Asianet News HindiAsianet News Hindi

उत्तरकाशी में पहाड़ टूट कर गिरने से रस्ते बंदः देशभर के 2 हजार यात्री फंसे, राज्य सरकार ने जारी किया नंबर

उत्तराखंड में गंगोत्री के यात्रा के लिए गए लोगों मुसीबत में फंस गए है। दरअसल वहां एक पर्वत गिर गए है।  गंगोत्री तीर्थ धाम से दर्शन कर लौट रहे थे सभी यात्री। राजस्थान के 600 यात्री मौजूद है। यहां के लोगों के लिए राजस्थान सरकार ने जारी किए फोन नंबर जारी किए गए है।

jaipur news almost 2000 passengers stuck in landslide in uttarakhand rajasthan government issue helpline number asc
Author
First Published Sep 23, 2022, 1:35 PM IST

जयपुर. उत्तरकाशी में पहाड़ टूट कर गिरने से गंगोत्री धाम से लौटने वाले हजारों यात्री फंस गए हैं। लोकल मीडिया के अनुसार वहां करीब 2 हजार से ज्यादा यात्री फंसे हुए हैं ,जिनमें करीब 600 यात्री राजस्थान के हैं। राजस्थान सरकार को इसकी सूचना मिलने के बाद आज सवेरे राजस्थान पुलिस ने स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर रेस्क्यू शुरू कर दिया है।  राजस्थान पुलिस ने वहां फंसे यात्रियों की जानकारी देने के लिए कुछ मोबाइल नंबर भी जारी किए हैं। इन मोबाइल नंबर पर यात्रियों के परिजन फोन करके उनकी कुशल क्षेम पूछ सकते हैं। राजस्थान से एक दल गंगोत्री के लिए रवाना हो गया है। 

पिछले 24 घंटे से बंद है यात्रा
गौरतलब है कि करीब 24 घंटे से यात्रा बंद है । गंगोत्री से लौटने वाले रास्ते पर अचानक हुए भूस्खलन के कारण यह सब हुआ है । राजस्थान के एडीजी एसडीआरएफ  सुष्मित विश्वास ने बताया कि उत्तराखंड में अपने बैचमेट और स्थानीय प्रशासन से वार्ता कर उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।  स्थानीय प्रशासन से बात करने के साथ ही वहां के लोकल लोगों से भी बातचीत की जा रही है और राजस्थान समेत अन्य राज्यों के यात्रियों के लिए भोजन, पानी एवं रहने की समुचित व्यवस्था चल रही है। एसडीआरएफ के कमांडेंट राजकुमार गुप्ता ने बताया कि गुरुवार रात एडीजी विश्वास को कार्यालय मुख्यमंत्री निवास से गंगोत्री धाम उत्तराखंड में दर्शन कर राजस्थान लौट रहे करीब  यात्रियों के उत्तरकाशी जिले में भारी बारिश के कारण फंसे होने की सूचना मिली थी। 

उत्तराखंड के पर्वत गिरे, कोई भी हताहत नहीं
सूचना पर काम करते हुए वहां अपने बैचमेट दीपम सेठ से एवं डी पी वी के प्रसाद से संपर्क कर एडीजी विश्वास ने सारी जानकारी जुटाई। उत्तराखंड प्रशासन के द्वारा बताई गई जानकारी अनुसार अतिवृष्टि के कारण कल शाम से ही उत्तरकाशी और हर्षिल के बीच पहाड़ टूट कर गिरने से सड़कें बंद हो गई है। राजस्थान समेत कई राज्यों के यात्री वहां फंसे हुए हैं। हालांकि अभी तक किसी के भी हताहत होने की जानकारी नहीं मिली है। सभी यात्री सुरक्षित है । स्थानीय प्रशासन एवं होटल मैनेजमेंट के पदाधिकारियों का वहां पर स्थित सभी होटलों को यही कहा गया है कि वे अपने अपने होटल में आने वाले यात्रियों से ज्यादा पैसा नहीं ले।  अपितु रोज की रेट के अनुसार उससे भी कम पैसा ले ताकि फंसे हुए यात्रियों को परेशानी ना हो।

 गंगोत्री धाम के लिए राजस्थान से भीलवाड़ा, अजमेर ,जयपुर समेत अन्य कई जिलों से यात्री गए हुए हैं। यात्रियों के रहने खाने-पीने की उचित व्यवस्था वहां कराई जा रही है। कमांडेंट गुप्ता ने बताया कि लोकल प्रशासन से संपर्क कर वहां के कुछ मोबाइल नंबर जारी किए गए हैं।  इन नंबरों पर फोन कर कर राजस्थान में रहने वाले लोग अपने परिजनों से वार्ता कर सकते हैं।

सहायता की आवश्यकता होने पर निम्न नम्बरों पर सम्पर्क किया जा सकता हैः- 
उत्तरकाशी नियन्त्रण कक्षः- 9411112976
उत्तरकाशी पुलिस नियन्त्रण कक्षः- 8868815266
उत्तरकाशी पुलिस कार्यालयः- 01374-222116
डीआईजी गढ़वाल रेंज कन्ट्रोल रूमः- 0135-2716201
आपदा प्रबंधन नियन्त्रण कक्ष, देहरादूनः- 0135-2710335
उत्तरकाशी पुलिस अधीक्षकः- 9411112733

यह भी पढ़े- राजस्थान में एक और आतंकी संगठन की एंट्री, NIA की चार्जशीट में हुए कई चौकाने वाले खुलासे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios