Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में रक्षाबंधन से 3 दिन पहले भाई बहन पर हमला: घर में खाना खा रहे थे दोनों,तभी बदमाशों ने कर दी फायरिंग

राजस्थान के अलवर में राखी से तीन दिन पहले गोली चलने की घटना हुई। जिसमें भाई बहन सहित तीन लोग हॉस्पिटल में भर्ती कराए गए है, जहां युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। मामला सोमवार 8 अगस्त की रात हिंगोटा गांव का है।

alwar crime news goons attack brother sister due to property dispute sca
Author
Alwar, First Published Aug 9, 2022, 4:22 PM IST

अलवर. राजस्थान में रक्षाबंधन के तीन दिन पहले भाई बहन पर फायरिंग करने का मामला सामने आया है। यह हादसा उस समय हुआ जब भाई बहन अपने घर में बैठकर राता का खाना खा रहे थे। इसी दौरान कुछ बदमाश उनके घर में घुसे, जिन्होंने वहां मौजूद भाई-बहन और एक अन्य युवक पर गोली चला दी। गोली चलाने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। आसपास के लोग मौके पर पहुंचे, जिन्होंने तीनों घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया। इधर घटना के कई घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस आरोपियों को पकड़ नहीं पाई है।

डिनर करने बैठे थे, तभी किया हमला
घटना अलवर के हिंगोटा गांव की है। जहां देर रात आदिल तस्मीना और कसम घर में खाना खा रहे थे। उसी दौरान गांव के ही रहने वाले शौकीन मुबारिक और लादेन उसके घर में घुस गए। बदमाशों ने घर में घुसते ही उन पर गोलियां चला दी। जिसे तीनों घायल हो गए। घटना में आदिल नाम का युवक गंभीर रूप से घायल हुआ। वहीं तसमीना और कासम की हालत ठीक बताई जा रही है। हालांकि तीनों अभी हॉस्पिटल में ही भर्ती है। इस घटना में घायलों के परिजनों का कहना है कि उनका किसी से कोई झगड़ा नहीं हुआ था बेवजह आकर यह वारदात की गई है। इससे पहले भी यही आरोपी एक महिला से मारपीट कर चुके हैं। 

जमीन को लेकर है पुराना विवाद
अब तक की पुलिस इन्वेस्टीगेशन में सामने आया है कि दोनों पक्षों के बीच जमीनी विवाद को लेकर पुराना झगड़ा चल रहा है। इसी को लेकर यह हमला किया गया है। हालांकि पुलिस ने घायलों की रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस ने कुछ आरोपियों को डिटेन भी कर लिया।

अलवर में बढ़ता क्राइम का ग्राफ
अपराधियों के हौसले अलवर जिले में लगातार बुलंद होते हुए नजर आ रहे हैं। कभी यहां दिनदहाड़े फायरिंग कर दी जाती है। तो कभी मुक बधिर बालिका से रेप कर दिया जाता है तो कभी बैंक में दिनदहाड़े करोड़ों की डकैती हो जाती है। लेकिन पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच पाती है। इसी बीच सबसे बड़ा सवाल यह है कि इतना सब कुछ होने के बाद भी सरकार या प्रशासन पुलिस महकमे में कोई बदलाव करने के बारे में नहीं सोचता है।

यह भी पढ़े- लंपी वायरस को लेकर आखिर, राजस्थान के लिए आई गुड न्यूज, इस तारीख से मिलने लग जाएगी वैक्सीन...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios