Asianet News HindiAsianet News Hindi

एक गलती पर टीचरों का जानवरों जैसा सुलूक, डरकर स्कूल के चौथे फ्लोर से कूद गया छात्र

राजस्थान में एक 9वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र ने डर के चलते चौथी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि टीचरों ने पहले बच्चे को घसीटकर क्लासरूम से निकाला और डंडों से पीटा।

9th class student commits suicide from fourth floor of school building n jaipur
Author
Jaipur, First Published Dec 7, 2019, 4:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर. राजस्थान में हुई एक दिल दहला देने वाली घटना ने सबको हैरान कर दिया। जहां एक 9वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र ने डर के चलते चौथी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि टीचरों ने पहले बच्चे को घसीटकर क्लासरूम से निकाला और फिर डंडों से पीटा।

लड़की को बर्थ-डे विश करना चाहता था वो
दरअसल, ये मामला 5 दिसंबर का है, जहां बच्चे की इलाज के दौरान शुक्रवार को मौत हो गई। संजय केडी पब्लिक सीनियर सैकंडरी स्कूल में पढ़ता था। साथ पढ़ने वाली एक लड़की ने टीचरों से संजय की शिकायत करते हुए कहा था कि उसने जबरदस्ती मुझे बर्थ-डे विश करने की कोशिश की। इसके साथ उसने गलत व्यवहार भी किया। बस इसी वजह से छात्र को इतनी बड़ी सजा मिली।

टीचर ने बच्चे से किया जनवरों की तरह सुलूक
शिकायत के बाद संजय तनाव में आ गया था। उसको डर था कि ये बात घरवालों को पता चलेगी तो क्या होगा। इसलिए उसने क्लास की खिड़की से कूदकर जान दे दी। लेकिन इससे पहले स्कूल के टीचरों ने उसके साथ जानवरों की तरह व्यवहार किया। वह अभी सिर्फ 15 साला का बच्चा था। उसमें सही या गलत वाले फैसले लेने का विवेक नहीं था। लेकिन जिस तरह से उसके साथ व्यवहार किया गया वह गैर जिम्मेदाराना था। इस पूरे घटनाक्रम ने स्कूल प्रबंधन को कठघरे में खड़ा कर दिया है। न तो उसकी स्कूल ने कोई काउंसलिंग की गई और ना ही बच्चे के माता-पिता को बुलाकर गलती बताई गई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios