Asianet News HindiAsianet News Hindi

दुनिया का सबसे बड़ा जंगल सफारी गुरुग्राम में होगा विकसित, शारजाह के 5 गुना होगा अरावली रेंज में बनने वाला Park

इस प्रोजेक्ट से अरावली पर्वत श्रृंखला को संरक्षित करने में मदद मिलेगी। अरावली पर्वत श्रृंखला पक्षियों, जंगली जानवरों और तितलियों की कई प्रजातियों का घर है। एक सर्वे के अनुसार अरावली रेंज में 180 पक्षियों की प्रजातियां, 15 स्तनधारियों व 29 जलीय जानवरों व सरीसृपों की प्रजातियां तथा 57 तितलियों की प्रजातियां हैं।

World Largest jungle safari park will develop in Aravalli range in Gurugram, Jungle safari park area, species etc, DVG
Author
First Published Sep 30, 2022, 12:50 AM IST

Gurugram to build World's Largest safari: हरियाणा में दुनिया का सबसे बड़ा जंगल सफारी पार्क विकसित किया जाएगा। यह सफारी 10 हजार एकड़ की होगी। हरियाणा की अरावली रेंज में विकसित किए जाने वाला यह सफारी पार्क गुरुग्राम और नूंह जिलों को कवर करेगा। यह परियोजना दुनिया में इस तरह की सबसे बड़ी परियोजना होगी।

दुनिया के सबसे बड़े सफारी पार्क के पांच गुना होगा यह

दुनिया का सबसे बड़ा क्यूरेटेड सफारी पार्क अफ्रीका के बाहर है। यह शारजाह सफारी करीब 2000 एकड़ क्षेत्र में फैला है। लेकिन भारत में प्रस्तावित यह सफारी पार्क पांच गुना अधिक क्षेत्र में होगा। इस पार्क में एक बड़ा हर्पेटेरियम (सरीसृप और उभयचरों के लिए एक प्राणी प्रदर्शनी स्थान), एवियरी / पक्षी पार्क, बड़ी बिल्लियों के लिए चार क्षेत्र, शाकाहारी जीवों के लिए एक बड़ा क्षेत्र शामिल होगा। इसके अलावा विदेशी पशु पक्षी, पानी के नीचे की दुनिया को भी विकसित किया जाएगा।

जंगल सफारी से पर्यटन उद्योग में आएगा बूम

हरियाणा राज्य सरकार ने बताया कि गुरुग्राम में जंगल सफारी को विकसित करने की संभावनाओं और इसको समझने के लिए केंद्रीय वन, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव व हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने ने शारजाह सफारी का दौरा किया है। लौटने के बाद मुख्यमंत्री ने हरियाणा में जंगल सफारी पर काम शुरू करने पर जोर देते हुए इसकी खूबियां बताई। उन्होंने बताया कि यह सफारी, गुरुग्राम क्षेत्र में पर्यटन उद्योग में बेतहाशा बढ़ोत्तरी करने के साथ पर्यावरणीय संतुलन को स्थापित करने में भी मदद करेगी। उन्होंने कहा कि इस सफारी की स्थापना से रोजगार के अवसर भी विकसित होंगे। उन्होंने बताया कि यह केंद्रीय वन, पर्यावरण मंत्रालय व हरियाणा सरकार का संयुक्त प्रोजेक्ट होगा। केंद्र सरकार, इस परियोजना के लिए धन उपलब्ध कराएगी। 

परियोजना को डिजाइन करने व प्रोजेक्ट के लिए दो कंपनियां शार्टलिस्टेड

सीएम ने बताया कि परियोजना के लिए इंटरनेशनल टेंडर जारी किया गया था। पार्क की डिजाइन व संचालन करने की एक्सपीरियंस रखने वाली दो इंटरनेशनल कंपनियों को सरकार ने शार्टलिस्ट किया है। दोनों कंपनियां को उनकी योग्यता पर फानइल किया जाएगा। 

अरावली क्षेत्र का होगा संरक्षण

इस परियोजना के लिए अरावली फाउंडेशन की स्थापना की जाएगी। इस प्रोजेक्ट से अरावली पर्वत श्रृंखला को संरक्षित करने में मदद मिलेगी। अरावली पर्वत श्रृंखला पक्षियों, जंगली जानवरों और तितलियों की कई प्रजातियों का घर है। एक सर्वे के अनुसार अरावली रेंज में 180 पक्षियों की प्रजातियां, 15 स्तनधारियों व 29 जलीय जानवरों व सरीसृपों की प्रजातियां तथा 57 तितलियों की प्रजातियां हैं।

यह भी पढ़ें:

बेंगलुरू शहर में हेलीकॉप्टर सेवा शुरू, 120 मिनट की यात्रा अब महज 15 मिनट में, शिरडी में भी कंपनी की सर्विस

पाकिस्तान से उठी आवाज, शहीद-ए-आजम भगत सिंह को भारत-पाकिस्तान दें सर्वोच्च सम्मान, पाक में नाम पर हो सड़क

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios