Asianet News HindiAsianet News Hindi

Monsoon Update: यूपी, मप्र, छग और ओडिशा में भारी बारिश का अलर्ट, जानिए किस राज्य के लिए क्या है भविष्यवाणी

दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी के साथ ही भारी बारिश का दौर जाने लगा है। हालांकि मौसम विभाग ने आजकल में उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ और ओडिशा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

Withdrawal of southwest monsoon in the country, heavy rain alert in some states, weather report kpa
Author
First Published Sep 22, 2022, 9:09 AM IST

मौसम डेस्क. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आजकल में उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ और ओडिशा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। उत्तर मध्य महाराष्ट्र और बिहार में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा उत्तर मध्य महाराष्ट्र और बिहार में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और तेलंगाना, विदर्भ, हरियाणा और उत्तरी पंजाब के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। जबकि गंगीय पश्चिम बंगाल, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र, तटीय कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश संभव है।(तस्वीर-मथुरा)

बता दें कि दक्षिण-पश्चिम मानसून(south-west monsoon) ने दक्षिण-पश्चिम राजस्थान के कुछ हिस्सों और गुजरात के कच्छ से पीछे हटना शुरू कर दिया है। यानी मानसून की वापसी शुरू हो गई है। हालांकि 8 राज्यों में धान की फसल वाले राज्यों उत्तर प्रदेश और बिहार में कम बारिश हुई है। 2016 के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि सितंबर के तीसरे सप्ताह में मानसून की वापसी शुरू हो गई है। मौसम कार्यालय ने कहा कि मानसून की वापसी की शर्तें- पांच दिनों तक बारिश नहीं होना, क्षेत्र में एंटी-साइक्लोन और शुष्क मौसम की स्थिति होती है। दक्षिण-पश्चिम मानसून ने इसे पूरा किया है। दक्षिण पश्चिम मानसून की वापसी की रेखा खाजूवाला, बीकानेर, जोधपुर और नलिया से होकर गुजरती है।

बीते दिन इन राज्यों में हुई बारिश
स्काईमेट वेदर(skymet weather) के अनुसार, बीते दिन दक्षिण पूर्व उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों और ओडिशा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। हिमाचल प्रदेश और दमन में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी भारी हुई। दिल्ली, हरियाणा के कुछ हिस्सों, उत्तराखंड, उत्तरी पंजाब, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा के कुछ हिस्सों, उत्तरी तेलंगाना, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, मेघालय, पूर्व असम और अरुणाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। पूर्वोत्तर भारत, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, तटीय आंध्र प्रदेश, लक्षद्वीप, गोवा में कुछ स्थानों पर और पूर्वी राजस्थान और कर्नाटक में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।

Withdrawal of southwest monsoon in the country, heavy rain alert in some states, weather report kpa

(तस्वीर-नोएडा)

दिल्ली के कुछ हिस्सों में दो-तीन दिनों में बारिश की भविष्यवाणी 
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि बुधवार को दिल्ली के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई और अगले दो-तीन दिनों में कुछ और बारिश होने की संभावना है। पश्चिम, मध्य, उत्तर, उत्तर-पश्चिम, दक्षिण और दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई। अगले कुछ दिनों में वर्षा कुछ हद तक बड़े वर्षा घाटे (अकेले सितंबर में 49 प्रतिशत) को कवर करने में मदद कर सकती है। इससे हवा भी साफ रहेगी और तापमान भी नियंत्रित रहेगा।

शहर में बुधवार को न्यूनतम तापमान 25.1 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 34.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी ने कहा कि गुरुवार को दिल्ली के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। सफदरजंग वेधशाला ने सितंबर में अब तक सामान्य 104.8 मिमी के मुकाबले सिर्फ 52.9 मिमी बारिश दर्ज की है। अगस्त में 41.6 मिमी बारिश दर्ज की गई थी, जो कम से कम 14 वर्षों में सबसे कम थी, जो उत्तर पश्चिम भारत में किसी भी अनुकूल मौसम प्रणाली की अनुपस्थिति के कारण थी। कुल मिलाकर, दिल्ली में एक जून से सामान्य रूप से 405.3 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जब मानसून का मौसम 1 जून से शुरू होता है। आईएमडी ने मंगलवार को कहा था कि दक्षिण-पश्चिम मानसून 17 सितंबर की सामान्य तारीख के तीन दिन बाद दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और उससे सटे कच्छ के कुछ हिस्सों से वापस आ गया है।  

यह भी पढ़ें
Monsoon-आ अब लौट चलें: कम बारिश के बावजूद UP के किसानों को टेंशन नहीं, कई राज्यों में धान पर असर
पाकिस्तान में बाढ़ पीड़ित महिलाओं की आपबीती सुन शॉक्ड हुई हॉलीवुड की ये एक्ट्रेस, देखी नहीं गई बच्चों की हालत

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios