Asianet News HindiAsianet News Hindi

एक दिन पहले हुई थी फर्स्ट डिवीजन पास, मम्मी-पापा के लिए लिखी इमोशनल बात, सुसाइड का कारण जान हो जाएंगे हैरान

छात्रा ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है - आई लव यू मम्मी-पापा एंड ऑल माय फैमिली, ये दुनिया बड़ी स्वार्थी है,  कुछ तो लोग कहेंगे, इनका काम है कहना....

BSc third year student commits suicide, dead body found hanging in room
Author
Churu, First Published Oct 3, 2021, 8:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चूरू: राजस्थान के चुरू में एक दिन पहले ही फर्स्ट डिवीजन पास होने वाली छात्रा ने आत्महत्या कर ली। वह  बीएससी नर्सिंग थर्ड ईयर की स्टूडेंट थी। धर्मस्तूप के पास किराए का कमरा लेकर रहती थी। प्रियंका कटेवा की उम्र महज 22 साल थी। उसने ऐसा कदम क्यों उठाया इसका खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस को मिले सुसाइड नोट में उसने लिखा है- मैं दुनिया से परेशान हो चुकी हूं, ये दुनिया बहुत स्वार्थी है, आप कितने भी अच्छे हो लेकिन लोग नहीं समझते। बचपन में जिस तरह मेरी गलतियों को माफ किया, उसी तरह इसे भी गलती समझकर माफ कर देना, मां-बाप जैसा प्यार दुनिया मे कोई नहीं कर सकता, आई लव यू मम्मी-पापा एंड ऑल माय फैमिली, कुछ तो लागे कहेंगे इनका काम है कहना....

जब खिड़की से अंदर देखा तो..
झुंझुनूं की रहने वाली प्रियंका कटेवा इंद्रा मॉर्केट के एक मकान में किराए पर रहती थी। रविवार सुबह काफी देर तक वह कमरे से बाहर नहीं आई। मकान मालिक ने जब दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब भी नहीं मिला। खिड़की से झांककर अंदर देखा तो उसे फंदे से लटकता देख होश उड़ गए। सूचना पर सीओ सिटी ममता सारस्वत, कोतवाल सतीश कुमार यादव मौके पर पहुंच गए। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

इसे भी पढ़ें- यूपी में बड़ा हादसा: मंत्री के काफिले में 6 किसानों की मौत, हंगामे के बाद आगे के हवाले की गाड़ियां...

दिन में रिजल्ट, रात में सुसाइड
जानकारी के मुताबिक शनिवार को बीएससी नर्सिंग सेकेंड ईयर का रिजल्ट आया था। शाम को प्रियंका ने फोन पर परिजनों से बातचीत भी की थी। इसके बाद क्या हुआ, किसी को इसके बारे में पता नहीं। उसने सुसाइड क्यों किया, पुलिस इसकी जांच कर रही है। मकान मालिक ने बताया कि शनिवार रात को परिवार की एक सदस्य की तबीयत खराब हो गई थी तो प्रियंका ने ही उसे ड्रिप चढ़ाई थी, उस दौरान वह बिल्कुल नॉर्मल थी।

इसे भी पढ़ें- Jharkhand: नदी में पानी भरने गए थे 7 बच्चे, तेज धार में बह गए, बारिश में चाल धंसने से मां-बेटी की जान गई

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios