Asianet News HindiAsianet News Hindi

Defence Industrial Corridor: यूपी में ब्रह्मोस एयरोस्पेस और भारत डायनेमिक्स लिमिटेड को जमीन आवंटित

21 फरवरी, 2018 को, पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बुंदेलखंड क्षेत्र (Bundelkhand) में 20,000 करोड़ रुपये के रक्षा औद्योगिक गलियारे की घोषणा की थी। बुंदेलखंड का इलाका, राज्य के सबसे पिछड़े क्षेत्रों में से एक है।

UP Defence Industrial Corridor, land alloted for BrahMos Aerospace and Bharat Dynamics Limited, Yogi Government DVG
Author
Lucknow, First Published Nov 10, 2021, 9:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ। केंद्र के डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (Defence Industrial Corridor) को यूपी में रफ्तार मिल गया है। प्रोजेक्ट के लिए दो बड़ी डिफेंस कंपनियों को राज्य के दो शहरों में जमीन आवंटित कर दिया गया है। योगी सरकार ने केंद्र की डिफेंस कॉरिडोर परियोजना के तहत लखनऊ में ब्रह्मोस एयरोस्पेस (BrahMos Aerospace) और झांसी में भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (Bharat Dynamics limited) को जमीन आवंटित की है।

पीएम ने 2018 में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का किया था ऐलान

21 फरवरी, 2018 को, पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बुंदेलखंड क्षेत्र (Bundelkhand) में 20,000 करोड़ रुपये के रक्षा औद्योगिक गलियारे की घोषणा की थी। बुंदेलखंड का इलाका, राज्य के सबसे पिछड़े क्षेत्रों में से एक है। डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर से एक लाख से अधिक नौकरियां पैदा होने की उम्मीद है। 

डिफेंस कॉरिडोर के छह नोड हैं, कंपनियों को दस करोड़ की सब्सिडी

यूपी में डिफेंस कॉरिडोर के छह नोड हैं। यह नोड्स अलीगढ़, आगरा, झांसी, चित्रकूट, कानपुर और लखनऊ हैं। यूपी एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (UPEIDA)को इस परियोजना की जिम्मेदारी दी गई है। चूंकि, बुंदेलखंड क्षेत्र सूखा प्रभावित और सूखा प्रवण क्षेत्र है, योगी सरकार ने ऐसे उद्योगपतियों के लिए पूंजीगत सब्सिडी की पेशकश की है जो 10 करोड़ रुपये तक का निवेश करने के इच्छुक हैं।

2.5 लाख रोजगार की उम्मीद

यह यूपी के लिए भी एक बड़ा वरदान साबित होने जा रहा है, क्योंकि यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर न केवल पीएसयू (PSU) आधार को पुनर्जीवित करेगा, बल्कि राज्य में विशाल एसएमई इको सिस्टम (SME Ecosystem) को भी एक्टिव करेगा। इसके माध्यम से कुल मिलाकर लगभग 2.5 लाख रोजगार और 50,000 करोड़ रुपये के कुल निवेश की उम्मीद है।

डिफेंस कॉरिडोर के लिए 1,445 हेक्टेयर का अधिग्रहण

यूपी सरकार के अनुसार, यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर की योजना 5,000 हेक्टेयर से अधिक है, जिसमें से 1,445 हेक्टेयर का अधिग्रहण किया गया है। अलीगढ़ नोड में सभी उपलब्ध भूमि 19 कंपनियों को आवंटित की गई है, जिनसे लगभग 1,245 करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद है। वास्तव में, ऊर्जा, रसद और खाद्य प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों के तहत निवेश को बढ़ावा देने के लिए 20 क्षेत्रीय नीतियां बनाने के अलावा, यूपी सरकार ने भूमि बैंक के तहत भूमि के बड़े हिस्से का अधिग्रहण किया था जिसे बिना समय बर्बाद किए निवेशकों को उपलब्ध कराया जा रहा है।

कौन है भारत डायनेमिक्स लिमिटेड?

भारत डायनेमिक्स लिमिटेड भारत सरकार का उद्यम है जो सशस्त्र बलों के लिए मिसाइल प्रणाली और संबद्ध उपकरण बनाती है। ब्रह्मोस एयरोस्पेस, ब्रह्मोस मिसाइलों के निर्माण के लिए भारतीय और रूसी सरकारों (India and Russia joint Venture) का एक संयुक्त उद्यम है। राज्य सरकार ने 2018 में एक निवेशक शिखर सम्मेलन आयोजित किया और उस समय लगभग 1.84 लाख करोड़ रुपये के निवेश के 43% लीड कार्यान्वयन के सक्रिय चरणों में हैं।
51,923 करोड़ रुपये की 218 परियोजनाओं ने वाणिज्यिक उत्पादन शुरू कर दिया है जबकि  37,376 करोड़ रुपये की 130 परियोजनाएं कार्यान्वयन के अधीन हैं।

कारोबारियों को भा रहा यूपी

कारोबार सुगमता (ease of doing business) के मामले में यूपी पहले से ही दूसरे स्थान पर है, सिंगल विंडो पोर्टल निवेश मित्र, जो निवेशकों को सिंगल विंडो (single window) के माध्यम से 27 विभागों की 340 से अधिक सेवाएं दे रहा है, ने उन्नाव में एक लेदर पार्क (Leather park in Unnao) पर काम करने में मदद की है। यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) के बगल में एक लॉजिस्टिक हब (logistic hub) और हेरिटेज सिटी (Heritage city) की स्थापना की जा रही है।

यह भी पढ़ें

MPLAD से रोक हटी, पांच करोड़ की बजाय दो-दो करोड़ रुपये सांसदों को मिलेंगे

Dalai Lama ने China की खुलकर की आलोचना, बोले-भारत में शांति से रहना चाहता

Delhi में Yamuna Ghat पर छठ मनाने को लेकर बवाल, BJP सांसद Pravesh Verma ने समर्थकों के साथ बैरिकेड्स तोड़ा, भारी भीड़ के साथ पहुंचे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios