Asianet News HindiAsianet News Hindi

JAY HO: गोल्डन बॉय का जेवलिन और लवलीना के बॉक्सिंग ग्लव्ज की E-Auction में बोली 10cr तक पहुंची

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) को मिले गिफ्ट्स का ऑनलाइन ऑक्शन कल्चरल मिनिस्ट्री कर रही है। करीब 1300 सामानों का ऑनलाइन ऑक्शन 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलेगा। इसमें ओलंपिक में इतिहास रचने वाले खिलाड़ियों की खेल सामग्री भी है।

Tokyo Olympics and Paralympics 2020, Online bidding for sporting goods used by athletes
Author
New Delhi, First Published Sep 18, 2021, 12:27 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. Tokyo Olympic में भाला फेंक(Javelin throw) में भारत के लिए गोल्ड मेडल लाकर इतिहास रचने वाले गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा और भारतीय मुक्केबाज लवलीना एक और गौरव हासिल करने की ओर अग्रसर हैं। Narendra Modi) को मिले गिफ्ट्स का ऑनलाइन ऑक्शन (E-Auction) कल्चरल मिनिस्ट्री कर रही है। इसमें नीरज के जेवलिन और लवलीना के बॉक्सिंग ग्लव्ज की अब तक 10 करोड़ रुपए की बोली लग चुकी है। जेवलिन की बेस प्राइज एक करोड़ रुपए, जबकि बॉक्सिंग ग्लव्ज की 80 लाख रुपए रखी गई है। करीब 1300 सामानों का ऑनलाइन ऑक्शन 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलेगा। इसमें ओलंपिक में इतिहास रचने वाले खिलाड़ियों की खेल सामग्री भी है।

यह भी पढ़ें-लग्जरी गाड़ियों के मामले में एक-दूसरे को टक्कर देते हैं IPL के 8 कप्तान, इनके पास है करोड़ों की धांसू कार

Boxing Gloves भी 10 करोड़ तक
भारतीय मुक्केबाज लवलीना बोर्गोहेन (Indian boxer Lovlina Borgohain) के बॉक्सिंग ग्लव्ज की बोली भी 10 करोड़ पहुंच गई है। इन्होंने टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं के लिए वेल्टरवेट (64-69 किग्रा) वर्गीकरण सेमीफाइनल में कांस्य पदक जीतकर देश को गौरव के साथ प्रफुल्लित कर दिया है। वह टोक्यो ओलंपिक में जीतने वाली तीसरी भारतीय मुक्केबाज बन गईं। इन बॉक्सिंग ग्लव्स का इस्तेमाल लवलीना बोर्गोहेन ने किया था। ये नीले रंग के हैं और नीचे तरफ स्ट्रैप्ड हैंडल हैं। इस पर खुद खिलाड़ी ने हस्ताक्षर किए हैं। लवलीना ओलंपिक में भारत की ओर से मेडल जीतने वाली तीसरी बॉक्सर और दूसरी महिला बॉक्सर हैं।

यह भी पढ़ें-नीरज चोपड़ा ने जब करीब से देखी थी मौत, हेडफोन निकालकर पूछा था- क्यों रो रहे हो

नमामि गंगे मिशन को दान की जाएगी राशि
नीलामी से मिलने वाला अमाउंट नमामि गंगे मिशन के लिए दान की जाएगी। इससे पहले 2019 में भी सितंबर में नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट ने बहुत सारी चीजों का ऑनलाइन ऑक्शन किया था और उसकी राशि भी नमामि गंगे मिशन को दान की गई थी। 

आप भी चाहें तो खरीद सकते हैं नीलाम होने वाले सामान
`इस ई-ऑक्शन में कोई भी व्यक्ति भाग ले सकता है। वह बोली में भाग लेने के लिए pmmementos.gov.in पर जाकर रजिस्टर कर सकता है।

यह भी पढ़ें-शास्त्री के बाद इस दिग्गज को बनाया जा सकता है भारत का हेड कोच, BCCI ने किया संपर्क

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios