Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में भारी बारिश का अलर्ट: प्रदेश के इन जिलों में होगी जोरदार बरसात, जानें मौसम अपडेट

राजस्थान में गुरुवार को कई जिलों में बरसा मानसून प्रदेश में शुक्रवार को भी मेहरबान रहेगा। इस दौरान कई जिलों में हल्की तो कहीं मध्यम से भारी बारिश होगी। इस संबंध में मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर ने कई जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है।

Heavy rain alert in Rajasthan will be heavy rain in these districts of the state weather updates pwt
Author
First Published Sep 23, 2022, 12:04 PM IST

जयपुर. राजस्थान में गुरुवार को कई जिलों में बरसा मानसून प्रदेश में शुक्रवार को भी मेहरबान रहेगा। इस दौरान कई जिलों में हल्की तो कहीं मध्यम से भारी बारिश होगी। इस संबंध में मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर ने कई जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार शुक्रवार को पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर, कोटा, उदयपुर व अजमेर संभागों में अनेक स्थानों पर जबकि पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर और बीकानेर संभाग में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार ज्यादा बारिश की संभावना पूर्वी राजस्थान में ही रहेगी। पश्चिमी राजस्थान में ज्यादातर इलाकों में मौसम साफ रहेगा या हल्के बादल छाए रह सकते हैं।

इन जिलों में हल्की से भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार आज पूर्वी राजस्थान के अलवर, बारां, बूंदी, चित्तौडगढ़़, दौसा, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर और टोंक जिलों में मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ भारी बारिश हो सकती है। जबकि अजमेर, भरतपुर, भीलवाड़ा, जयपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, कोटा व सीकर जिलों में मेघ गर्जन व वज्रपात के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान है।

इसमें तत्कालिक अनुमान के मुताबिक जयपुर, जयपुर शहर, अजमेर, झुंझुनूं, सीकर, टोंक, अलवर ,दौसा, कोटा,टोंक, सवाईमाधोपुर बूंदी, बारां, झालावाड़ तथा चूरू जिलों और आसपास के क्षेत्रों में आगामी तीन घंटों में कहीं-कहीं मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

दो दिन होगी बारिश, कम हुआ पारा
मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में नया निम्न दबाव का क्षेत्र विकसित होने की वजह से प्रदेश में मानसून फिर सक्रीय हुआ है, जिसका असर आगामी दो दिन तक और रहेगा। इससे प्रदेश में मेघ गर्जन व वज्रपात के साथ हल्की तो कहीं मध्यम व तेज बारिश जारी रहेगी। जो मुख्यत: पूर्वी राजस्थान में होगी। इसके बाद बरसात की गतिविधियां कम होना शुरू हो जाएगी। इधर, बरसात की गतिविधियां शुरू होने से पूर्वी राजस्थान में अधिकतम तापमान में भी दो से चार डिग्री की कमी दर्ज हुई है। हालांकि पश्चिमी राजस्थान में इसका खास असर नहीं हुआ। यहां फलौदी में गुरुवार को भी अधिकतम तापमान 39.2 डिग्री दर्ज हुआ।

इसे भी पढ़ें-  Monsoon Update: विदाई से पहले दिल्ली को राहत, नोएडा में तेज बारिश के अलर्ट के बाद 1-8 तक के स्कूलों में छुट्टी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios