Asianet News HindiAsianet News Hindi

भरतपुर में बीजेपी MP पर खनन माफियाओं ने किया हमला, जान बचाने के खेतों में भागीं सासंद

सांसद ने बताया कि उन्होंने अवैध खनन के बारे में जिले के एसपी को पहले से ही जानकारी दी थी। लेकिन दो घंटे बाद भी पुलिस नहीं पहुंची। सांसद को अपनी जान बचाने के लिए खेतों में भागना पड़ा। उन्होंने गहलोत सरकार पर निशाना साधा। 

bharatpur news bjp mp ranjita koli attacked by mining mafia pwt
Author
Bharatpur, First Published Aug 8, 2022, 8:47 AM IST

भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर जिले में बीजेपी सांसद रंजीता कोली (Bharatpur MP Ranjeeta Koli) पर खनन माफियाओं ने जानलेवा हमला किया है। हमले में वो बाल-बाल बच गईं। हमलावरों ने उनकी गाड़ी को तोड़ में जमकर तोड़फोड़ की है। सांसद ने खेतों में भागकर अपनी जान बचाई है। सांसद रंजीता कोली रविवार रात को दिल्ली से लौट रही थी। इसी दौरान कामां इलाके में बॉर्डर पर उन्होंने ओवरलोड ट्रक निकलते देखा और उन्हें रोकने की कोशिश की। इस दौरान खनन माफियाओं ने सांसद में हमला कर दिया। जानकारी के अनुसार, सांसद ने सुरक्षाकर्मियों के साथ खेतों में भागकर अपनी जान बचाई।

दरअसल भरतपुर से भाजपा सांसद रंजीता कोली देर रात दिल्ली से भरतपुर के बयाना अपने घर लौट रही थी। इस दौरान कामां रोड से गुजरने के दौरान धिलावटी बॉर्डर के नजदीक अवैध खनन करने वालों ने उनकी सरकारी गाड़ी को टक्कर मार दी। पत्थरों से भरे हुए ट्रोले ने उनकी जान लेने की कोशिश की। गाड़ी में बैठी सांसद और उनके चालक तो बच गए लेकिन गाड़ी के शीशे चकनाचूर हो गए और गाड़ी भी डैमेज हो गई। जब पुलिस को सूचना दी गई तो आरोप है कि पुलिस काफी देरी से मौके पर पहुंची। इससे पहले ही खनन करने वाले अपने वाहनों समेत वहां से फरार हो गए। 

दिल्ली से केंद्र की टीम पहुंच रही भरतपुर, मच सकता है बवाल
इस घटना के बाद अब दिल्ली में केंद्र सरकार को भी सूचना दी गई है। बताया जा रहा है कि आज दोपहर से पहले केंद्र सरकार की एक टीम भी मौके पर पहुंच रही है। इस बीच सांसद रंजीता भरतपुर के संतों और सैंकड़ों अन्य लोगों के साथ सड़क के  नजदीक ही धरने पर बैठ गई हैं। देर रात से यह धरना जारी है। सांसद का कहना है कि जब तक आरोपी पकड़े नहीं जाते, अवैध खनन बंद नहीं हो जाता तब तक वे नहीं उठेंगी। इस दौरान भरतपुर के पुलिस महकमें में चर्चा है कि सांसद ने देर रात अपना रूट क्यों बदला, जिस रुट से वे दिल्ली होती हुई घर आ रही थी, उस रूट को देर रात अचानक बदलने की क्या जरुरत आन पड़ी...? फिलहाल पुलिस और भरतपुर प्रशसन सभी पहलुओं की जांच कर रहा है। बताया जा रहा है कि राज्य सरकार ने भी जांच के आदेश दे दिए हैं।

पहले भी हो चुके हैं हमले
भरतपुर में अवैध खनन का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में एक संत की जान जा चुकी है, कई पुलिसवालों की भी मौत हो चुकी है और भाजपा सांसद रंजीता कोली पर भी कई बार हमले हो चुके हैं। 

क्या कहा सांसद ने
भाजपा सांसद रंजीता कोली ने कहा- अवैध खनन को रोकना और जनता की सेवा करना भी मेरा लक्ष्य है। हम रात को आए तब 150 ट्रक यहां खड़े थे, हमने गाड़ी लगाई तो वे भागने लगे। अगर वे अवैध नहीं थे तो भागने की जरूरत क्या थी? उन्हें रोकने की कोशिश की तो मेरी गाड़ी को तोड़ दिया, मुझे मारने की कोशिश की गई। वहीं, मामले में ASP आरएस कविया ने कहा- सांसद ने जब कुछ ओवरलोड ट्रकों को रोकने की कोशिश की तब 2-3 ट्रक रुक गए परन्तु कुछ ट्रक भगा कर ले गए। उन्होंने पथराव भी किया, जिसमें सांसद की गाड़ी का शीशा टूट गया।

इसे भी पढ़ें- खाटू श्याम मंदिर में भगदड़: परिजन मदद के लिए चिल्लाते रहे भीड़ ने 3 महिलाओं को कुचल डाला, मौके पर मौत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios