Asianet News Hindi

मदद को आगे आए भारत के दोस्त: अमेरिकी कंपनी गिलिएड भारत को रेमडेसिविर की 45 लाख वॉयल्स फ्री देगी

अमेरिका की एक बड़ी फॉर्मास्यूटिकल्स कंपनी गिलियड (Gilead)  कोरोना संक्रमण से जूझ रहे भारत की मदद को आगे आई है। कंपनी ने भारत को वेक्लेरी ( रेमडेसिविर) की 450,000 वॉयल्स दान करने का ऐलान किया है। बता दें कि भारत इस समय दुनिया का सबसे संक्रमित देश बना हुआ है। भारत में अब तक 1,76,25,880 केस आ चुके हैं। इसमें से 1,97,880 की मौत हो चुकी है। हालांकि अब तक 1,45,45,655 ठीक भी हो चुके हैं।

US company Gilead will donate 450000 vials remedies to India kpa
Author
New Delhi, First Published Apr 27, 2021, 10:06 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहे भारत की मदद के लिए दुनियाभर के देश आगे आए हैं। अमेरिका की एक बड़ी बायोफॉर्मास्यूटिकल्स कंपनी गिलियड (Gilead) ने भारत को वेक्लेरी ( रेमडेसिविर) की 450,000 वॉयल्स दान करने का ऐलान किया है। बता दें कि भारत इस समय दुनिया का सबसे संक्रमित देश बना हुआ है। भारत में अब तक 1,76,25,880 केस आ चुके हैं। इसमें से 1,97,880 की मौत हो चुकी है। हालांकि अब तक 1,45,45,655 ठीक भी हो चुके हैं।

गिलियड साइंसेज के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी जोलेना मर्सियर ने सोमवार को बताया कि भारत पर कोरोना केसों का विनाशकारी प्रभाव पड़ रहा है। इससे स्वास्थ्य सेवाओं पर भार बढ़ा दिया है। कंपनी ने कहा कि वो वह स्वैच्छिक लाइसेंसिंग भागीदारों को तकनीकी सहायता, नई स्थानीय मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटीज और सक्रिय दवा संघटक (एपीआई) के दान के जरिये रेमेडिसविर के प्रोडक्शन को बढ़ाना चाहती है। उसे भारत में  रेमडेसिविर (Remdesivir) को गंभीर रूप से बीमार लोगों के उपचार के लिए आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिली है।

यह भी पढ़ें

कोरोना से बचने का सबसे असरदार तरीका है डबल मास्किंग, जानें कैसे मास्क लगाकर ज्यादा सेफ रह सकते हैं 

देश के 4 बड़े डॉक्टरों ने कोरोना पर जो बातें बताईं, उन्हें जानकर संक्रमण और मौत के डर से बच सकते हैं

इंडिया तैयार है: 1 मई से शुरू होगा 18+ का वैक्सीनेशन, जानें रजिस्ट्रेशन से लेकर कुछ दूसरी जरूरी बातें

क्या रेमडेसिविर है कोरोना का इलाज, जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट
  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios