीब 7:40 बजे मेंगलुरु शहर के बाहर चलते ऑटो में एक कम तीव्रता वाला विस्फोट हुआ था। इसमें यात्री बनकर सफर कर रहा शारिक और ऑटो ड्राइवर पुरुषोत्तम पुजारी घायल हो गए थे। 24 वर्षीय मोहम्मद शारिक इस विस्फोट में झुलस गया था। फिलहाल शहर के एक अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। ADGP( लॉ एंड ऑर्डर) आलोक कुमार ने कहा था-"हमारी प्राथमिकता यह देखना है कि वह जीवित रहे, ताकि पूछताछ अपने अंजाम तक पहुंच सके।

Subscribe to get breaking news alerts

पढ़िए कुछ बड़े पॉइंट्स...

जन्नत में 72 हूरों के चक्कर में आतंकवादी बन गया शारिक, पढ़िए 10 पॉइंट में कहानी...
1.
मंगलुरु ब्लास्ट में अरेस्ट आतंकी  मोहम्मद शारिक उर्फ शरीक की मौसी ने इन्वेस्टिगेशन में बड़ा खुलासा किया है। उनके अनुसार, शारिक इस्लाम, दीन, नमाज और इबादत में बिलीव करता था। वह पांचों वक्त की नमाज पढ़ता था। लेकिन अचानक उसमें बदलाव आने लगा। पहले उसके छोटे बाल थे, लेकिन फिर दाढ़ी बढ़ा ली।

2.दैनिकभास्करडॉट की एक रिपोर्ट के अनुसार, मौसी ने बताया कि निकाह के सवाल पर शारिक अकसर कहता था कि वो कुछ ऐसा करने वाला है कि जन्नत जाकर 72 हूरों (परी) से मिलेगा।

3. शारिक ISIS के वांटेड आतंकी अब्दुल मतीन के संपर्क में था। दोनों के घर 50 मीटर की दूरी पर हैं। पुलिस का मानना है कि सितंबर में शिमोगा में हुए ब्लास्ट का भगौड़े आतंकी अराफात अली से भी शारिक जुड़ा हुआ है। यह भी इन दोनों के करीब ही रहता है। शिमोगा में अराफात, शारिक, माज मुनीर और सैय्यद यासीन एक साथ थे।

4.मतीन की 2019 से NIA को तलाशहै। NIA सूत्रों के मुताबिक वह दुबई में हो सकता है। वो ISIS के भारतीय मॉड्यूल ‘अल-हिंद’ का एक्टिव मेंबर है। उस पर 3 लाख का इनाम घोषित किया गया है।

5.शारिक शिमोगा जिले के तिर्थाली कस्बे के शोपूगुड्डे का रहने वाला है। इन्वेस्टिगेशन में पता चला है कि वो  कुख्यात आतंकी संगठन ISIS के इशारे पर भारत में खलीफा (शरिया कानून) का शासन स्थापित करने की साजिश में शामिल था।

6.मतीन मोहल्ले के कई लड़कों का ब्रेन वॉश करने में लगा था। जांच में खुलासा हुआ कि वो पड़ोस में रहने वाले तीन और लड़कों को उकसा चुका था। मतीन पर टेरर फंडिंग का भी आरोप है।

7. पुलिस ने मामले में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (provision of the Unlawful Activities-Prevention-Act-UAPA) के एक कड़े प्रावधान लागू करते हुए इस घटना के लिए शारिक को जिम्मेदार ठहराया था। कर्नाटक सरकार ने इस घटना की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से कराने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय को लिखा था।

8. सरकार ने एजेंसी द्वारा जांच की सिफारिश करते हुए गृह मंत्रालय को लिखा था, "चूंकि यह एनआईए अधिनियम, 2008 की धारा 6 के तहत एक अनुसूचित अपराध है, इसलिए मामले को आगे की आवश्यक कार्रवाई के लिए प्रस्तुत किया जा रहा है।"

9. कर्नाटक के डीजीपी प्रवीण सूद ने कहा था कि केंद्र से औपचारिक निर्देश मिलने से पहले ही एनआईए और अन्य केंद्रीय एजेंसियां ​​मामले को सुलझाने के लिए पहले दिन से ही राज्य पुलिस के साथ काम कर रही हैं।

10. इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी इस्लामिक रेजिस्टेंस काउंसिल(Islamic resistance council) नाम के एक ग्रुप ने ली है। उसने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में कहा कि उसकी योजना कादरी मंदिर पर हमला करने की थी। कादरी मंजूनाथ मंदिर कर्नाटक राज्य में मंगलौर में एक ऐतिहासिक मंदिर है। क्लिक करके पढ़िए पूरी डिटेल

यह भी पढ़ें
लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट 2021: मास्टरमाइंड 10 लाख के ईनामी वांटेड टेरोरिस्ट हैप्पी को NIA ने धर दबोचा
सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस: मास्टरमाइंड गैंगस्टर गोल्डी बरार कैलिफोर्निया में हिरासत में लिया गया

 

 

Related Stories

Top Stories