Asianet News HindiAsianet News Hindi

5 बच्चों के पिता से शादी करने अपनी कोख से जन्मे बच्चों को भेजा अनाथ आश्रम, बोली- नहीं उठा सकती बोझ

राजस्थान के अलवर जिले में हैरान करने वाला मामला देखने को मिला है। जहां 5 बच्चों की मां ने अपने प्रेमी से शादी करने के लिए अपने बच्चों को अनाथ आश्रम में पहुंचा दिया। वहीं बच्चे रोते गिड़गिड़ाते रहे, बोले- हमें भी साथ ले चलो हम तुम्हारे बिना कैसे रहेंगे मां। फिर भी उसका दिल नहीं पसीजा।

alwar shocking news to marry her lover mother sent her 5 children in orphanage home asc
Author
First Published Sep 16, 2022, 8:28 PM IST

अलवर. अक्सर आपने देखा ,सुना और पढ़ा होगा कि मां अपने बच्चों की देखभाल के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा देती है।  बच्चों को कोई परेशानी ना हो इसके लिए वह समाज से भी लड़ जाती है।  लेकिन राजस्थान के अलवर शहर में रहने वाली एक माह इस कदर जल्लाद निकली कि लोग कहने लगे कैसी मां है यह। उस मां ने अपने पांच बच्चों को इसलिए छोड़ दिया ताकि वह 5 बच्चों के पिता से दूसरी शादी कर सके। पांचों बच्चों को उसने अनाथ आश्रम में भेज दिया लेकिन उसके जाने से पहले बच्चे उससे लिपटकर खूब रोए, खूब गिड़गिड़ाए उनका कहना था कि मां हमें भी साथ ले चलो हम तुम्हारे बिना नहीं रह सकते। जिसने भी यह दृश्य देखा वह भी अपनी आंखों से अश्रु धारा नहीं रोक सका। 

 यह है पूरा मामला
 दरअसल हरियाणा की रहने वाली नूरजहां की शादी करीब 15 साल पहले अलवर के रहने वाले ट्रक ड्राइवर तैयब के साथ हुई थी। 15 साल के दौरान 5 बच्चे हुए। पत्नी का आरोप है कि पति ना तो उसकी देखभाल करता ना बच्चों की ही देखभाल करता। जब भी आता शराब पीकर मारपीट करता। उससे परेशान होकर वह कुछ महीनों पहले हरियाणा वापस अपने पीहर चली गई थी। 

मायके में ही मिला उसको प्रेमी
वहां पर उसकी पहचान जयपुर के रहने वाले मौसम से हुई। मौसम जयपुर में अपने पांच बच्चों के साथ रहता है। लेकिन मजदूरी करने के लिए अलग-अलग शहर में घूमता है। वह पिछले कुछ महीनों से हरियाणा में मजदूरी का काम कर रहा था। वहीं पर उसके मुलाकात नूरजहां से हुई। दोनों में प्रेम हो गया और उसके बाद दोनों ने साथ रहने की तैयारी कर ली।

मां बोली नहीं उठा सकती बोझ
नूरजहां ने अपने 4 बच्चे कानूनी प्रक्रिया के तहत अलवर में अनाथालय को दे दिए। वहीं एक बच्चा हरियाणा में अनाथालय दीया जाना है। नूरजहां और मौसम दोनों आज अलवर आए थे। नूरजहां ने जब चारों बच्चों को अनाथालय में भेजा तो बच्चे मां से लिपट कर रोने लगे लेकिन बाद में अनाथालय में उन्हें जबरन भेज दिया गया। नूरजहां का कहना था कि वह अपने बच्चों का बोझ नहीं उठा सकती। उधर मौसम का कहना है कि वह अपनी पहली पत्नी को तलाक नहीं देगा, लेकिन नूरजहां को भी साथ रखेगा।

बताया जा रहा है कि दोनों ने 3 महीने पहले निकाह कर भी लिया। नूरजहां और मौसम के इस निकाह के बाद एक नया परिवार तो बन गया, लेकिन दो अन्य परिवार टूट गए। इस अजीबोगरीब शादी के बाद अब 10 बच्चे अपने भविष्य के लिए परेशान है। मौसम की पत्नी जयपुर में रहती है। वहीं उसके 5 बच्चे भी रहते हैं।

यह भी पढ़े- पीएम मोदी के लिए जो काम मां नहीं कर सकी वह राजस्थान की बीजेपी ने कर दिखाया, जन्मदिन से 15 दिन तक करेगी ये काम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios