Asianet News HindiAsianet News Hindi

एश्ले बार्टी ने जीता विंबलडन: महिला सिंगल्स के फाइनल में पिलिसकोवा को हराया, 9 साल बाद तीन सेटों में हुआ फैसला

2012 के बाद यह पहली बार है जब विंबलडन में महिला सिंगल्स का फाइनल तीसरे और निर्णायक सेट में खेला गया।

Barty defeats Pliskova, wins maiden Wimbledon women's title
Author
London, First Published Jul 10, 2021, 10:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क.  एश्ले बार्टी (Ashleigh Barty) ने महिला सिंगल्स का विंबलडन ( Wimbledon) खिताब जीत लिया है। उन्होंने चेक गणराज्य की कारोलिना पिलिसकोवा (Karolina Pliskova) को हराकर अपना पहला विंबलडन खिताब जीता।  उन्होंने 6-3, 6-7, 6-3 से अपना मैच जीता। बार्टी का यह ओवरऑल दूसरा सिंगल्स का ग्रैंड स्लैम टाइटल है. नंबर-1 एश्ले बार्टी ने इससे पहले 2019 में फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था।

इस जीत के साथ ही बार्टी ने इतिहास रच दिया। वह 1980 में इवोन गुलागोंग के बाद से विंबलडन फाइनल जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई महिला खिलाड़ी हैं। इससे पहले पिलिसकोवा ने सेमीफाइनल में बेलारूस की दूसरी वरीयता प्राप्त आर्यना सबालेंका को एक घंटे 53 मिनट तक चले मैच में 5-7, 6-4, 6-4 से हराया था।

9 साल बाद तीन सेट में हुआ मुकाबला
2012 के बाद यह पहली बार है जब विंबलडन में महिला सिंगल्स का फाइनल तीसरे और निर्णायक सेट में खेला गया। नौ साल पहले, सेरेना विलियम्स ने सेंटर कोर्ट में महिला सिंगल्स के फाइनल में एग्निज़्का रदवांस्का को तीन सेटों में हराया था।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios