Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में डांडिया के बीच बदमाशों ने खेली खून की होली, छेड़खानी से रोका तो खून से रंग दिया पूरा शरीर

राजस्थान में डांडिया रास के बीच एक खौफनाक वारदात सामने आई है। बुधवार की रात गरबा खेलने के दौरान लड़कियों को छेड़ रहे थे बदमाश। इसका युवक ने विरोध किया तो आरोपियों ने पीड़ित पर चाकू से हमला करते 7 वार कर दिए, जिससे पेट और पीट में गंभीर चोटें, आंते बाहर आ गई, बेहद गंभीर हालत हुआ भर्ती।

bikaner crime news man gets attacked for protesting against eve teasing during navratri garba asc
Author
First Published Oct 6, 2022, 1:24 PM IST

बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर शहर से बड़ी खबर सामने आई है। डांडिया रास के दौरान बीती रात कुछ बदमाशों ने एक युवक को चाकू मारे। तीन से चार बदमाशों ने उसे डांडिया मैदान पर ही घेर लिया और उसके बाद उनमें से दो ने उसकी पीठ और पेट को चाकू से गोद दिया। अंदरूनी अंग फट गए और चाकू लगने से युवक वहीं गिरकर बेहोश हो गया। उसके बाद आरेापी वहां से भाग गए। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जांच पड़ताल कोटगेट थाना पुलिस कर रही है।

बदमाशों की घटिया हरकत का किया विरोध
पुलिस ने बताया कि रेलवे ग्राउंड पर कई दिनों से गरबा आयोजन चल  रहा था। कल यानि बुधवार को इसका समापन था। गरबा के दौरान देर रात समापन से कुछ देर पहले ही कुछ बदमाश लड़के गरबा में घुस गए। वहां पर कोटगेट थाना क्षेत्र में रहने वाला युवक मधुसूदन भी था। 22 वर्षीय मधुसूदन अपने दोस्तों और परिवार के साथ गरबा एंजाय कर रहा था। इस दौरान उसके पास कुछ लड़कियां भी गरबा डांस कर रही थी। तभी वहां पर पांच से छह लड़के आए और वे जबरन लड़कियों के समूह में घुस गए। लड़कियों ने विरोध किया तो उनमें से एक बदमाश ने एक लड़की को धक्का मार दिया और उस फिर उसे तमाचा भी जड़ दिया। इस पर मधुसूदन और उसके साथियों ने विरोध किया तो बदमाशों ने उनको पीटा।

रोकने की दी खौफनाक सजा, मौत से लड़ रहा जंग
झगड़े के बीच मधुसूदन को बदमाशों ने घेर लिया और उसे ताबडतोड़ चाकू मारे। सात से आठ चाकू मारने के बाद मधुसूदन नीचे गिर गया। उसे अचेत हालात में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। परिवार का रो रोकर बुरा हाल है। पूरी रात से पुलिस छापेमारी कर रही है। कुछ युवकों को हिरासत में लेने की खबर है। दोपहर बाद तक इस मामले का खुलासा किया जा सकता है। इस घटना के बाद मधुसूदन के पिता का कहना है कि बेटियों की इज्जत बचाने के लिए बेटे ने कोशिश की, किसी ने उसका साथ नहीं दिया। अब बेटा जीवन और मौत के बीच झूल रहा है। परिवार को इंसाफ चाहिए।

यह भी पढ़े- राजस्थान में सियासत उफान परः अशोक गहलोत और सचिन पायलेट गुट के झगड़े के बीच अचानक योगी आदित्यनाथ राज्य में पहुंच

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios