Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में ऐसा क्या हुआ कि, वायुसेना के हैलकॉप्टर की कराना पड़ी आपात लैंडिंग, जानिए पूरा मामला

राजस्थान के हनुमानगढ़ में मंगलवार 23 अगस्त की सुबह वायुसेना हैलीकॉप्टर की आपात लैंडिंग करानी पड़ी। हैलीकॉप्टर को जब खेत में उतारा तो उसे देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई। बाद में पता चला कि तकनीकी खराबी के कारण लैंडिंग करानी पड़ी।

hanumangarh news indian air force helicopter make emergency landing in fields due to technical problem asc
Author
Hanumangarh, First Published Aug 23, 2022, 2:05 PM IST

हनुमानगढ़. राजस्थान के हनुमानगढ़ से बड़ी खबर सामने आई है। आज यानि की मंगलवार 23 अगस्त की  सवेरे अचानक खेत में वायुसेना के हैलीकॉप्टर की आपात लैंडिंग की गई। उसमें क्रू के आठ सदस्य थे। अचानक जब हैलीकॉप्टर खेत में उतारा गया तो उसे देखने के लिए गांव वालों की भीड़ लग गई। काफी देर तक उसमें से कोई नहीं उतरा। उसके बाद जब हैलीकॉप्टर पूरी तरह से बंद हो गया तो उसमें से क्रू निकलना शुरु हो गया। सभी पूरी तरह से सुरक्षित थे। हॅलीकॉप्टर को संगरिया क्षेत्र में उतारा गया था।

हैलीकॉप्टर में आई तकनीकी खराबी
मिली जानकारी के अनुसार सूरतगढ़ से सुबह हेलीकॉप्टर ने उड़ान भरी थी। रोशन की ढाणी चक नौ एमएमके रोही धोलीपाल एवं कीकरवाली के मध्य अचानक इंजन में आई किसी तकनीकी खराबी के चलते हेलीकॉप्टर की आपातकालीन लेडिंग करवानी पड़ी। हेलीकॉप्टर में पायलट सहित आठ लोग सवार थे। जो सुरक्षित हैं। मौके पर सादुलशहर एवं संगरिया पुलिस के जवान आए और उन्होनें ग्रामीणों को काबू किया।

 फोटो खिचवाने के लिए मची होड़
इमरजेंसी लैडिंग के कारण गांव के लोगों को सबसे पहले गांव में हैलीकॉप्टर क्रेश होने की सूचना मिली थी। इस खबर  के बाद मौके पर सैंकड़ों की संख्या में ग्रामीण वहां आ पहुंचे। बाद में जब सब कुछ सुरक्षित मिला तो फिर हैलीकॉप्टर के साथ फोटो खिंचाने और वीडियो बनाने की होड़ मच गई। हैलीकॉप्टर को छूने के लिए इतनी भीड़ लगी की पुलिस वालों को वहां पर सख्ती तक करनी पड़ गई। हालाकि तकनीकी खराबी के कारण हैलीकॉप्टर उड़ नही सकता था इसलिए उसका क्रू करीब दो से तीन घंटे तक वहीं मौजूद रहा। इस दौरान इंजन की खामी को सही करने के लिए कई टीमें वहां आ पहुंची।

राजस्थान में सेना के कई बड़े स्टेशन
गौरतलब है कि इससे पहले भी कई बार राजस्थान में सेना के एयर क्राफ्ट को इमरजेंसी होने के कारण उतारा जा चुका है। दरअसल पश्चिमी राजस्थान में सेना के कई स्टेशन हैं।  पश्चिमी राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर और श्रीगंगानगर के सूरतगढ़ सेना के बड़े स्टेशन हैं। यहां अक्सर सेना की अभ्यास से लेकर अन्य तरह की गतिविधियां होती रहती हैं। इस कारण कई बार अभ्यास के दौरान भी तकनीकी खराबी आने पर इन्हीं स्टेशन पर तैनात तकनीकी टीमें एयर क्राफ्ट को दुरुस्त कर देती हैं। आज सवेरे जो हैलीकॉप्टर बिगड़ा वह हैलीकॉप्टर एमआई:35 है। सेना अक्सर इस हैलीकॉप्टर को अटैक करने के काम में भी लेती हैं। दअरसल हैलीकॉप्टर के बारे में सोशल मीडिया पर क्रेश होने की अफवाल फैल गई थी। इस कारण एक साथ कई थानों की पुलिस मौके पर आ पहुंची थी।

यह भी पढ़े- कैश कांड में कोलकाता जेल में बंद झारखंड के तीनों विधायक रिहा, समर्थकों ने किया जोरदार स्वागत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios