Asianet News HindiAsianet News Hindi

Punjab Elections 2022: कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा ऐलान, बीजेपी संग लड़ेंगे चुनाव,कहा-जीत हासिल करना ही लक्ष्य

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य का अगला विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस बारे में अमित शाह से उनकी बात हुई है। हालांकि, सीटों पर समझौता होना अभी बाकी है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य पंजाब विधानसभा चुनाव जीतना है और हम जीतेंगे।

Punjab Elections 2022,chandigarh,captain amrinder singh inaugurates his party punjab lok congress office, announce to fight elections with bjp stb
Author
Chandigarh, First Published Dec 6, 2021, 1:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़ : कांग्रेस (congress) का हाथ छोड़ 'पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी' बनाने वाले पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) के पार्टी दफ्तर का सोमवार को चंडीगढ़ (Chandigarh) में उद्घाटन हुआ। 2022 के चुनावी दंगल में ताल ठोकने की तैयारी कर रहे कैप्टन के नए दफ्तर का पता अब  सेक्टर-9 हो गया है। इस दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य का अगला विधानसभा चुनाव बीजेपी (BJP) के साथ लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस बारे में अमित शाह (Amit Shah) से उनकी बात हुई है। हालांकि, सीटों पर समझौता होना अभी बाकी है। बता दें कि पंजाब (Punjab) में अगले साल फरवरी के बाद विधानसभा चुनाव (Punjab Polls 2022) होने की संभावना है। 

बीजेपी और ढींडसा की पार्टी के साथ लड़ेंगे चुनाव
इस मौके पर कैप्टन ने ऐलान किया कि उनकी पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अकाली दल से बगावत करने वाली ढींडसा की पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (PLC) और टकसाली नेता सुखदेव सिंह ढींढसा के संयुक्त अकाली दल के साथ गठबंधन का स्पष्ट संकेत दिया था। यह पहला अवसर है जब बीजेपी की तरफ से कैप्टन और ढींढसा के साथ चुनावी गठबंधन करने पर खुलकर बयान दिया गया है। 

विधानसभा चुनाव जीतना लक्ष्य
पार्टी दफ्तर के शुभारंभ मौके पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कैप्टन ने कहा कि हमारा लक्ष्य पंजाब विधानसभा चुनाव जीतना है और हम जीतेंगे। इससे पहले उन्होंने वाहेगुरु जी का आशीर्वाद लिया और पंजाब की समृद्धि और सुरक्षा के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। उन्होंने कहा कि मैं अपने राज्य और इसके लोगों के कल्याण के लिए काम करना जारी रखने का संकल्प लेता हूं। कहा जा रहा है कि पार्टी दफ्तर के उद्घाटन के साथ ही कैप्टन अब अधिकारिक रूप से राजनीति में अपनी सक्रियता बढ़ाएंगे। 

कोई बड़ा चेहरा नजर नहीं आया
कैप्टन के पार्टी कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर कोई बड़ा चेहरा उनके साथ नजर नहीं आया। हालांकि पूर्व विधायक हरजिंदर सिंह ठेकेदार और प्रेम मित्तल जरूर मौजूद रहे। इन दोनों नेताओं के अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह के पुराने नजदीकी दिखाई दिए, लेकिन इनमें बड़े नाम नहीं थे। बता दें कि अमरिंदर सिंह ने हाल में राज्य के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देते हुए पार्टी से इस्तीफे की घोषणा की थी। इसके साथ ही, उन्होंने नई पार्टी के साथ पंजाब विधानसभा चुनाव में उतरने का भी ऐलान किया था। 

अमित शाह से जल्द मुलाकात
वहीं, कैप्टन की अगले तीन-चार दिन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक भी होने जा रही है। शनिवार को अमित शाह ने भी कह दिया था कि गठबंधन को लेकर उनकी कैप्टन और सुखदेव सिंह ढींडसा की पार्टी के साथ बातचीत चल रही है। इससे पहले कैप्टन और अमित शाह की बैठक चार दिसंबर को होनी तय हुई थी, लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया। अब सभी की निगाहें कैप्टन के सियासी पत्ते खोलने पर टिकी हैं।

इसे भी पढ़ें-AAP सांसद Bhagwant Mann का दावा: BJP से मिला पैसे व केंद्रीय मंत्री का ऑफर, ज्वाइन करिए मनचाहा मंत्रालय लीजिए

इसे भी पढ़ें-कौन है Kejriwal, कहां से आया..दिल्ली CM पर भड़के पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी..सिद्धू के सवाल पर दिया ये जवाब

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios