Asianet News HindiAsianet News Hindi

Uttarakhand Chunav 2022 : BJP में शामिल होते ही Congress पर बरसे किशोर उपाध्याय, जानिए क्या कहा

बीजेपी में शामिल होते ही किशोर उपाध्याय ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं उत्तराखंड को आगे ले जाने की भावना के साथ भाजपा में शामिल हुआ हूं। आपको कांग्रेस से पूछना चाहिए कि ऐसी स्थिति क्यों बनी है।

Uttarakhand Chunav 2022 Dehradun congress ex president kishore upadhyaya may join bjp stb
Author
Dehradun, First Published Jan 27, 2022, 8:18 AM IST

देहरादून :  उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Chunav 2022) की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, सियासत भी तेजी से बदल रही है। गुरुवार को कांग्रेस ने जहां पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय (kishore Upadhyay) को पार्टी से 6 साल के लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया तो दिन चढ़ने के साथ ही उन्होंने बीजेपी (BJP) की सदस्यता ले ली।  

प्रदेश को आगे ले जाना मकसद - उपाध्याय
वहीं बीजेपी में शामिल होते ही किशोर उपाध्याय ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं उत्तराखंड को आगे ले जाने की भावना के साथ भाजपा में शामिल हुआ हूं। आपको कांग्रेस (Congress) से पूछना चाहिए कि ऐसी स्थिति क्यों बनी है। उत्तराखंड की रक्षा, देश की रक्षा तभी संभव है, जब उत्तराखंड खुशहाल रहेगा, सुखी रहेगा। मुझे विश्वास है कि मेरी भावनाओं को संरक्षण इन साथियों से और प्रधानमंत्री मोदी जी से मिलेगा।

6 साल के लिए कांग्रेस से बाहर
वहीं, बीजेपी में जाने की अटकलों के बीच कांग्रेस ने किशोर उपाध्याय पर बड़ा एक्शन लिया है। उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। इससे पहले पार्टी ने उन्हें सभी पदों से हटा दिया था।

कांग्रेस ने सभी पदों से हटाया
कांग्रेस प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने किशोर उपाध्याय को सभी पदों से हटाने का आदेश जारी किया था। देवेंद्र यादव ने कहा था कि उत्तराखंड के लोग बदलाव के लिए तरस रहे हैं और बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकने का इंतजार कर रहे हैं। कुशासन और बाजेपी नेतृत्व से लोगों में नाराजगी है। चुनौती का सामना करना और उत्तराखंड की देवभूमि और यहां के लोगों की सेवा करना हम में से प्रत्येक का कर्तव्य है लेकिन दुख की बात है कि किशोर उपाध्याय इस लड़ाई को कमजोर करने और लोगों के हितों को कमजोर करने के लिए बीजेपी और अन्य राजनीतिक दलों के साथ मिल गए हैं।

इसे भी पढ़ें-Uttarakhand Chunav 2022 : दो फरवरी को मेनिफेस्टो जारी कर सकती है BJP, युवाओं-महिलाओं पर होगा फोकस

इसे भी पढ़ें-उत्तराखंड फतह करने का BJP का मेगा प्लान, प्रत्येक बूथ पर होंगी 10 मीटिंग, साधे जाएंगे बूथ अध्यक्ष-पन्ना प्रमुख

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios