Asianet News HindiAsianet News Hindi

रेलवे की RPC एग्जाम में बड़ा घोटाला: 4 लाख में खरीदकर 100 प्रश्नों की आंसर की लेकर एग्जाम देने पहुंचा कैंडिडेट

 राजस्थान में हुई रेलवे आर पी सी लेवल वन की एग्जाम देने आया कैंडिडेट अपने साथ ले आया 100 प्रश्नों की आंसर की। पर परीक्षा  हॉल में ही फ्लाइंग टीम द्वारा पकड़ा गया। परीक्षा देने के लिए देशभर में परीक्षा में बैठे थे 1.15 करोड़ अभ्यर्थी।

alwar news candidate came with answer key in railway RPC level one exam arrested in exam center by flying team asc
Author
Alwar, First Published Aug 25, 2022, 9:03 PM IST

अलवर. राजस्थान के अलवर जिले में फ्लाइंग टीम ने परीक्षा हॉल में नकल करते समय एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से परीक्षा के पेपर में आए सभी प्रश्नों की आंसर की मिली है। ताज्जुब की बात तो यह है कि पुलिस पूछताछ में आरोपी ने कबूला है कि उसने एक गिरोह से यह आंसर की करीब 4 लाख रुपए देकर खरीदी है। पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को और हिरासत में ले लिया है। जो नकल गिरोह से जुड़े हुए हैं। फिलहाल पुलिस अभी तक गिरोह के मुख्य सरगना को नहीं पकड़ पाई है। पुलिस इसे पेपर लीक भी नहीं मान रही है।

रेलवे की आर पी सी की  हो रही थी एग्जाम
पुलिस के मुताबिक रेलवे भर्ती बोर्ड की तरफ से चल रही आर पी सी लेवल वन एग्जाम का सेंटर बुधवार को अलवर के एमआइटीआरसी कॉलेज में था। यहां दोपहर 3:00 से 6:00 बजे की पारी में जब फ्लाइंग टीम निरीक्षण के लिए पहुंची तो सुनील नाम का एक कैंडिडेट एक पन्ने से नकल करते हुए टीम के हत्थे चढ़ गया। ऐसे में फ्लाइंग टीम ने उसे दूसरी तरफ ले जाकर तलाशी ली तो उसके पास परीक्षा में आए एक से लेकर 100 प्रश्नों की आंसर की थी। ऐसे में लाइन टीम ने आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया। इसके बाद आज मामले में मुकदमा दर्ज हुआ।

चीटिंग गैंग से 4 लाख में खरीदी आंसर की
पुलिस ने बताया कि आरोपी ने पूछताछ में यह स्वीकार किया है कि उसने किसी चीटिंग कराने वाले गिरोह से आंसर की 4 लाख रुपए में खरीदी थी। जिसके बाद पुलिस ने दो आरोपियों को और हिरासत में लिया है। फिलहाल पुलिस ने कई राज्यों में आरोपियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन चला रही है। वही 24 घंटे बाद भी पुलिस अभी तक यह स्पष्ट नहीं कर पाई है कि आंसर की फर्जी थी या असली। पुलिस का मानना है कि गिरोह ने फर्जी आंसर की देकर युवक को ठगा है। पुलिस का कहना है कि पेपर लीक कहना अभी गलत है। 

हालांकि पुलिस अभी पेपर लीक से इंकार कर रही है। लेकिन जब पूरा गिरोह पुलिस पकड़ में आएगा और उस दौरान यह पता चलता है कि पेपर लीक हुआ है तो देश के करोड़ों व्यक्तियों के साथ यह विश्वासघात होगा। साथ ही पहला मौका होगा जब किसी केंद्र की भर्ती में पूरा का पूरा पेपर ही पहले लीक हो गया हो।

यह भी पढ़े- दुकान में चोरी नहीं हो जाए इसलिए गहने बैग में रखकर ले जा रहा था जयपुर का ज्वैलर, लुटेरों ने रास्तें में लूटा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios