इतना आसान नहीं भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के साथ चलना: पहले पार करना होगा इस पड़ाव को, जानिए पूरी खबर..

| Nov 30 2022, 11:03 AM IST

इतना आसान नहीं भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के साथ चलना: पहले पार करना होगा इस पड़ाव को, जानिए पूरी खबर..

सार

राजस्थान में 3 दिसबंर के दिन भारत जोड़ो यात्रा प्रवेश करने वाली है। इसके लिए राहुल गांधी के साथ 521 किलोमीटर चलने वाले 500 लोगों को सिलेक्ट किया जाना है। जिनके लिए पार्टी पिछले 2 दिनों से इंटरव्यू लेने में लगी है। जानिए कौन लोग होंगे शामिल।

जयपुर (jaipur). राजस्थान में 5 दिसंबर से कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा (bharat jodo yatra) आ रही है। जो झालावाड़ के रास्ते प्रवेश करेगी और करीब यहां 15 से 16 दिन बाद अलवर के रामगढ़ के रास्ते आगे चली जाएगी। इस भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कांग्रेस लगातार एकजुट लग रही है। पार्टी के नेता अलग-अलग बैठकर लेकर तैयारियों में जुटे हुए हैं। लेकिन इसी बीच प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में 2 दिन इंटरव्यू लिए जा रहे हैं।

राहुल गांधी के साथ यात्रा में चलने वालों के लिए जा रहे इंटरव्यू
यह इंटरव्यू किसी नौकरी के लिए नहीं बल्कि उन 500 लोगों को सिलेक्ट करने के हैं। जो भारत जोड़ो यात्रा में झालावाड़ से लेकर अलवर तक राहुल गांधी के पीछे चलते हुए नजर आएंगे। राजस्थान में इस यात्रा का सफर करीब 521 किलोमीटर का होगा। इस इंटरव्यू के लिए चार लोगों की कमेटी बनाई गई है। जिसमें ललित तूनवाल, रामसिंह कस्वा, कैप्टन अरविंद भी शामिल है। आज भी यह इंटरव्यू दोपहर 11:00 से 3:00 बजे तक चलेगा। इंटरव्यू में पास होने के बाद 500 लोगों को अपना मेडिकल सर्टिफिकेट भी दिखाना होगा जिससे कि यह पता चल सके कि वह पूरी तरह से फिट है। 

Subscribe to get breaking news alerts

कांग्रेस कार्यकर्ता ही दे रहे साक्षात्कार
इंटरव्यू देने वाले 500 लोग और कोई नहीं बल्कि कांग्रेस के कार्यकर्ता ही है। कमेटी ने खुद उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया है। इस दौरान इंटरव्यू में उन्हें पूछा जाता है कि राहुल गांधी कि भारत जोड़ो यात्रा को आप किस नजरिए से देखते हैं। इसके अलावा राजस्थान सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित सवाल कमेटी के लोग कार्यकर्ताओं से करते हैं। आपको बता दें कि इंटरव्यू और मेडिकल सर्टिफिकेट देने के बाद कांग्रेस की इस यात्रा में साथ चलने वाले कार्यकर्ता को एक राजस्थान यात्री का पास दिया जायेगा।

राजस्थान में जब तक भारत जोड़ो यात्रा चलेगी। तब तक वह यात्री इस यात्रा में साथ चलेगा। इतना ही नहीं उसके रहने सोने और खाने की व्यवस्था सभी कांग्रेस के कंटेनर में ही रहेगी। यात्रा पूरी होने के बाद ही वह घर लौटेगा। यात्रा में चलने वाले लोगों के लिए अलग से ड्रेस कोड भी है।

यह भी पढ़े- नजर मिली, हाथ जोड़कर अभिवादन किया और सीएम गहलोत-पायलट का सारा विवाद खत्म, यात्रा को सफल बनाने में होगा फोकस