Asianet News HindiAsianet News Hindi

ग्रामीणों ने पेश की मिसाल: 7 बहनों के एकलौते भाई के इलाज के लिए जोड़े 40 लाख, हादसे में खोए माता-पिता

राजस्थान में दो दिन पहले  हुए दर्दनाक सड़क हादसे में अपने माता-पिता खोने वाली 7 बहनों के एकलौते भाई को भी गंभीर चोटे आई थी और इलाज को पैसे नहीं थे। तभी गांववालों ने परिवार का दुख समझा और मानवता दिखाते हुए मासूम के इलाज के लिए जोड़ लिए 40 लाख रुपए।

barmer news story of humanity people collect more than 40 lakhs through social media campaign for treatment of minor who lost his parents in road accident asc
Author
First Published Nov 17, 2022, 10:43 AM IST

बाड़मेड़ (barmer).राजस्थान से मानवता की बड़ी मिसाल सामने आई है। यहां के लोगों ने महज 24 घंटे में ही एक 4 साल के घायल बच्चे के इलाज के लिए करीब 40 लाख रुपए जुटा दिए। दरअसल इस चार साल की मासूम के माता पिता की मौत के दो दिन पहले ही एक सड़क हादसे में हुई थी। माता पिता की मौत के बाद घर में केवल 7 बहनें ही बची रही। जो इलाज के लिए पैसे नहीं ला सकती थी। ऐसे में गांव के लोगों ने ही बेड़ा उठाया और फिर 24 घंटे में करीब 2 से 3 जिलों से ऑनलाइन ही 40 लाख रुपए जुटा लिए।

कोई नहीं बचा परिवार में तो लोगों ने दिखाई मानवता
दरअसल जैसे ही गांव में इस बात का पता लगा कि अब मासूम का इलाज करवाने वाला भी कोई नहीं है। तो फिर गांव के युवाओं ने ही सोशल कैंपेन चलाया और फिर ऑनलाइन सोशल मीडिया पर इसका प्रचार प्रसार करना शुरू कर दिया। नतीजा निकला कि 24 घंटे में ही लोगों ने परिवार का दुख दर्द समझा और राजस्थान के बाड़मेर जालौर और जोधपुर समेत करीब 30 से 24 घंटे में 40 लाख रुपए जुटा दिए। जो अब मासूम की सबसे बड़ी बहन ओमी के अकाउंट में जमा करवाए जाएंगे। डॉक्टर्स के मुताबिक अब मासूम जसराज का इलाज भी अच्छे से हो सकेगा।

सड़क हादसे में खो दिए थे माता-पिता, एकलौता भाई हुआ घायल
दरअसल आपको बता दें कि बाड़मेर में यह हादसा रविवार शाम को हुआ था। जब वहां के सिणधरी कस्बे में बोलेरो चालक पोकरराम तेज स्पीड से अपनी गाड़ी दौड़ा रहा था। यह बेकाबू तेज रफ्तार गाड़ी पहले तो डिवाइडर से जा टकराई। फिर सड़क किनारे चल रहे खेताराम, कोकु और अनसी देवी को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि तीनों के शरीर तक ही कुचल गए। वहीं इस घटना में खेताराम और उनकी पत्नी काट 4 साल का मासूम जसराज भी बुरी तरह से घायल हो गया। जिसके आंतरिक चोट भी आई है। हालांकि पुलिस ने भले ही मामले में ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया हो। लेकिन अब इन सात बहनों और 4 साल की मासूम की सुध लेने वाला परिवार में कोई नहीं बचा है।

यह भी पढ़े- 7 बेटियों के सिर से उठा माता-पिता का साया, 4 साल का बेटा मां के शव से लिपटकर चीख रहा-पूरे गांव में कोहराम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios