Asianet News HindiAsianet News Hindi

सरिस्का में पैंथर के साथ हुआ अन्याय,शिकार को ले चढ़ा था पेड़ पर, तभी बाघिन ने कर दिया ये काम,देखिए लाइव वीडियो

राजस्थान के अलवर स्थित सरिस्का अभ्यारण में एक शानदार नजारा देखने को मिला। हालाकि इसके चक्कर में हाथ आया शिकार बाघिन छीनकर ले गई। बायोलॉजिकल पार्क का यह दृश्य वहां घूमने गए पर्यटकों के कैमरें में कैद हो गया। आप भी देखिए लाइव वीडियो।

alwar news Sariska Tiger Reserve video of tigress snatching panthers prey asc
Author
Alwar, First Published Aug 29, 2022, 7:00 PM IST

अलवर. बारिश के बाद प्रदेश के तमाम अभ्यारण बायोलॉजिकल पार्क और जंगल हरे भरे हो गए हैं । जंगल हरे भरे हो जाने से वनस्पति खाने वाले शाकाहारी जानवरों की संख्या भी बढ़ने लगी है।  ऐसे में मांसाहारी जानवरों की भी मौज हो रही है।  हाल ही में एक वीडियो सामने आया है इस वीडियो में शिकार के लिए पैंथर और बाघिन के बीच में संघर्ष की नौबत आ गई।  दरअसल अलवर के सरिस्का बाघ परियोजना में काफी संख्या में पैंथर एवं बाघ हैं। जंगली जानवरों के अलावा वहां बड़ी संख्या में चीतल और हिरन भी हैं। 

नजारा देख पर्यटकों ने दांतों तल दबाई अंगुलिया
रविवार को दोपहर में सरिस्का के सदर गेट से करीब 500 मीटर दूरी पर बाघिन और पैंथर को एक साथ देखा गया था। सरिस्का घूमने आए पर्यटक दोनों का वीडियो बना ही रहे थे कि उस समय अचानक ऐसी घटना घटित हुई की पर्यटकों ने दांतों तले अंगुली दबा ली।

पेड़ पर चढ़े पैंथर से छीन ले गई शिकार
हुआ यूं कि पैंथर ने एक शिकार किया और उस शिकार को लेकर पेड़ पर जा चढ़ा। उसे लगा कि यहां  वह बाघ और बाघिन की नजरों से बच जाएगा।  लेकिन सरिस्का में रहने वाली बागी st9 ने पैंथर को देख लिया।  जैसे ही पैंथर ने शिकार खाना शुरू किया बाघिन दौड़ते हुए आई और पैंथर के मुंह से उसका निवाला छीन ले गई । बाघिन पेड़ पर चढ़ी और पेड़ पर बैठे पैंथर के सामने से शिकार छीन कर उसे अपने साथ ले गई। 

वीडियो कैमरे में कैद हुई घटना
पैंथर वहीं बैठा हुआ यह सब देखता ही रह गया । इस नजारे को जयपुर के पर्यटक अर्जुन और सुप्रिया के साथ ही सरिस्का टाइगर फाउंडेशन के चंद्र प्रकाश सैनी ने भी अपने मोबाइल में कैद किया । सैनी ने बताया कि ऐसे नजारे अधिकतर डिस्कवरी चैनल पर ही देखने को मिलते हैं।  लेकिन कभी कभार सरिस्का में भी जंगली जानवरों के बीच संघर्ष के वीडियो बन ही जाते हैं। उल्लेखनीय है कि बाघों और पैंथर की संख्या कुछ कम होने एवं झाड़ियां एवं पेड़ बड़े हो जाने के कारण कभी कभार ही पर्यटकों को बाघिना या पैंथर के दीदार होते हैं।  सरिस्का में बड़ी संख्या में लंगूर ,जंगली शूकर ,चीतल हिरण और नीलगाय हैं।

यह भी पढ़े- अजमेर में एक साथ चार शव मिलने का मामलाः लोगों ने कर दी सड़के जाम, मुआवजे की मांग को लेकर सड़कों पर उतरे लोग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios