Asianet News HindiAsianet News Hindi

पंजाब में AAP को तगड़ा झटका: विधायक रूपिंदर रूबी ने आधी रात को दिया इस्तीफा, Kejriwal को टैग कर लिखी ये बात

पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। जहां बठिंडा ग्रामीण से विधायक रुपिंदर कौर रूबी ने मंगलवार आधी रात को आप पार्टी से इस्तीफा दे दिया। जिसके बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई है। उन्होंने यह इस्तीफा सीएम केजरीवाल को टैग किया है।

punjab assembly elections 2022 mla bathinda rupinder kaur ruby resignation from app party in bathinda
Author
Bathinda, First Published Nov 10, 2021, 10:39 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़. पंजाब में अगले साल 2022 यानि दो महीने बाद विधानसभा चुनाव (punjab assembly elections 2O22) होने वाले हैं। इस बीच नेताआों का दल-बदलने का काम शुरू हो गया है। अपनी पार्टियों से नाराज होकर दूसरी पार्टी का दामन थाम रहे हैं। वहीं पंजाब में चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) को बड़ा झटका लगा है। जहां विधायक रुपिंदर कौर रूबी (mla rupinder kaur ruby)ने मंगलवार आधी रात को आप पार्टी से इस्तीफा दे दिया। जिसके बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई है।

केजरीवाल और भगमंत मान को भेजा इस्तीफा
विधायक रुपिंदर कौर ने आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल और पंजाब से आप नेता भगवंत मान (bhagwant mann) को अपना इस्तीफा ट्वीट के जरिए टैग किया है। जिसमें  उन्होंने लिखा कि श्रीमान अरविंद केजरीवाल जी एवं भगवंत मान जी, आपको बताना चाहती हूं कि मैं आम पार्टी से सदस्यता से इस्तीफा दे रही हूं। कृपया मेरा इस्तीफा स्वीकार किया जाए।

इस्तीफा देने की कहीं ये तो वजह नहीं
विधायक रुपिंदर कौर के रिजाइन के पीछे की वजह उनके पिता की तबीयत ठीक नहीं होना भी बताया जा रहा है। इसलिए वह प्रदेश में हो रहे पार्टी के आयोजनों में हिस्सा नहीं ले पा रही थीं। वहीं दूसरी वजह उनकी पार्टी के प्रति नारजगी भी सामने आ रही है। क्योंकि कुछ दिन पहले ही उन्होंने भगवंत मान को पंजाब का मुख्यमंत्री के चेहरा का समर्थन किया था। उन्होंने खुलकर कहा था कि केजरीवाल जी पंजाब में चुनाव जीतना चाहते हैं तो मान को सीएम के नाम की घोषणा करना चाहिए। लेकिन पार्टी ने कभी उनके नाम का सपोर्ट नहीं किया।

सीएम केजरीवाल के कार्यक्रम में नहीं पहुंची
बता दें कि पिछले माह 29 अक्टूबर को विधायक रुपिंदर कौर के अपने गृह जिले बठिंडा में सीएम अरविंद केजरीवाल की एक रैली थी। लेकिन इसमें वह शामिल नहीं हुई थीं। इतना ही नहीं, कार्यक्रमों के बेनर-पोस्टर में रुपिंदर कौर की ना तो फोटो होती थी और ना ही कोई नाम। तभी से कयास लगने की थे कि वह पार्टी छोड़ सकती हैं।

इस्तीफे से पहले सीएम चन्नी और सिद्धू से की मुलकात
चुनाव से ठीक पहले उनके इस्तीफा देने से पंजाब की सियासत में उनके नाम की चर्चा होने लगी है। सूत्रों की मानें तो विधायक रूपिंदर कौर कांग्रेस में शामिल हो सकती हैं। बताया जा रहा है कि उन्होंने मंगलवार देर रात इस्तीफा देने से पहले CM चरणजीत चन्नी ((CM  charanjit singh channi), पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत ( (navjot singh sidhu) और कांग्रेस प्रदेश प्रभारी हरीश चौधरी से मुलाकात की थी। इसलिए कहा जा रहा है कि इन नेताओं की सलाह के बाद ही उन्होंने इस्तीफा दिया है।

यह भी पढ़ें-पंजाब CM ने किए कई बड़े फैसले: 36 हजार कर्मचारी पक्के होंगे, वहीं मुख्यमंत्री ने Sidhu को भी किया खुश

यह भी पढ़ें-उत्तराखंड में मंत्री ने अपने MLA बेटे के साथ मिलकर BJP को दिया बड़ा झटका, CM के मनाने के बाद भी नहीं माने
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios