Asianet News HindiAsianet News Hindi

इनसे सीखिए संयम..लॉकडाउन में 1 दिन भी नहीं निकलीं घर से बाहर, 75 साल की उम्र में पीस रहीं आटा

जोधपुर. (राजस्थान). कोरोना से निपटने के लिए सरकार ने लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया था, जो 3 मई तक चलेगा। इसके बावजूद भी लोग इसका उल्लंघन करते हुए देखे गए। लेकिन, इस दौरान राजस्थान की एक 75 साल बुजुर्ग महिला ने ऐसा संयम दिखाया कि वह पिछले डेढ़ महीने में एक घंटे के लिए भी अपने घर से बाहर नहीं निकली।

coronavirus lockdown live news 75 year old woman did not come out of her house in lockdown kpr
Author
Jodhpur, First Published May 2, 2020, 11:34 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जोधपुर. (राजस्थान). कोरोना से निपटने के लिए सरकार ने लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया था। अब यह 4 से लेकर 17 मई तक चलेगा। इस दौरान राजस्थान की एक 75 साल बुजुर्ग महिला ने ऐसा संयम दिखाया कि वह पिछले डेढ़ महीने में एक घंटे के लिए भी अपने घर से बाहर नहीं निकल 

मां-बेटे नहीं निलके घर से बाहर
दरअसल, इस तरह का संयम बरतने वाली यह बुजुर्ग महिला जोधपुर के बडेर की रहनी वाली घीसी देवी हैं। जिन्होंने संकट के समय देश का सही साथ निभाया है। वह खुद इस उम्र में अपने हाथ से देशी चक्की से आटा पीस रही हैं। उनके साथ एक बेटा भी घर में रहता है, वह भी इस दौरान घर से बाहर नहीं निकलता है। दोनों कुछ सामान खरीदने के लिए किसी दुकान तक नहीं गए, जो भी घर में था उसी से अपना गुजर-बसर करते हैं।

यह है बुजुर्ग महिला का स्वस्थ रहने का राज
घीसी देवी बताती हैं कि वह मिर्च, धनिया, हल्दी जैसे मसाले भी बाजार से नहीं लाती, बल्कि खुद ही सालों पुरानी चक्की से अपने हाथों से पीसती हैं। उनका कहना है कि वो एक किलो गेंहू को करीब एक घंटे में पीस लेती हैं। इतनी कड़ी मेहनत के चलते वह कभी बीमार नहीं पड़ी। वो बताती हैं कि पसीना बहने से शरीर चुस्त-पुस्त बना रहता।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios