Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में धारा 144 लागू फिर भी अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस का सबसे बड़ा प्रदर्शन, कानून बना मजाक

पूरे रजास्थान में दो सौ विधानसभा सीटों पर एक साथ विरोध प्रदर्शन शुरू , विधानसभा की कमान एमएलए और जिलों की कमान मंत्रियों को सौपी, प्रदर्शन और विरोध रोकने के लिए जयपुर पुलिस ने लागू की थी धारा 144... लेकिन कांग्रेसियों ने जमकर उड़ाया मखौल 

congress protesting against agnipath recruitment scheme in whole rajasthan state sca
Author
Jaipur, First Published Jun 27, 2022, 1:04 PM IST

जयपुर. अग्निपथ योजना का विरोध जारी है। कांग्रेस शासित राज्यों में तो बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज रास्थान में इसे लेकर सबसे बड़ा प्रदर्शन है। पूरे प्रदेश में एक साथ प्रदर्शन किया जा रहा हैं दो सौ विधानसभा सीटों पर जीते और हारे एमएलए और प्रत्याशियों को विधानसभा सीटों की कमान सौंपी गई है। उसके साथ ही जिलों की कमान मंत्रियों के हाथ दी गई है। अग्निपथ योजना के विरोध में राजस्थान कांग्रेस का यह अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन है। कांग्रेस के सभी संगठन, सभी कार्यकर्ता और सभी नेताओं को इसमें शामिल होने के लिए निर्देश दिए गए हैं। 

बड़े नेताओं ने संभाली कमान, डोटासरा सीकर तो पायलेट टोंक में 
 अग्निपथ स्कीम को लेकर होने वाले विरोध प्रदर्शनों के तहत प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और सीकर के लक्ष्मणगढ़ से विधायक गोविंद सिंह डोटासरा सुबह 11 बजे लक्ष्मणगढ़ विधानसभा क्षेत्र में होने वाले विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। वहीं सचिन पायलेट एक दिन पहले ही टोंक पहुंच गए थे। आज वे भी प्रदर्शन में शामिल रहे। कोटा की जिम्मेदारी धारीवाल ने संभाली तो अजमेर में रधु शर्मा मौजूद रहे। 

जयपुर जिले में ये नेता रहे मौजूद, हजारों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन 
जयपुर में सिविल लाइंस में कैबिनेट मिनिस्टर प्रताप सिंह मौजूद रहे। कैबिनेट मंत्री महेश जोशी शास्त्री नगर का एरिया संभालते नजर आए। किशनपोल से अमीन कागजी तो आदर्श नगर से विधायक रफीम खान ने भीड़ जमा की। बगरु से एमएलए गंगादेवी तो विद्याधर नगर से हारे हुए प्रत्याशी सीताराम अग्रवाल कांग्रेसियों के साथ सड़कों पर उतरे और जमकर विरोध प्रदर्शन किया। सवेरे दस बजे से शुरु होने के बाद यह प्रदर्शन करीब चार घंटे तक चला। गौरतलब है कि जयपुर शहर में धारा 144 लागू की गई है। किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं है। उसके बाद भी कांग्रेसियों ने जमकर प्रदर्शन किया है और रास्ते रोककर आम जीवन अस्त व्यस्त किया है।

इसे भी पढ़े- अग्निपथ के खिलाफ गहलोत सरकार का हल्ला बोल: 27 जून को राजस्थान में विरोध करेंगे मंत्री-विधायक और कार्यकर्ता

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios